लाइव टीवी

JNU हिंसा: एसआईटी ने शुरू की आरोपी छात्रों से पूछताछ, नहीं पहुंची आईशी घोष
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: January 13, 2020, 1:31 PM IST
JNU हिंसा: एसआईटी ने शुरू की आरोपी छात्रों से पूछताछ, नहीं पहुंची आईशी घोष
SIT की पूछताछ के लिये नहीं पहुंची JNUSU अध्यक्ष आईशी घोष (फाइल फोटो)

SIT द्वारा की जा रही पूछताछ में छात्र पंकज मिश्रा (Pankaj Mishra) ने कहा कि मैं किसी दल से नहीं हूं. मैं एमफिल का छात्र हूं. उस दिन मैं वहां से निकल रहा था तभी किसी ने मेरा फोटो खींच कर डाल दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 13, 2020, 1:31 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में हुई हिंसा के मामले में क्राइम ब्रांच की एसआइटी (SIT) ने जांच तेज कर दी है. मामले में शुक्रवार को जिन नौ लोगों की तस्वीरें जारी की थीं, SIT की टीम आज उनसे पूछताछ कर रही है. इनमें छात्र संघ (जेएनयूएसयू) अध्यक्ष आइशी घोष (Aishe Ghosh) भी शामिल हैं, लेकिन वह अभी तक पूछताछ के लिये नहीं पहुंची हैं. जबकि उन्हें 11:30 बजे का समय दिया गया था.

पूछताछ में छात्र ने कहा- मैं किसी दल का नहीं
एसआईटी का कहना है कि आइशी पुलिस से बात नहीं कर रहीं हैं, लेकिन मीडिया या अन्य माध्यम से अपनी बात जरूर रख रहीं हैं. वहीं, SIT द्वारा की जा रही पूछताछ में छात्र पंकज मिश्रा ने कहा कि मैं किसी दल से नहीं हूं. मैं एमफिल का छात्र हूं. उस दिन मैं वहां से निकल रहा था तभी किसी ने मेरा फोटो खींच कर डाल दिया.

अलग-अलग समय पर बुलाया गया

पुलिस ने सभी को अलग-अलग समय पर पूछताछ के लिए बुलाया है. सभी को पूछताछ के लिये कमला मार्केट स्थिति क्राइम ब्रांच के SIT दफ्तर आने को कहा है. नोटिस मिलने वाले लोगों में अगर कोई पूछताछ में शामिल नहीं होता है तो उसे फिर नोटिस भेजा जाएगा.

धारा 160 के तहत भेजा गया नोटिस
एसआइटी ने शनिवार को वामपंथी छात्र संगठनों से जुड़े सात व दक्षिणपंथी छात्र संगठनों से जुड़े दो छात्रों को पूछताछ में शामिल होने के लिए सीआरपीसी की धारा 160 के तहत नोटिस भेजा था. एसआइटी ने शुक्रवार को इन सभी के फोटो जारी करते हुए दावा किया था ये लोग पांच जनवरी को जेएनयू परिसर में हुई हिंसा में शामिल थे.इन छात्रों से होनी है पूछताछ
गौरतलब है कि, आरोपियों में JNU के पूर्व छात्र चुनचुन कुमार, JNUSU प्रेजिडेंट आईशी घोष, डोलन समान्ता, विकास विजय, प्रिया रंजन, सुचेता तालुकदार, पंकज मिश्रा, योगेंद्र भारद्वाज, विकास पटेल का नाम जारी करते हुए दिल्ली पुलिस ने बताया था कि इन सभी लोगों के खिलाफ सबूत जुटाने में सीसीटीवी कैमरों ने मदद की. इन छात्रों में से 7 लेफ्ट जबकि 2 योगेंद्र भारद्वाज और विकास पटेल छात्र संगठन ABVP से जुड़े बताए जा रहे हैं.

ये भी पढ़ें: JNU हिंसा : दिल्ली पुलिस ने जारी किए 9 लोगों के नाम, 7 लेफ्ट और 2 ABVP के

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 13, 2020, 1:30 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर