होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /राज्य महिला आयोग अवैध नियुक्तियों पर BJP सांसद ने भेजा राज्यपाल को पत्र, DCW प्रमुख मालीवाल को हटाने की मांग की

राज्य महिला आयोग अवैध नियुक्तियों पर BJP सांसद ने भेजा राज्यपाल को पत्र, DCW प्रमुख मालीवाल को हटाने की मांग की

भाजपा ने उपराज्यपाल वी के सक्सेना से दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) की प्रमुख स्वाति मालीवाल को हटाने की मांग की.(File Photo-PTI)

भाजपा ने उपराज्यपाल वी के सक्सेना से दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) की प्रमुख स्वाति मालीवाल को हटाने की मांग की.(File Photo-PTI)

New delhi news: भाजपा ने शुक्रवार को उपराज्यपाल वी के सक्सेना से दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) की प्रमुख स्वाति मालीव ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

आदेश गुप्ता का आरोप- आप भ्रष्टाचार करने में कोई मौका नहीं चूकती
दिल्ली महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष की शिकायत पर दर्ज हुआ था मामला

नई दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने शुक्रवार को उपराज्यपाल वी के सक्सेना से दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) की प्रमुख स्वाति मालीवाल को हटाने की मांग की. दिल्ली की एक अदालत द्वारा महिला आयोग में नियुक्तियों के सिलसिले में मालीवाल के खिलाफ आरोप तय करने का आदेश दिये जाने के बाद भाजपा ने यह मांग की.

इस मामले में अदालत ने ‘प्रथम दृष्टया’ अपने पद का दुरुपयोग करके महिला अधिकार निकाय में विभिन्न पदों पर आम आदमी पार्टी (आप) के कार्यकर्ताओं को नियुक्त करने के मामले में बृहस्पतिवार को मालीवाल और अन्य के खिलाफ भ्रष्टाचार और आपराधिक साजिश रचने का आरोप तय करने का आदेश दिया. सक्सेना को लिखे गये पत्र में पश्चिमी दिल्ली के भाजपा सांसद परवेश वर्मा ने मालीवाल को उनको पद से हटाने की मांग की. वर्मा ने कहा, ‘‘मैं आप से अनुरोध करता हूं कि असंवैधानिक कृत्य के लिए स्वाति मालीवाल के खिलाफ तुरंत कार्रवाई करें और उन्हें डीसीडब्ल्यू के अध्यक्ष के पद से हटाएं.’’

आदेश गुप्ता का आरोप- आप भ्रष्टाचार करने में कोई मौका नहीं चूकती
वर्मा ने कहा कि ‘कथित साजिश’ के तहत मालीवाल और अन्य ने आप कार्यकर्ताओं को उचित प्रक्रिया का पालन किये बिना महिला आयोग के विभिन्न पदों पर नियुक्त किया. भाजपा की दिल्ली इकाई के प्रमुख आदेश गुप्ता ने ट्वीट करके आरोप लगाया कि लगता है कि आप भ्रष्टाचार करने का ‘कोई मौका नहीं छोड़ना’ चाहती. भाजपा प्रवक्ता प्रवीण शंकर कपूर ने नियुक्तियों में ‘धांधली’ का आरोप लगाते हुए सक्सेना से पैनल को भंग करने की मांग की.

दिल्ली महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष की शिकायत पर दर्ज हुआ था मामला
भाजपा की पूर्व नेता और दिल्ली महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष बरखा शुक्ला सिंह की शिकायत पर यह मामला भ्रष्टाचार निरोधक शाखा द्वारा दर्ज किया गया था. अभियोजन पक्ष ने दावा किया कि महिलाओं के पैनल में छह अगस्त, 2015 से एक अगस्त, 2016 के बीच कुल 90 नियुक्तियां की गई थीं, जिनमें से 71 नियुक्तियां संविदा पर थीं और 16 नियुक्तियां ‘डायल 181’ हेल्पलाइन के लिए थीं. बाकी की तीन नियुक्तियों का कोई ब्योरा नहीं मिल सका.

Tags: Arvind kejriwal, Delhi BJP, New Delhi news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें