अब नोएडा की हाउसिंग सोसाइटी में Corona Positive मिलने पर सिर्फ सिंगल टॉवर होंगे सील
Delhi-Ncr News in Hindi

अब नोएडा की हाउसिंग सोसाइटी में Corona Positive मिलने पर सिर्फ सिंगल टॉवर होंगे सील
गौतमबुद्धनगर जिले में बुधवार शाम तक 362 संक्रमितों की जानकारी मिली है. (फाइल फोटो)

यूपी (UP) के गौतमबुद्धनगर जिले के नोएडा (Noida) में किसी भी हाउसिंग सोसाइटी (Housing Society) में कोरोना संक्रमित मरीज के मिलने के बाद पूरी सोसाइटी को सील किया जा रहा था. लेकिन अब लोगों की समस्याओं को देखते हुए इस निर्णय को बदला गया है.

  • Share this:
नोएडा. यूपी (UP) के गौतमबुद्धनगर जिले के नोएडा (Noida) में किसी भी हाउसिंग सोसाइटी (Housing Society) में कोरोना संक्रमित मरीज के मिलने के बाद पूरी सोसाइटी को सील किया जा रहा था. लेकिन अब लोगों की समस्याओं को देखते हुए इस निर्णय को बदला गया है. जानकारी के मुताबिक कोविड -19 पॉजिटिव मरीज के मिलने के बाद अब प्रशासन एक पूरी हाउसिंग सोसाइटी की जगह केवल सिर्फ टावर को सील करेगा. इस तरह का निर्णय राज्य सरकार के एक आदेश के बाद लिया गया है. इस आदेश में सरकार ने कंटेनमेंट जोन की सीमांकन से संबंधित नियमों में बदलाव किया है. गौरतलब है कि बुधवार शाम तक गौतमबुद्धनगर जिले में 362 संक्रमितों की जानकारी मिली है. इनमें से 234 पूरी तरह संक्रमण से बाहर आ चुके हैं. जबकि संक्रमण से 5 लोगों की मौत हो चुकी है.

फिर से परिभाषित किया गया है शहरी क्षेत्रों में कंटेनमेंट जोन
इस संबंध में डीएम सुहास एलवाई ने अपने एक आदेश में कहा कि राज्य सरकार से परामर्श करने के बाद शहरी क्षेत्रों में कंटेनमेंट जोन को फिर से परिभाषित किया गया है. अगर किसी बहुमंजिला इमारत में कोरोना एक मामला सामने आता है तो हाउसिंग सोसाइटी के इस विशेष टॉवर को सील कर दिया जाएगा. यदि एक से अधिक मामले या क्लस्टर हैं तो इस संबंध में पहले के आदेश के अनुसार, 500-मीटर का कंटेनमेंट एरिया और 250 मीटर के बफर ज़ोन को चिह्नित करने का क्रम जारी रहेगा.

डीएम के अनुसार, हाउसिंग सोसाइटीज़ के टावरों में जहां एक क्लस्टर 500 मीटर के दायरे के बाहर मौजूद होता है, वे कंटेनमेंट जोन का हिस्सा नहीं होंगे. माना जा रहा है कि यह कदम कई आरडब्ल्यूए और हाउसिंग सोसाइटी में रहने वाले लोगों के विरोध के बाद उठाया गया है.
सुपरटेक इको विलेज में प्रशासन से हुई थी बहस


इंडियन एक्सप्रेस की एक खबर के अनुसार, नोएडा के सुपरटेक इको विलेज 1 में रहने वाले लोगों और पुलिस के बीच सोमवार रात को बहस शुरू हो गई थी. जब प्रशासन तीन पॉजिटिव केस की जानकारी मिलने के बाद मौके पर सोसाइटी को सील करने पहुंची. यहां के निवासियों का कहना था कि कोरोना संक्रमण के कुछ मामले मिलने के बाद उनकी आवाजाही पर किसी भी तरह की रोक नहीं लगानी चाहिए. पुलिस ने इन लोगों को समझाकर वापस भेजा और सोसाइटी को सील कर दिया.

 

ये भी पढ़ें: नोएडा-दिल्ली बॉर्डर पर फिर लगा लंबा जाम, बिना पास के नहीं हो रही एंट्री
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज