लाइव टीवी

Lockdown के दौरान गाजियाबाद पुलिस ने जब्त की 1600 गाड़ियां, वसूला 11 लाख से ज्यादा जुर्माना
Delhi-Ncr News in Hindi

भाषा
Updated: May 21, 2020, 7:19 AM IST
Lockdown के दौरान गाजियाबाद पुलिस ने जब्त की 1600 गाड़ियां, वसूला 11 लाख से ज्यादा जुर्माना
एसएसपी ने बताया कि एक लाख से अधिक वाहनों की जांच की गयी. (प्रतीकात्मक फोटो)

कोरोना संकट (Corona Crisis) के दौरान लॉकडाउन का उल्लंघन करना (Lockdown Violation) गाजियाबाद (Ghaziabad) के लोगों को काफी महंगा पड़ा. गाजियाबाद पुलिस (Ghaziabad Police) ने इस दौरान कार्रवाई कर कई गाड़ियों को जब्त किया.

  • Share this:
गाजियाबाद. गाजियाबाद पुलिस (Ghaziabad Police) ने मार्च में कोरोना वायरस (Covid-19) के चलते लागू किए गये प्रतिबंधों के बाद से लॉकडाउन मानकों का उल्लंघन (Lockdown Violation) करने के आरोप में अभी तक 1600 वाहनों को जब्त किया है. एसएसपी कलानिधि नैथानी ने मीडिया को बताया कि सड़कों पर 126 अवरोध बनाये गये और एक लाख से अधिक वाहनों की जांच की गयी. इस दौरान 1,648 वाहनों को जब्त किया गया और 45,910 वाहनों के मालिकों पर कुल 11 लाख रूपये से अधिक का जुर्माना लगाया गया.

एसएसपी ने बताया कि भारतीय दंड संहिता की संबद्ध धाराओं के तहत इस सिलसिले में 754 मामले दर्ज किये गये और 3,778 लोगों के नाम प्रकरण में दर्ज किए गये. इस दौरान आपात सेवाओं के लिए 11 हजार परमिट जारी किए गए.

लॉकडाउन ने बदली थी गाजियाबाद की तस्वीर
कोरोना संकट के कारण यूपी और एनसीआर में आने वाले गाजियाबाद शहर और जिले में लॉकडाउन लागू रहा. इस दौरान संक्रमण के बढ़ते मामले के कारण प्रशासन ने सतकर्ता बरतना शुरू किया. जिला प्रशासन ने वाहनों की आवाजाही पर भी रोक लगायी. ताकि इस खतरनाक वायरस के संक्रमण की चपेट में लोग नहीं आ सके. बता दें, गाजियाबाद में बड़ी संख्या में वैसे लोग भी रहते हैं जो राष्ट्रीय राजधानी के अलावा अन्य शहरों में नौकरी के लिये भी जाते हैं. इसी बीच जिला प्रशासन ने आवश्यक सेवाओं के अलावा अन्य लोगों की एंट्री पर को भी प्रतिबंधित किया था.



 



लॉकडाउन 4.0 का 13 दिनों तक विस्तार हुआ
कोरोना संक्रमण को रोकने के लिये केंद्र सरकार ने लॉकडाउन की घोषणा की थी. जो लगभग दो महीनों से जारी है. इसका चौथी बार विस्तार किया गया है. अब लॉकडाउन 31 मई तक जारी है. लेकिन राज्य शासन जरूरत के हिसाब से इसमें रियायत दे सकती है. केंद्र सरकार की गाइडलाइन में इस तरह के प्रावधान हैं. दरअसल, लॉकडाउन के कारण आम लोगों का जीवन प्रभावित हुआ. साथ ही अर्थवयवस्था को भी काफी नुकसान हुआ है. लेकिन अब धीरे धीरे आमजनों के जीवन को पटरी पर आने की उम्मीद जतायी जा रही है.

 

 

ये भी पेढ़ें:

गाजियाबाद बना देश का दूसरा सबसे ज्यादा प्रदूषित शहर, जानें अपने इलाके का हाल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 21, 2020, 4:52 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading