GTB हॉस्पिटल के बाहर Corona Positive पिता का शव लेने आए बेटे का मोबाइल छीन भागे स्नैचर्स
Delhi-Ncr News in Hindi

GTB हॉस्पिटल के बाहर Corona Positive पिता का शव लेने आए बेटे का मोबाइल छीन भागे स्नैचर्स
(सांकेतिक फोटो)

मंगलवार को लगातार दूसरे दिन दिल्ली में कोरोना के नए मामले दो हजार से कम आए. इससे पहले तीन दिन तक नए केस दो हजार से अधिक थे. बीते रविवार को रिकार्ड 2,224 नए मामले आए थे.

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली में जहां एक तरफ कोरोना वायरस (Coronavirus) के कहर से लोग परेशान हैं वहीं दूसरी तरफ दिल्ली के जीटीबी अस्पताल (GTB Hospital) के आसपास स्नैचर्स का ग्रुप काफी एक्टिव हो गया है. ताजा मामला यहां अस्पताल के बाहर खड़े एक युवक का है जो अपने पिता के शव के आने का इंतज़ार कर रहा था, का फोन मोटरसाइकिल सवार युवकों ने छीन लिया और वहां से भाग निकले. पुलिस ने बताया कि मोटरसाइकिल सवार युवकों ने सोमवार सुबह पूर्वी दिल्ली के जीटीबी अस्पताल के बाहर खड़े एक युवक का मोबाइल छीन लिया और वहां से भाग गए.

अस्पताल के बाहर खड़ा युवक अपने पिता के शव के आने का इंतजार कर रहा था जिनकी मौत कोरोना वायरस के चलते हो गयी. जानकारी के मुताबिक पश्चिम दिल्ली के मादीपुर का रहने वाला 24 वर्षीय पंकज कुमार नाम का शख्स रिश्तेदारों के आने का इंतजार कर रहा था. ऐसे में जब वह अपने दोस्तों को फोन कर रहा था तभी मोटरसाइकिल सवार युवकों ने उसका फ़ोन छीन कर भाग गए.

मामला दर्ज

अमित शर्मा, पुलिस उपायुक्त (शाहदरा) ने जानकारी दी कि मामले में भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 379 (चोरी) और 356 (हमला करने या आपराधिक बल चोरी करने) के तहत एक मामला जीटीबी एंक्लेव पुलिस स्टेशन में दर्ज किया गया है. उन्होंने बताया कि आरोपी की पहचान के लिए वो मौके पर मौजूद सीसीटीवी फुटेज चेक कर उन तक जल्द से जल्द पहुंच जाएंगे.



हिंदुस्तान टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक दिल्ली के कनॉट प्लेस में एक ऑप्टिकल शोरूम में काम करने वाले पंकज ने कहा कि उनके पिता, रमेश कुमार, एक फुटवियर कंपनी में काम करते थे, जोकि लगभग 10 दिन पहले काफी बीमार पड़ गए. पंकज ने बताया कि उसके पिता ने खाना-पीना बंद कर दिया था जिसके चलते वो काफी कमजोर भी हो गए थे. उसने बताया कि जब मैं उन्हें पश्चिमी दिल्ली के एक अस्पताल में ले गया, तो अस्पताल ने पिताजी को जीटीबी अस्पताल में रेफर कर दिया गया, जहां जांच में सामने आया कि वो कोरोना पॉजिटिव हैं.

'ऐसा लगा जैसे जीवन की सारी परेशानियां मेरे लिए थीं'

पंकज ने बताया कि उसके पिता का सोमवार, 2 बजे निधन हो गया. पंकज शरीर प्राप्त करने के लिए औपचारिकताएं पूरी कर रहा था उसी दौरान मोटरसाइकिल सवार उसका फोन छीन कर भाग गए. पंकज ने कहा, "मैं अस्पताल के गेट नंबर छह के बाहर था और एक दोस्त से बात कर रहा था कि जब दो लोग मोटरसाइकिल पर आए और मेरा फोन छीनकर भाग निकले. उसने कहा कि उस समय मुझे लगा कि यह मेरे लिए दुनिया का अंत है. ऐसा लगा जैसे जीवन की सारी परेशानियां मेरे लिए थीं.

उसने बताया कि छीन लिया गया फोन उसने एक महीने पहले ही खरीदा था. फोन में उसके पिता के आधार कार्ड की कॉपी थी जिसे दिखाने के बाद ही उसे उसके पिता का शव दिया जाना था. मामले में पुलिस का कहना है कि छानबीन जारी है जल्द ही हम आरोपियों तक पहुंच जाएंगे.


चौबीस घंटे के दौरान दिल्ली में कोरोना संक्रमण के 1,859 मामले

देश में हर दिन कोरोना वायरस का कहर बढ़ता जा रहा है. मंगलवार को चौबीस घंटे के दौरान दिल्ली में कोरोना संक्रमण के 1,859 मामले सामने आए हैं. इसे मिलाकर अब राजधानी में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 44,688 हो गई है. वहीं मंगलवार को दिल्ली में 93 लोगों की मौत हुई है. अब तक किसी भी एक दिन में यह हुई सबसे अधिक मौत है. इसे मिलाकर दिल्ली में कोरोना महामारी से अब तक हुए कुल मौत का आंकड़ा 1,837 पहुंच गया है. इसके अलावा पिछले 24 घंटे में दिल्ली में 520 लोग कोरोना के खिलाफ जंग जीतकर स्वस्थ हुए. इसे मिलाकर राजधानी में अब तक 16,500 लोग कोरोना संक्रमण से ठीक हुए हैं.

दिल्ली सरकार के हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक पहले हुई 344 मौत के मामलों की लेट रिपोर्टिंग हुई है, जिसके बाद डेथ ऑडिट कमेटी ने इन मामलों को अप्रूव किया और फिर मंगलवार को सरकार ने इन मामलों को अपने हेल्थ बुलेटिन में शामिल किया. मंगलवार को लगातार दूसरे दिन दिल्ली में कोरोना के नए मामले दो हजार से कम आए. इससे पहले तीन दिन तक नए केस दो हजार से अधिक थे. बीते रविवार को रिकार्ड 2,224 नए मामले आए थे.

ये भी पढ़ें:-

Covid 19: कोरोना संक्रमण की महामारी के बीच दिल्ली में बढ़ाई गई श्‍मशान घाट और कब्रिस्‍तानों की संख्‍या

बिजनेसमैन ने बदमाशों को दी कत्ल की सुपारी, और कत्ल वाले दिन भेज दी अपनी ही तस्वीर, जानें क्यों
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज