Assembly Banner 2021

Indian Railway News: यात्रियों की सुरक्षा मजबूत करने की दिशा में उठाया कदम, किशनगढ स्टेशन पर लगाये 29 CCTV, चप्पे-चप्पे पर रहेगी नजर!

किशनगढ़ स्टेशन पर इंटरनेट प्रोटोकॉल आधारित वीडियो निगरानी प्रणाली (वीएसएसी) स्थापित की है.

किशनगढ़ स्टेशन पर इंटरनेट प्रोटोकॉल आधारित वीडियो निगरानी प्रणाली (वीएसएसी) स्थापित की है.

Indian Railway News: किशनगढ स्टेशन पर 29 कैमरे लगा दिए गए है. सभी व्यस्त जगहों पर वीडियो एनालिटिक्स और चेहरे की पहचान प्रणाली के साथ इंटरनेट प्रोटोकाॅल (आईपी) आधारित वीडियो निगरानी प्रणाली (वीएसएसी) स्थापित करने का कार्य किया गया है. एक बेहतर कवरेज एवं स्पष्ट छवि के लिए, चार प्रकार के फुल एचडी कैमरे-डोम (इनडोर क्षेत्रों के लिए), बुलेट प्रकार (प्लेटफाॅर्मों के लिए), पैन टिल्ट जूम प्रकार (पार्किंग क्षेत्रों के लिए) और अल्ट्रा एचडी-4K कैमरा (महत्वपूर्ण स्थानों के लिए) स्थापित किए गए हैं.

  • Share this:

नई दिल्ली. यात्रियों की सुरक्षा बढ़ाने को लेकर उत्तर पश्चिमी रेलवे ने बड़ा कदम उठाया है. रेलवे की ओर से किशनगढ़ स्टेशन पर अहम जगहों को कवर करने के लिए इंटरनेट प्रोटोकॉल आधारित वीडियो निगरानी प्रणाली (वीएसएसी) स्थापित की है. स्टेशन पर कुल 29 कैमरे लगाए गए हैं.


उत्तर पश्चिम रेलवे के प्रवक्ता के मुताबिक जिन  महत्वपूर्ण स्थानों पर वीएसएस लगाया गया है उनमें वेटिंग हाॅल, आरक्षण काउण्टर, पार्किंग क्षेत्र, मुख्य प्रवेश/निकास द्वार, प्लेटफार्म, फुट ओवर ब्रिज, बुकिंग कार्यालय प्रमुख रूप से शामिल हैं.


इन सभी व्यस्त जगहों पर वीडियो एनालिटिक्स और चेहरे की पहचान प्रणाली के साथ इंटरनेट प्रोटोकाॅल (आईपी) आधारित वीडियो निगरानी प्रणाली (वीएसएसी) स्थापित करने का कार्य किया गया है.




किशनगढ स्टेशन पर 29 कैमरे लगा दिए गए है. एक बेहतर कवरेज एवं स्पष्ट छवि के लिए, चार प्रकार के फुल एचडी कैमरे-डोम (इनडोर क्षेत्रों के लिए), बुलेट प्रकार (प्लेटफाॅर्मों के लिए), पैन टिल्ट जूम प्रकार (पार्किंग क्षेत्रों के लिए) और अल्ट्रा एचडी-4K कैमरा (महत्वपूर्ण स्थानों के लिए) स्थापित किए गए हैं.


निगरानी के लिए रेलवे सुरक्षा बल (RPF) नियंत्रण कक्ष में कई स्क्रीन पर सीसीटीवी कैमरा लाइव फीड प्रदर्शित किए जाते हैं. रेलवे स्टेशन पर लगा हुआ प्रत्येक एचडी कैमरा लगभग 1-TB डेटा तथा प्रत्येक 4K कैमरा प्रतिमाह 4-TB डेटा की खपत करता है.


इन कैमरों से वीडियो फीड की रिकाॅर्डिंग 30 दिनों के लिए प्लेबैक एवं पोस्ट इंवेट विश्लेषण और जाँच के उद्देश्यों के लिए संग्रहित की जाएगी. महत्वपूर्ण वीडियो को लंबी अवधि के लिए संग्रहित भी किया जा सकता है.


यात्रियों व रेलवे संपत्ति के साथ स्वच्छता पर भी निगरानी करेंगे यह कैमरे

इन कैमरा का उपयोग रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों एवं रेलवे संपति की सुरक्षा के साथ-साथ रेलवे स्टेशनों पर स्वच्छता की नगरानी के लिए भी किया जा रहा है.


इन 26 स्टेशनों पर पहले ही लगाया जा चुका है यह सिस्टम

यह प्रणाली उत्तर पश्चिम रेलवे के भीलवाड़ा, फालना, आबूरोड, अलवर, बांँदीकुई, फुलेरा, पाली मारवाड़, नागौर, रेवाड़ी, भिवानी एवं हिसार सहित 26 महत्वपूर्ण रेलवे स्टेशनों पहले ही स्थापित की जा चुकी है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज