अपना शहर चुनें

States

दिल्‍ली में 5000 करोड़ की लागत से बनेगा Smart IT Park, 15 लाख लोगों को मिलेगा रोजगार!

मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने काम को तेजी से शुरू करने के निर्देश दिए हैं. (फाइल फोटो)
मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने काम को तेजी से शुरू करने के निर्देश दिए हैं. (फाइल फोटो)

Delhi Smart IT Park : 147 एकड़ भूमि पर करीब 5,000 करोड़ रुपए की लागत से विकसित होने वाले स्मार्ट एकीकृत आईटी पार्क में करीब 30 बिल्डिंग ब्लाॅक होंगे. पूरी तरह से प्रदूषण रहित होगा. आईटी, मीडिया, मेडिकल, बिजनेस सर्विस एंटरप्राइजेज आदि की स्थापना की जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 23, 2021, 11:24 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली सरकार (Delhi Government) मुंडका के रानीखेड़ा में 147 एकड़ भूमि पर 5000 करोड़ की लागत से प्रस्तावित स्मार्ट आईटी पार्क ( IT Park) विकसित करेगी. दो चरणों में विकसित किए जाने वाले इस पार्क के पहले चरण को 2023 तो दूसरे चरण का कार्य 2025 में पूरा किया जाएगा. पार्क विकसित होने के बाद करीब 1.5 लाख लोगों को सीधे तौर और 13.5 लाख लोगों को अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलने का अनुमान है. पार्क को विकसित करने की जिम्मेदारी दिल्ली सरकार के डीएसआईआईडीसी (DSIIDC) विभाग को दी गई है.


दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने अपने आवास पर रानीखेड़ा टेक्नोलॉजी पार्क को विकसित करने और औद्योगिक क्षेत्र में चल रहे पुनर्वास पुर्न विकास कार्यों की समीक्षा की. इसको लेकर बुलाई गई हाई लेवल मीटिंग के दौरान सीएम केजरीवाल ने डीएसआईआईडीसी के अफसरों को दिशा निर्देश दिए हैं कि वह जल्द से जल्द वह इस कार्य को तय सीमा के भीतर पूरा करें साथ ही से संबंधित टेंडर आदि की प्रक्रिया की कार्रवाई को जल्द शुरू करें.


अधिकारियों को यह भी निर्देश दिया है कि जिन औद्योगिक क्षेत्रों में ड्रेनेज और सड़क आदि की पुनर्विकास का कार्य चल रहा है उसे भी तय समय के भीतर पूरा किया जाए. मीटिंग में दिल्ली के उद्योग मंत्री सत्येंद्र जैन भी प्रमुख रूप से मौजूद रहे.


मई 2021 में शुरू होगा टेक्नोलाॅजी पार्क का विकास कार्य


डीएसआईआईडीसी के अधिकारियों ने बताया कि  टेक्नोलाॅजी पार्क बनाने के लिए संबंधित सरकारी विभागों से सभी जरूरी एनओसी मिल चुकी है. इसमें बिल्डिंग की उंचाई, फायर, निर्माण कार्य, ड्रेनेज, सीवेज आदि की एनओसी शामिल हैं. टेक्नोलाॅजी पार्क दो चरणों में बनाया जाना है. पहले चरण का निर्माण कार्य मई 2021 में शुरू होगा जो मई 2023 तक पूरा कर लिया जाएगा. वहीं, दूसरे चरण का कार्य मई 2023 में शुरू होगा जिसे मई 2025 में पूरा कर लिया जाएगा.


टेक्नोलाॅजी पार्क में क्या-क्या होगा खास
147 एकड़ भूमि पर करीब 5,000 करोड़ रुपए की लागत से विकसित होने वाले स्मार्ट एकीकृत आईटी पार्क में करीब 30 बिल्डिंग ब्लाॅक होंगे. पूरी तरह से प्रदूषण रहित होगा. साथ ही आधुनिक, उच्च मूल्य, ज्ञान आधारित औद्योगिक इकाइयों जैसे आईटी, आईटीईएस, मीडिया, बायोटेक्नोलॉजी, मेडिकल, बिजनेस सर्विस एंटरप्राइजेज, रिसर्च एंड इनोवेशन हब की स्थापना, फाइनेंशियल सर्विस हब, डिजाइन हब से लैस पार्क होगा.


इन औद्योगिक क्षेत्रों में चल रहे पुनर्विकास कार्य
अधिकारियों ने बताया कि ओखला औद्योगिक क्षेत्र फेस-2, मंगोलपुरी औद्योगिक एरिया, मायापुरी औद्योगिक क्षेत्र, उद्योग नगर औद्योगिक क्षेत्र, पटपड़गंज औद्योगिक क्षेत्र, झिलमिल औद्योगिक क्षेत्र, झंडेवालान औद्योगिक क्षेत्र, लाॅरेंस रोड औद्योगिक क्षेत्र, कीर्ति नगर औद्योगिक क्षेत्र, जीटीके रोड औद्योगिक क्षेत्र और भोरगढ़ औद्योगिक क्षेत्र बवाना फेस-2 में पुनर्विकास कार्य किये जा रहे हैं. इनमें खासकर ड्रेनेज और रोड की मरम्मत आदि के कार्य किए जा रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज