Home /News /delhi-ncr /

'शमीम पिस्टल' तीसरी बार गिरफ्तार, कश्मीरी सोशल वर्कर की हत्या के लिए मुहैया कराए थे हथियार

'शमीम पिस्टल' तीसरी बार गिरफ्तार, कश्मीरी सोशल वर्कर की हत्या के लिए मुहैया कराए थे हथियार

दिल्ली पुलिस ने शमीम पिस्टल की तीसरी बार गिरफ्तार किया है. कश्मीरी सामाजिक कार्यकर्ता की हत्या में शामिल था.

दिल्ली पुलिस ने शमीम पिस्टल की तीसरी बार गिरफ्तार किया है. कश्मीरी सामाजिक कार्यकर्ता की हत्या में शामिल था.

Delhi Police: कश्मीरी सामाजिक कार्यकर्ता की हत्या के मामले में रोहित ने कुख्यात अवैध हथियार आपूर्तिकर्ता यानी हाजी शमीम उर्फ ​​शमीम पिस्टल से विदेशी हथियारों की व्यवस्था की. हाजी 3 बार गिरफ्तार हो चुका है, उसके बाद भो दुबारा से हथियार सप्लायर बन गया पिछले 15 साल से हथियारों की सप्लाई कर रहा है और 100 से ज्यादा पिस्टल इसके पास से अब तक बरामद हो चुकी हैं.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल (Delhi Police Special Cell) ने कुख्यात हथियार सप्लायर हाजी शमीम उर्फ शमीम पिस्टल (Shamim Pistol) को गिरफ्तार किया है, जो कश्मीरी सामाजिक कार्यकर्ता (Kashmiri Social Worker) की हत्या की साजिश के मामले में वांटेड था, लेकिन हत्या से पहले से आरोपी गिरफ्तार हो गए थे. ये फरार था इसके पास से 5 पिस्तौल और 20 जिंदा कारतूस बरामद किए गए. आरोपी हाजी शमीम उर्फ ​​शमीम पिस्टल कश्मीरी सामाजिक कार्यकर्ता की हत्या की साजिश के मामले में वांटेड था.

26 फरवरी 2021 को सुखविंदर और लखन राजपूत नाम के दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था और पूछताछ के दौरान उन्होंने खुलासा किया था कि वे एक कश्मीरी सामाजिक कार्यकर्ता को मारने के लिए दिल्ली आए थे, जो कश्मीरी पंडितों के लिए बोलता था. वर्तमान मामले में चार और आरोपियों मोहित उर्फ ​​प्रिंस उर्फ ​​तूती, जगदीप उर्फ ​​काका, रोहित चौधरी और हाजी शमीम उर्फ ​​शमीम पिस्टल को गिरफ्तार किया गया है.

आरोपियों से पूछताछ में पता चला साजिश के बारे में 

इन अभियुक्तों से पूछताछ के दौरान साजिश की योजना का पता चला था. आरोपियों में रोहित चौधरी मंगलोरा करनाल का रहने वाला है. रोहित का भाई राहुल भारतीय सेना में कांस्टेबल है और ड्रोन से निपटने में माहिर हैं. उन्हें पंजाब पुलिस ने गिरफ्तार किया था और ड्रोन के जरिए पाकिस्तान से मादक पदार्थों की तस्करी में उनकी भूमिका के लिए जेल में बंद कर दिया गया था. जब राहुल जेल में था तब रोहित को पाकिस्तान से कुछ फोन आए, इन पाकिस्तानी संपर्कों ने उन्हें उसके भाई की रिहाई के लिए हर संभव सहायता देने का आश्वासन दिया.

पाकिस्तानी संपर्कों के जरिए रोमी के संपर्क में आया रोहित

रोहित को अपने भाई की रिहाई के लिए इन पाकिस्तानी संपर्कों से पैसे भी मिले. इन पाकिस्तानी संपर्कों के माध्यम से वह एक रणदीप उर्फ रोमी के संपर्क में आया और अवैध मादक पदार्थों की तस्करी में शामिल हो गया. रोमी पंजाब के अमृतसर का रहने वाला है और प्रतिबंधित आतंकी संगठन खालिस्तान जिंदाबाद फोर्स का सदस्य है. रोमी एक अंतरराष्ट्रीय ड्रग कार्टेल भी चलाता है और उन्हें पाकिस्तान का समर्थन है. रोमी 2014 से फरार है और विदेश में छिपा है.

रोहित के कहने पर काका ने कराई थी कश्मीरी सामाजिक कार्यकर्ता की हत्या

​​रोमी ने कश्मीरी सामाजिक कार्यकर्ता की हत्या का जिम्मा रोहित चौधरी को सौंपा. एक जगदीप उर्फ ​​काका और उसका साथी पंजाब से फरार थे और रोहित द्वारा मुहैया कराई गई जगह पर छिपे थे. मेरठ में छुपकर काका ने भी रोहित के कहने पर मेरठ में हत्या कर दी. रोहित ने आगे काका को कश्मीरी सामाजिक कार्यकर्ता की हत्या के लिए कुछ लड़कों की व्यवस्था करने के लिए कहा और उसे 50 लाख रुपये की पेशकश की. ​​काका खुद हत्या को अंजाम देना चाहते थे लेकिन रोहित ने उन्हें मना किया और कुछ नए चेहरों की व्यवस्था करने को कहा, ताकि किसी भी स्तर पर रोहित को हत्या से जोड़ा न जा सके.

काका ने तूती को सौंपा था हत्या का जिम्मा

काका ने आगे अपने एक पुराने सहयोगी मोहित उर्फ ​​प्रिंस उर्फ तूती को कश्मीरी सामाजिक कार्यकर्ता की हत्या को अंजाम देने के लिए कुछ नए लड़कों की व्यवस्था करने का काम सौंपा और उसे 40 लाख रुपये की पेशकश की. उस समय फरीदकोट जेल में चल रहे तूती ने कश्मीरी सामाजिक कार्यकर्ता की हत्या के लिए दो नए लड़कों लखविंदर और लखन की व्यवस्था की थी. उसने उन्हें रुपये देने का वादा किया था.

इस हत्या के लिए प्रत्येक को 10 लाख मिलने थे लखविंदर और लखन जब पंजाब से टास्क को अंजाम देने के लिए दिल्ली आए तो तूती और एक अज्ञात पहचान दीपक उर्फ ​​किंग के संपर्क में थे. जांच के दौरान ​​काका ने इस अज्ञात पहचान ​​किंग का असली नाम रोहित चौधरी बताया. इस ऑपरेशन के दौरान रोहित द्वारा हथियारों की भी व्यवस्था की गई थी, जिसे हमलावर तक पहुंचाया गया था.

Tags: Delhi News Alert, Delhi police

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर