Home /News /delhi-ncr /

sidhu moose wala murder case exclusive report plot to kill musewala was hatched in a luxurious house nodvm

खेतों के बीच बने आलीशान घर में रची गई थी मूसेवाला की हत्या की साजिश, पढ़िए ये Exclusive रिपोर्ट

पुलिस टीम ने इसी घर से 2 लड़कों नवदीप और मनीष को हिरासत में लिया है जिनसे हुई पूछताछ के बाद प्रदीप नाम के एक शख्स की गिरफ्तारी फतेहाबाद से की है.

पुलिस टीम ने इसी घर से 2 लड़कों नवदीप और मनीष को हिरासत में लिया है जिनसे हुई पूछताछ के बाद प्रदीप नाम के एक शख्स की गिरफ्तारी फतेहाबाद से की है.

Sidhu Moose Wala: हरियाणा के किरमारा गांव में प्रियव्रत उर्फ फौजी और उसका साथी अंकित रुके थे. ये दोनों सिद्धू की हत्या से पहले इस घर मे फतेहाबाद के होटल कारोबारी प्रदीप के साथ पहुंचे थे, क्योंकि प्रदीप नाम के कार डीलर का इस घर मे आना जाना था. इसी परिवार के 2 लड़कों से उसकी दोस्ती भी थी जिन्हें दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की टीम रविवार को दबिश देकर यहां से अपनी हिरासत में लेकर गई है.

अधिक पढ़ें ...

सोनपीत. पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड मामले में फिर एक नया सुराग मिला है. जानकारी मिली है कि हरियाणा के एक आलीशान घर के कमरे में खतरनाक साजिश रची गई थी. इसी घर के अंदर ऑटोमेटिक हथियारों को भी छिपाकर रखा गया था. परिवार की महिला ने बताया कि 2 लोग आए थे. घर के अंदर ही सिद्धू मूसवाला की हत्या से पहले शूटरों ने बड़ी मीटिंग की थी और हत्या की साजिश रची थी.  कितने हथियारों की जरूरत शूटरों को होगी सिर्फ उन हथियारों को रखा गया था. बाकी के ग्रेनेड, Ak 47 के पार्ट्स, पिस्टल और डेटोनेटर इसी घर के अंदर बने स्टोर रूम में छिपाए गए थे.

हरियाणा के किरमारा गांव में प्रियव्रत उर्फ फौजी और उसका साथी अंकित रुके थे. ये दोनों सिद्धू की हत्या से पहले इस घर में फतेहाबाद के होटल कारोबारी प्रदीप के साथ पहुंचे थे, क्योंकि प्रदीप नाम के कार डीलर का इस घर मे आना जाना था. इसी परिवार के 2 लड़कों से उसकी दोस्ती भी थी जिन्हें दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की टीम रविवार को दबिश देकर यहां से अपनी हिरासत में लेकर गई है.

परिवार के लोगों ने शूटरों को पहचानने से किया इनकार
दरअसल, मूसेवाला के हत्यारों ने जिस घर मे सारी रात छिपकर काटी और साजिश रची उस घर में पहुंचा है न्यूज 18 इंडिया. ये घर रमेश नाम के एक शख्स का है जो कार खरीदने बेचने का काम करते हैं, जिनके 2 बेटे नवदीप और मनीष भी यही काम करते हैं. कार डीलिंग में ही इनकी पहचान फतेहाबाद के रहने वाले प्रदीप नाम के शख्स से हुई जो अक्सर इनके घर आता था. वहीं प्रियव्रत फौजी और अंकित लो लेकर आया था लेकिन परिवार के लोगों ने इन शूटरों को पहचानने से इनकार कर दिया.

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने रविवार को यहां छापा मारा था
सूत्रों के मुताबिक, ये शूटर इस घर के अंदर सिद्धू मूसेवाला की हत्या से पहले एक कमरे में बैठकर चाय पानी और खाकर भी गए थे. इसी दौरान ये कई घंटे इस आलीशान घर के अंदर रहे और उन्होंने अपने साथ लाए ग्रेनेडस, लॉन्चर और पिस्टल, AK 47 के पार्ट्स को इसी घर के अंदर बैग में रखकर छिपा दिया. इन हमलावरों ने देश के एक नामी सिंगर की ताबड़तोड़ गोलियां मारकर हत्या कर दी थी लेकिन इस घर मे रहने वालों को उनके इस काले कारनामे का बिल्कुल भी अंदाजा नही था. इसका खुलासा तब हुआ जब दिल्ली पुलिस के हत्थे 2 शूटर लगे जिसमें से एक मुख्य शूटर प्रियव्रत उर्फ फौजी ने खुलासा किया था कि वो सिद्धू की हत्या से पहले हरियाणा के किरवारा में आया था. इसके बाद वहां पर आधुनिक हथियार भी छिपाए थे, जिसके बाद दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने रविवार को यहां छापा मारा था.

खेतों के बीच बने इस घर का खुलासा हुआ
पुलिस टीम ने इसी घर से 2 लड़कों नवदीप और मनीष को हिरासत में लिया है जिनसे हुई पूछताछ के बाद प्रदीप नाम के एक शख्स की गिरफ्तारी फतेहाबाद से की है. इन हथियारों को रखने के बाद ये शूटर इनके घर मे कभी नही आए. गांवों के बीच मे किसी को इनके होने की जानकारी भी नहीं लगती थी और ये आराम से वहां अपना समय काटकर आगे बढ़ जाते थे. रविवार को जब दिल्ली पुलिस यहां पहुंची और इस घर के 2 लड़कों को पकड़ कर लेकर गई तब जाकर गांव के अंदर खेतों के बीच बने इस घर का खुलासा हुआ.

घर की महिला ने किया खुलासा
न्यूज़ 18 इंडिया की टीम को परिवार की महिला ने खुलासा किया कि उनके घर प्रदीप नाम के जानकार के साथ 2 लड़के आए थे लेकिन वो उन्हें नही जानती थी वो यहां पर तब आए जब उनके पति रमेश की तबियत खराब थी और वो अपने बेटों के साथ अस्पताल में थे. महिला ने उन्हें चाय पिलाई और खाना खिलाया जिसके बाद कुछ घण्टे आराम करके अंधेरे में वो सभी चले गए.  परिवार की महिला ने हथियारों की जानकारी होने से इनकार किया है. वहीं महिला के पति रमेश ने भी वहीं बातें दोहराते हुए अपने मित्र प्रदीप के ऊपर ठीकरा फोड़ा.

आगे की पूछताछ जारी है
इस घर मे साजिश रचने और बचे हुए हथियारों को घर के स्टोर रूम में छिपाकर प्रियव्रत फौजी और अंकित वहां से निकल गए ताकि दूसरे शूटरों को भी इस साजिश का हिस्सा बनाया जा सके. प्रियव्रत फौजी से पूछताछ के बाद हरियाणा के किरवारा और फतेहाबाद से 4 लोग दिल्ली पुलिस की गिरफ्त में हैं. इनसे सिद्धू मूसेवाला मर्डर मिस्ट्री में लॉजिस्टिक सपोर्ट के संकेत मिले हैं. आगे की पूछताछ जारी है.

Tags: Gangster Lawrence Vishnoi, Sidhu Moose Wala

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर