• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • Noida News: रातों-रात चमक गई साउथ नोएडा की किस्मत, बनेगा NOIDA का हार्ट

Noida News: रातों-रात चमक गई साउथ नोएडा की किस्मत, बनेगा NOIDA का हार्ट

जेवर एयरपोर्ट के बहुत नजदीक होगा नया बस रहा साउथ नोएडा. 
Demo pic

जेवर एयरपोर्ट के बहुत नजदीक होगा नया बस रहा साउथ नोएडा. Demo pic

Noida News: साउथ नोएडा ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे और फरीदाबाद-नोएडा-गाजियाबाद (FNG) के समीप होगा. 1500 एकड़ में बनने वाले पार्क-वेटलैंड की वजह से इसे नोएडा का हार्ट भी कहा जा रहा है.

  • Share this:
    नोएडा. नया बसने जा रहा साउथ नोएडा (South Noida) शहर का फेस बनेगा. इसका फायदा नोएडा के दूसरे सेक्टरों को भी मिलेगा. यही सोचकर नोएडा अथॉरिटी (Noida Authority) ने साउथ नोएडा की नींव रखी थी, लेकिन रियल स्टेट के मौजूदा हालात को देखते हुए यह इतना आसान नहीं था. अब जैसे ही जेवर एयरपोर्ट (Jewar Noida) के काम ने रफ्तार पकड़ी तो मानों रातों-रात साउथ नोएडा की किस्मत ही बदल गई. आधा दर्जन से ज्यादा देश के बड़े बिल्डर्स ने प्रोजेक्ट शुरू कर दिए हैं. दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) के ज्यादातर लोग अब यहां बसना चाहते हैं. इसकी एक वजह ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे और फरीदाबाद-नोएडा-गाजियाबाद (FNG) भी है. 1500 एकड़ में बनने वाले पार्क-वेटलैंड की वजह से इसे नोएडा का हार्ट भी कहा जा रहा है.

    जानकारों की मानें तो साउथ नोएडा बेशक नोएडा का एक हिस्सा है, लेकिन रोड कनेक्टिविटी की वजह से यह हरियाणा के दो बड़े शहर गुड़गांव और फरीदाबाद के एकदम नजदीक आ गया है. ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे की वजह से साउथ नोएडा हरियाणा के गुड़गांव और फरीदाबाद के नजदीक आ गया है. वहीं, एफएनजी की कनेक्टिविटी के चलते गाजियाबाद और फरीदाबाद पास हो जाते हैं. यह दूसरी कनेक्टिविटी है जो नोएडा और फरीदाबाद के फासले को कम कर देती है.

    अब अगर एयर कनेक्टिविटी की बात करें तो साउथ नोएडा से जेवर एयरपोर्ट बहुत ही पास हो जाता है. इंटरनेशन एयरपोर्ट होने के चलते इसका बड़ा फायदा मिलने वाला है. साउथ नोएडा में ही देश का सबसे बड़ा 10 एकड़ जमीन पर हेलीपोर्ट बन रहा है. बिजनेस और टूरिज्म के लिहाज से इसका भी बहुत फायदा मिलेगा.

    एक दिन में 96 करोड़ की स्टाम्प ड्यूटी कमाने का इतिहास रचेगी यमुना अथॉरिटी

    4 सेक्टर में बसेगा साउथ नोएडा
    नोएडा का फेस बनने जा रहा साउथ नोएडा 4 सेक्टरों में बसाया जा रहा है. ये सेक्टर हैं 150, 151, 151ए और सेक्टर-152. अच्छी बात यह है कि बिल्डर्स के अलावा नोएडा अथॉरिटी भी यहां बसने का मौका दे रही है. इस महीने के आखिर तक या अगस्त की शुरुआत में नोएडा अथॉरिटी साउथ नोएडा में 200 से ज्यादा प्लॉट लेकर आ रही है. यह प्लॉट तीन साइज के होंगे और इनकी कीमत अनुमानित 48 हजार रुपये प्रति वर्गमीटर होगी.



    1 हजार एकड़ में बनेगा बायोडायवर्सिटी पार्क
    साउथ नोएडा में सिर्फ ऊंची-ऊंची बिल्डिंग और खूबसूरत विला ही नहीं होंगे. यहां और भी ऐसा बहुत कुछ है जो इसे नोएडा का हार्ट बनाएगा. नोएडा अथॉरिटी से जुड़े अफसरों की मानें तो साउथ नोएडा में शहर का सबसे बड़ा 200 एकड़ में बन रहा शहीद भगत सिंह पार्क भी है. इसके साथ ही एक हजार एकड़ में बायोडायवर्सिटी पार्क बन रहा है. देशी-विदेशी पक्षियों को आकर्षित करने और पक्षी प्रेमियों को एक सौगात के रूप में 250 एकड़ का वेटलैंड एरिया भी तैयार किया जा रहा है. खेल प्रेमियों की बात करें तो उनके लिए 100 एकड़ जमीन पर 18 हॉल्स वाला गोल्फकोर्स कॉम्प्लेक्स भी साउथ नोएडा में तैयार किया जा रहा है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज