Lockdown 4.0: दिल्‍ली सरकार का दावा, 7 मई से अब तक UP-बिहार और झारखंड के 241000 लोग भेजे गए घर

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया
दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया

दिल्‍ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा है कि मजदूरों को कम से कम परेशानी हो इसके लिए मुख्यमंत्री केजरीवाल (Arvind Kejriwal) लगातार प्रयास कर रहे हैं. अगर कोई भी दिल्ली में है तो वो हमारी ज़िम्मेदारी है.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. कोरोना वायरस की वजह से देशभर में जारी लॉकडाउन के बीच प्रवासी मजदूरों (Migrant Workers) को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. इस बीच दिल्‍ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा है कि मजदूरों को कम से कम परेशानी हो इसके लिए मुख्यमंत्री केजरीवाल (Arvind Kejriwal) लगातार प्रयास कर रहे हैं. अगर कोई भी दिल्ली में है तो वो हमारी ज़िम्मेदारी है. हालांकि लॉकडाउन खुलने के बाद सबका काम फिर शुरू हो गया जायेगा, लेकिन कुछ लोग ऐसे हैं जो घर लौटना चाहते थे, सरकार उनकी मदद कर रही है और अब तक 2 लाख 41 हज़ार लोगों को ट्रेन के जरिए गांव भेजा जा चुका है.

दिल्‍ली सरकार ने किया ये दावा
दिल्‍ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि अब‍ तक 241000 प्रवासी मजदूर उत्‍तर प्रदेश, बिहार और झारखंड भेजे गए हैं. इसमें बिहार के 1 लाख 25 हजार, यूपी के 96,610 और झारखंड के 3,000 लोग शामिल हैं. साथ ही कहा कि इस सब पर केजरीवाल खुद नजर बनाये हुए हैं. उन्हें इनके घरों से लाकर स्कूल में रखा जाता है और फिर स्क्रीनिंग होने के बाद रेलवे स्टेशन ले ज़ाया जाता है. यही नहीं, रास्ते के लिए भी खाना दिया जाता है. जबकि अब तक दिल्‍ली सरकार प्रवासी मजदूरों के लिए 196 ट्रेनों का प्रयोग कर चुकी है. साथ ही सिसोदिया ने कहा कि जो भी लोग पैदल जा रहे थे. उनके दर्द को देखते हुए उनको भेजने का फ़ैसला लिया. जबकि अलग अलग राज्‍यों के लिए आज भी 18 ट्रेनें निकल रही हैं.

किसी नहीं लिया एक भी रुपया
मनीष सिसोदिया नेकहा कि इसके लिए दिल्ली सरकार ने पेमेंट किया है और किसी से भी कोई पैसा नहीं लिया जा रहा है. जबकि आगे भी लोगों को भेजा जायेगा वो सिर्फ अपना रजिस्ट्रेशन कराते रहें. साथ ही कहा कि किसी को पैदल जाने की जरूरत नहीं है. हम सबको भेजने की पूरी कोशिश कर रहे हैं. उन्‍होंने बताया कि दिल्‍ली में  रोजाना करीबन 10 लाख लोगों को खाना खिलाया जा रहा है. इसके अलावा कच्चा राशन भी बांटा जा रहा है.



प्रभावित परिवारों को मिलेगी मदद
इसके अलावा सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली की झुग्गियों में आज आग लग गयी थी. इससे क़रीबन 500 परिवार प्रभावित हुए हैं. दिल्‍ली सरकार उनको 25-25 हजार की सहायता राशि देने के साथ उनके खाने पीने की व्यवस्था भी करेगी. यही नहीं, आसपास के स्कूल में उनके रहने की वय्वस्था की जा रही है.

ये भी पढ़ें

मरकज मामला: दिल्ली के साकेत कोर्ट में 83 जमातियों के खिलाफ चार्जशीट दायर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज