Assembly Banner 2021

CORONA पॉजिटिव पाया गया शरजील इमाम, असम से दिल्ली लाएगी पुलिस

शरिजल इमाम को दिल्ली लाने के लिए स्पेशल सेल की टीम असम पहुंची है. (फाइल फोटो)

शरिजल इमाम को दिल्ली लाने के लिए स्पेशल सेल की टीम असम पहुंची है. (फाइल फोटो)

जमिया हिंसा मामले (Jamia violence case) में विवादास्‍पद बयान देने वाले शरजील इमाम (Sharjil Imam) को दिल्‍ली लाने के लिए असम पहुंची है स्‍पेशल सेल (Special Cell) की टीम.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 21, 2020, 11:47 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. जामिया हिंसा मामले में विवादास्पद बयान देकर सुर्खियों में आने वाले शरजील इमाम पर दिल्‍ली पुलिस की स्‍पेशल सेल का शिकंजा सकता जा रहा है. शरजील इमाम से पूछताछ करने के लिए स्‍पेशल सेल की एक टीम असम पहुंची है. जहां उसे हिरासत में लेने के बाद स्‍पेशल सेल की टीम ने उससे लंबी पूछताछ की है. वहीं, पूछताछ से पहले स्‍पेशल सेल की टीम ने शरजील इमाम को कोरोना टेस्‍ट भी करवाया था. जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. शरजील इमाम के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद उसे दिल्‍ली लाने की कवायद में अब थोड़ा विलंब होने की संभावना है. पुलिस सूत्रों के अनुसार, इमाम की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ही उसे अब दिल्‍ली लाया जाएगा.

उल्लेखनीय है कि दिल्‍ली पुलिस ने जवाहर लाल नेहरू विश्‍वविद्यालय के पूर्व छात्र शरजील इमाम (Sharjeel Imam) के खिलाफ गैर कानूनी गतिविधि (निरोधक) अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया था. दिल्‍ली पुलिस ने साकेत कोर्ट में अर्जी देकर जांच के लिए निर्धारित 90 दिनों की सीमा में छूट देने की मांग की थी. दिल्‍ली पुलिस की अर्जी को स्‍वीकार करते हुए साकेत कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को जांच पूरी करने के लिए 90 दिन की तय सीमा से अतिरिक्त समय की इजाजत दी गई थी. साकेत कोर्ट के इस फैसले के खिलाफ शरजील इमाम ने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था और कोर्ट से जमानत की गुहार लगाई थी.

हाईकोर्ट ने श‍रजील को जमानत देने से किया था इंकार
हाईकोर्ट ने जमानत अर्जी पर सुनवाई के बाद शरजील इमाम को बड़ा झटका देते हुए जमानत देने से इंकार कर दिया था. राजद्रोह के आरोपों का सामना कर रहे शरजील इमाम ने हाईकोर्ट से डिफॉल्ट जमानत देने की मांग की थी. उल्‍लेखनीय है कि इससे पहले, दिल्ली पुलिस ने दिल्ली हाईकोर्ट में जवाब दाखिल किया था कि शरजील इमाम के खिलाफ जांच के लिए और समय की जरूरत है. इस काम में वॉट्सऐप और टेलीफोनिक कॉल के माध्यम से मदद ली जा रही है. जांच एजेंसी ने कोरोना वायरस के चलते लागू लॉकडॉउन के दौरान शरजील से वॉट्सऐप और टेलिफोनिक कॉल के माध्यम से संपर्क किया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज