COVID-19: गौतमबुद्ध नगर में कोरोना के 6 और नए मामले सामने आए, संक्रमितों की संख्‍या बढ़कर हुई 236
Delhi-Ncr News in Hindi

COVID-19: गौतमबुद्ध नगर में कोरोना के 6 और नए मामले सामने आए, संक्रमितों की संख्‍या बढ़कर हुई 236
यूपी के 75 जिलों में फैला कोरोना. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

गौतम बुद्ध नगर (Gautam Buddha Nagar) में बुधवार को कोविड-19 (COVID-19) के छह नए मामले सामने आए. इसके साथ ही जिले में संक्रमितों लोगों की कुल संख्या बढ़कर 236 हो गयी है.

  • Share this:
नोएडा. उत्‍तर प्रदेश के गौतम बुद्ध नगर (Gautam Buddha Nagar) में बुधवार को कोविड-19 (COVID-19) के छह नए मामले सामने आए. इसके साथ ही जिले में संक्रमितों लोगों की कुल संख्या बढ़कर 236 हो गयी है. हालांकि अब तक 143 मरीज ठीक चुके हैं तो 90 मरीजों का जिले के कई अस्पतालों में इलाज चल रहा है.

जिला निगरानी अधिकारी ने कही ये बात
गौतमबुद्ध नगर के जिला निगरानी अधिकारी डाक्टर सुनील दोहरे ने बताया कि बुधवार को 167 लोगों की रिपोर्ट आई जिसमें छह मरीज कोविड-19 से संक्रमित मिले हैं. जबकि कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों में से एक डॉक्टर हैं जो बुलंदशहर में तैनात हैं. उन्होंने बताया कि कोविड-19 से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 236 हो गई है और 143 मरीज ठीक होकर घर लौट चुके हैं. वहीं, 90 कोरोना मरीजों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है. जबकि गौतमबुद्ध नगर कोविड-19 के संक्रमण से अब तक तीन लोगों की मौत हो चुकी है.

उत्तर प्रदेश में कोरोना के 1744 एक्टिव मरीज
उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के एक्टिव मरीजों की 1744 है, वहीं 1902 मरीज उपचारित होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं. प्रदेश के प्रमुख सचिव, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में आरोग्य सेतु ऐप का लगातार उपयोग किया जा रहा है. जो भी अलर्ट जनरेट होते हैं, उन्हें जिलों के साथ शेयर किया जाता है और जिलों में लोगों से सम्पर्क करके हाल-चाल व जानकारी प्राप्त की जाती है. इसके अतिरिक्त हम लोग अपने राज्य के कंट्रोल रूम से भी ऐसे लोगों से सम्पर्क कर रहे हैं और इनका हाल-चाल पूछ रहे हैं व आवश्यक सलाह भी दे रहे हैं.



लक्षण महसूस हों तो करें हेल्पलाइन नंबर पर कॉल
प्रमुख सचिव अमित मोहन प्रसाद ने कहा कि यदि किसी को भी लक्षण महसूस होते हैं तो वे हेल्पलाइन नम्बर- 1800 180 5145 पर फोन करके जानकारी प्राप्त कर सकते हैं. अगर हमारे विशेषज्ञ बताएं कि आपको अपना परीक्षण कराना चाहिए तो आप अपना परीक्षण जरूर कराएं. अगर कोई पॉजिटिव आता है तो उनकी चिकित्सा की व्यवस्था की जाएगी. उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रामक बीमारी है, किसी को भी हो सकती है, इसलिए इसमें किसी प्रकार की हीनता या लज्जा का कोई प्रश्न नहीं उठता है. अगर किसी को कोई लक्षण महसूस होते हैं तो वह तत्काल सामने आए. अगर कोई पॉजिटिव हुआ तो उसका निःशुल्क परीक्षण व इलाज, राज्य सरकार करवाएगी.

ये भी पढ़ें

प्रियंका गांधी ने CM योगी को लिखा पत्र, किसान-गरीब की मदद के लिए दिए सुझाव
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज