दिल्ली में ICU बेड की कमी, सरकार ने 11 अस्पतालों में संख्या बढ़ाने के दिए निर्देश

दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने निर्देश दिए हैं.
दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने निर्देश दिए हैं.

दिल्ली (Delhi) के अस्पतालों में आईसीयू बेड्स (ICU Beds) की परेशानी को देखते हुए राज्य की अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) सरकार ने एक अहम निर्देश दिए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 20, 2020, 1:19 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली (Delhi) के अस्पतालों में आईसीयू बेड्स (ICU Beds) की परेशानी को देखते हुए राज्य की अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) सरकार ने एक अहम निर्देश दिए हैं. सरकार ने अपने 11 अस्पतालों के मेडिकल डायरेक्टर और डायरेक्टर को ऑक्सीजन वाले बेड्स को ICU बेड में अपग्रेड करने कहा है. इससे ICU बेड्स की संख्या बढ़ेगी. साथ ही इस निर्देश पर तत्काल प्रभाव से काम शुरू करने कहा गया है. दिल्ली सरकार के इन अस्पतालों में इस समय कुल 1167 आईसीयू बेड्स हैं, जिनमें से 580 में वेंटिलेटर हैं. जबकि 587 बिना वेंटीलेटर के हैं.

सरकार के निर्देश हैं कि इन अस्पतालों में 22 वेंटिलेटर युक्त आईसीयू बेड बढ़ाए जाएं. जबकि 641 बिना वेंटीलेटर के ICU बेड्स बढ़ाये जाएं. इससे दिल्ली सरकार के अस्पतालों में वेंटिलेटर युक्त आईसीयू की संख्या 602, बिना वेंटीलेटर के आईसीयू बेड 1228 हो जाएगी और कुल संख्या 1830 हो जाएगी. इससे मरीजों को राहत मिलने की उम्मीद जताई जा रही है.





अस्पतालों में कितने आईसीयू बढ़ेंगे
1. लोकनायक अस्पताल- 170 बिना वेंटीलेटर के आईसीयू
2. राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल- 50 बिना वेंटीलेटर के आईसीयू
3. गुरु तेग बहादुर अस्पताल- 232 बिना वेंटीलेटर के आईसीयू
4. सत्यवादी राजा हरिशचंद्र हॉस्पिटल- 4 वेंटिलेटर युक्त आईसीयू और  11 बिना वेंटीलेटर के आईसीयू
5. दीपचंद बंधु हॉस्पिटल- 30 बिना वेंटीलेटर के आईसीयू
6. दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल- 46 बिना वेंटीलेटर के आईसीयू
7. डॉ बाबासाहेब आंबेडकर हॉस्पिटल- 4 वेंटीलेटर युक्त आईसीयू और 48 बिना वेंटीलेटर के आईसीयू
8. बुराड़ी हॉस्पिटल- 10 वेंटीलेटर युक्त आईसीयू और 20 बिना वेंटीलेटर के आईसीयू
9. अंबेडकर नगर हॉस्पिटल- 10 बिना वेंटीलेटर के आईसीयू
10. आचार्य भिक्षु हॉस्पिटल- चार वेंटिलेटर युक्त आईसीयू और 11 बिना वेंटीलेटर के आईसीयू
11. संजय गांधी हॉस्पिटल- 13 बिना वेंटीलेटर के आईसीयू
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज