होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /श्रद्धा वालकर मर्डर केस: आरोपी आफताब पूनावाला को ले जा रही पुलिस वैन पर तलवार से हमला, 2 हिरासत में

श्रद्धा वालकर मर्डर केस: आरोपी आफताब पूनावाला को ले जा रही पुलिस वैन पर तलवार से हमला, 2 हिरासत में

आफताब पूनावाला को ले जा रही दिल्ली पुलिस की वैन पर हमला किया गया. (एएनआई वीडियो ग्रैब))

आफताब पूनावाला को ले जा रही दिल्ली पुलिस की वैन पर हमला किया गया. (एएनआई वीडियो ग्रैब))

Aaftab Poonawala Delhi Police Van: पुलिस ने पूनावाला को 12 नवंबर को गिरफ्तार किया, जिसके बाद उसे पांच दिनों की पुलिस हि ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. श्रद्धा वालकर हत्याकांड के आरोपी आफताब पूनावाला को ले जा रही पुलिस वैन पर सोमवार को कम से कम 2 लोगों ने तलवार लेकर हमला किया. ये दोनों लोग हिंदू सेना से होने का दावा करते हैं. ये हमला रोहिणी स्थित फॉरेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला (एफएसएल) के बाहर किया गया. पूनावाला (28) पर अपनी लिव-इन-पार्टनर श्रद्धा वालकर (27) की हत्या कर उसके शव के 35 टुकड़े करने का आरोप है.

सूत्रों ने बताया कि पूनावाला को पॉलीग्राफ जांच के लिए एफएसएल ले जाया गया था. पुलिस ने बताया कि वैन को मौके से हटा लिया गया है, हमलावरों को हिरासत में ले लिया गया है और हथियार जब्त कर लिए गए हैं. उन्होंने बताया कि घटना शाम को 6:45 पर हुई. आफताब पर हमला करने वालों में करीब 15 लोग शामिल थे और ये सभी आरोपी गुड़गांव से आए थे.

बताया जा रहा है कि हमलावरों का मकसद आफताब की हत्या करने की थी. पुलिस ने 2 लोगों को हिरासत में लिया है. एक का नाम निगम गुज्जर और दूसरे का कुलदीप ठाकुर है. दोनों ही आरोपी गुरुग्राम के रहने वाले हैं. अन्य हमलावरों की तलाश की जा रही है. इनके हिन्दू सेना से होने के दावे की भी जांच की जा रही है. पुलिस ने पूनावाला को 12 नवंबर को गिरफ्तार किया, जिसके बाद उसे पांच दिनों की पुलिस हिरासत में भेजा गया.

पुलिस हिरासत को 17 नवंबर को पांच दिनों के लिए बढ़ा दिया गया. अदालत ने 22 नवंबर को फिर से पूनावाला को चार दिनों की पुलिस हिरासत में भेजा और उसके बाद 26 नवंबर को उसे 13 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया. पुलिस को अभी तक श्रद्धा वालकर की खोपड़ी और शरीर के अन्य हिस्से नहीं मिले हैं.

दिल्ली पुलिस ने कहा था कि आफताब ने दक्षिणी दिल्ली के महरौली इलाके में किराये के अपने फ्लैट में श्रद्धा की गला घोंटकर हत्या की तथा उसके शव के करीब 35 टुकड़े किए जिसे उसने घर पर 300 लीटर के फ्रिज में लगभग तीन सप्ताह तक रखा. वह कई दिन तक आधी रात को उन्हें शहर के विभिन्न इलाकों में फेंकने के लिए जाता रहा. पुलिस ने बताया कि दोनों के बीच वित्तीय मुद्दों को लेकर आए दिन झगड़ा होता था.

ऐसा संदेह है कि दोनों के बीच झगड़ा होने पर ही पूनावाला ने 18 मई की शाम को 27 वर्षीय श्रद्धा वालकर की हत्या कर दी थी. श्रद्धा महाराष्ट्र के पालघर जिले के वसई की निवासी थी. इन दोनों की मुलाकात मुंबई में डेटिंग ऐप ‘बम्बल’ के जरिए हुई थी. इसके बाद उन्होंने मुंबई में एक कॉल सेंटर में साथ काम करना शुरू किया और दोनों के बीच वहीं से प्रेम संबंध शुरू हुए. बाद में वे दिल्ली आ गए थे.

Tags: Delhi police, Shraddha murder case, Shraddha walkar

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें