दिल्ली दंगों की जांच में स्पेशल सेल को मिले विदेशी फंडिंग के सुराग, जाकिर नाईक से मिला था खालिद सैफी
Delhi-Ncr News in Hindi

दिल्ली दंगों की जांच में स्पेशल सेल को मिले विदेशी फंडिंग के सुराग, जाकिर नाईक से मिला था खालिद सैफी
दंगों के दौरान दुर्दशा हो गई थी दिल्ली की. (फाइल फोटो)

स्पेशल सेल ने दंगों के एक मास्टरमाइंड खालिद सैफी को बीते महीने गिरफ्तार किया था और उसका पासपोर्ट भी बरामद किया था. तफ्तीश में उसी पासपोर्ट की डिटेल्स से पता चला कि खालिद ने भारत से फरार ज़ाकिर नाईक से मुलाकात की थी. 

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली दंगों (Delhi Riots) की जांच में स्पेशल सेल ने बड़ा खुलासा किया है. स्पेशल सेल (Special Cell) को दिल्ली दंगों में विदेशी फंडिंग (Foreign Funding) के सुराग मिले हैं. स्पेशल सेल के मुताबिक, दिल्ली दंगों के एक आरोपी ने मलेशिया (Malaysia) में जाकर ज़ाकिर नाईक (Zakir Naik) से भी की मुलाकात थी. स्पेशल सेल ने अदालत में दाखिल स्टेटस रिपोर्ट (Status report) में यह बात कही है. ध्यान रहे कि बीते फरवरी के महीने में नार्थ-ईस्ट दिल्ली में हुए दंगों की जांच क्राइम ब्रांच जांच भी कर रही है और वहीं दंगों की साजिश को लेकर स्पेशल सेल ने भी एक अलग FIR दर्ज की थी. उसी जांच में यह खुलासा हुआ है.

खालिद सैफी ने की थी फरार जाकिर नाईक से मुलाकात

स्पेशल सेल ने दंगों के एक मास्टरमाइंड खालिद सैफी को बीते महीने गिरफ्तार किया था और उसका पासपोर्ट भी बरामद किया था. तफ्तीश में उसी पासपोर्ट की डिटेल्स से पता चला कि खालिद ने भारत से फरार ज़ाकिर नाईक से मुलाकात की थी. ये वही खालिद सैफी है जिसने दंगों के पहले शाहीनबाग में ताहिर हुसैन और जेएनयू के पूर्व छात्र उमर खालिद के साथ शाहीनबाग में मीटिंग की थी, जिसमें दंगों का प्लान बना था. दंगों के लिए पैसे की फंडिग की गई थी. स्पेशल सेल के मुताबिक एंटी CAA प्रदर्शन में भड़काऊ भाषण देने वाली और दंगों के आरोप में गिरफ्तार इशरत जहां को भी फंड मिला था. ये फंड गाजियाबाद और महारास्ट्र के उसके कुछ रिश्तेदारों से मिला था. जिन्होंने ने फंड दिया उनसे पूछताछ की जानी थी लेकिन कोरोना की वजह से अभी पूछताछ नहीं हुई है.



खालिद सैफी के अकाउंट में सिंगापुर से आए थे पैसे
आरोपी खालिद सैफी को दंगों के लिए सिंगापुर के NRI ने पैसे भेजे थे जो खालिद के NGO में ट्रांसफर हुआ था. बता दें कि खालिद मेरठ के रहने वाले अपने पार्टनर के साथ NGO चलाता है, जिससे पूछताछ जल्द होगी. तफ्तीश के मुताबिक, फंड जुटाने के लिए खालिद सैफी ने कई देशों का दौरा किया था और ज़ाकिर नाईक से भी मिला था. आरोपी इशरत जहां और खालिद सैफी को PFI, सिंगापुर और सऊदी अरब से मिले पैसों की जांच की जा की जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading