दिल्‍ली से चलना बंद हुईं श्रमिक स्‍पेशल ट्रेनें, केजरीवाल सरकार नहीं कर रही मांग
Delhi-Ncr News in Hindi

दिल्‍ली से चलना बंद हुईं श्रमिक स्‍पेशल ट्रेनें, केजरीवाल सरकार नहीं कर रही मांग
दिल्‍ली से श्रमिक स्‍पेशल ट्रेनें बंद हुईं.

रेलवे ने जानकारी दी कि दिल्‍ली से अंतिम बार 31 मई को श्रमिक स्‍पेशल ट्रेनें (Shramik Special Train) चलाई गई थीं.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) के कारण लगाए गए लॉकडाउन में देश के विभिन्‍न हिस्‍सों में फंसे प्रवासी मजदूरों (Migrant Workers) को घर पहुंचाने के लिए रेलवे की ओर से राज्‍यों के साथ मिलकर 1 मई से श्रमिक स्‍पेशल ट्रेनें (Shramik Special Train) चलाई गई थीं. अब दिल्‍ली से इन ट्रेनों का संचालन बंद कर दिया गया है. रेलवे के मुताबिक दिल्‍ली की केजरीवाल सरकार की ओर से इन ट्रेनों के संबंध में नई मांग नहीं किए जाने के कारण ऐसा किया गया है.

रेलवे के अधिकारियों ने जानकारी दी कि दिल्‍ली से अंतिम बार 31 मई को श्रमिक स्‍पेशल ट्रेनें चलाई गई थीं. ये ट्रेनें आनंद विहार से पूर्णिया, आनंद विहार से भागलपुर, हजरत निजामुद्दीन से महोबा के लिए चलाई गई थीं.

 



रेलवे के मुताबिक दिल्‍ली से 1 मई से 31 मई के बीच 242 श्रमिक स्‍पेशल ट्रेनें चलाई गईं. इनमें से 101 उत्‍तर प्रदेश और 111 बिहार के लिए संचालित हुईं.

 



इसके साथ ही श्रमिक स्‍पेशल ट्रेनों के समापन की ओर बढ़ने के बीच रेलवे के आंकड़े से पता चलता है कि एक मई से 31 मई तक 4040 श्रमिक स्‍पेशल ट्रेन चलाई गईं और राज्यों द्वारा 256 रेलगाड़ियां रद्द की गईं. ऐसा करने वालों में महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक एवं उत्तर प्रदेश सबसे आगे रहे.

 



आंकड़े के अनुसार महाराष्ट्र ने 105, गुजरात ने 47, कर्नाटक ने 38 तथा उत्तर प्रदेश ने 30 ट्रेन रद्द की. एक मई से इस बुधवार तक रेलवे ने 4197 श्रमिक ट्रेन चलाईं. उनमें से 4116 ट्रेन अपनी यात्री पूरी कर चुकी हैं जबकि 81 रास्ते में हैं. अब केवल 10 और श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलने वाली हैं.

यह भी पढ़ें:-

VIDEO: महाराष्ट्र में चक्रवात निसर्ग का तांडव, एक झटके में उड़ गई मकान की छत


रिलीज हुआ जुबिन नौटियाल का रोमांटिक गाना 'मेरी आशिकी', मिले लाखों व्यूज
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading