दिल्ली सरकार की चेतावनी- प्लाज्मा दान करने की प्रक्रिया में पैसों के लेन-देन पर होगी कड़ी कार्रवाई
Delhi-Ncr News in Hindi

दिल्ली सरकार की चेतावनी- प्लाज्मा दान करने की प्रक्रिया में पैसों के लेन-देन पर होगी कड़ी कार्रवाई
मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

दक्षिणी दिल्ली में स्थित इंस्टीट्यूट ऑफ लीवर एंड बाइलरी साइंसेज (ILBS) में देश का अपनी तरह का पहला प्लाज्मा बैंक स्थापित किया गया है. दिल्ली सरकार के एलएनजेपी अस्पताल में भी हाल में एक प्लाज्मा बैंक स्थपित किया गया.

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन (Satyendra Jain) ने बुधवार को चेतावनी दी कि कोविड-19 के किसी भी मरीज के लिए प्लाज्मा दान (Plasma Donate) करने की प्रक्रिया में अगर पैसों का लेन-देन हुआ तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने कहा, 'कोविड-19 के मरीजों के लिए प्लाज्मा दान करना एक परोपकारी कार्य है और अगर कोई व्यक्ति प्लाज्मा खरीदने या बेचने की कोशिश करता है, तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.'

बता दें कि दक्षिणी दिल्ली में स्थित इंस्टीट्यूट ऑफ लीवर एंड बाइलरी साइंसेज (ILBS) में देश का अपनी तरह का पहला प्लाज्मा बैंक स्थापित किया गया है. दिल्ली सरकार के एलएनजेपी अस्पताल में भी हाल में एक प्लाज्मा बैंक स्थपित किया गया.

आईसीयू बेड की संख्या बढ़ाने का फैसला
इसके अलावा दिल्ली सरकार ने मृत्यु दर कम करने के लिए अस्पतालों में आईसीयू बेड की संख्या बढ़ाने का फैसला किया है. हालांकि, पिछले कुछ दिनों से दिल्ली में कोविड-19 (Covid-19) के एक्टिव केस में काफी कमी आई है. इसके बावजूद केजरीवाल सरकार दिल्ली के तीन बड़े अस्पतालों में आईसीयू बेड की संख्या बढ़ाने का फैसला किया है.
बढ़ाए जाएंगे 600 बेड 


अगले कुछ दिनों में राजधानी के तीन बड़े कोविड अस्पताल एलएनजेपी, जीटीबी और राजीव गांधी सुपरस्पेशिलिटी अस्पतालों में 600 बेड बढ़ाए जाएंगे. दिल्ली सरकार ने 31 जुलाई तक दिल्ली के इन तीन बड़े अस्पतालों में 2700 आईसीयू बेड करने का फैसला किया है. दिल्ली के इन तीन अस्पतालों में फिलहाल 2110 आईसीयू बेड हैं.

एक्टिव केस में कमी आने लगी
बता दें कि मंगलवार को ही अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) के निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा था कि दिल्ली ने अपना पीक यानी उच्चतम स्तर को अब पार कर लिया है. बीते कई हफ्तों बाद मंगलवार को एक्टिव केस के 954 मामले ही सामने आए. दूसरी तरफ दिल्ली में कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए अब हर महीने सीरो सर्वे कराया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज