Home /News /delhi-ncr /

दिल्ली: 12वीं के मूल्यांकन मानदंडों के खिलाफ छात्र पहुंचे सुप्रीम कोर्ट, CBSE ने दी यह दलील

दिल्ली: 12वीं के मूल्यांकन मानदंडों के खिलाफ छात्र पहुंचे सुप्रीम कोर्ट, CBSE ने दी यह दलील

गौरतलब है कि CBSE ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर किया है.

गौरतलब है कि CBSE ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर किया है.

Supreme Court News: याचिकाकर्ता ने आरोप लगाया है कि स्कूल की इस विफलता की शिकायत करने पर सीबीएसई ने भी कोई एक्शन नहीं लिया. वहीं, बोर्ड के वकील रूपेश कुमार ने सुप्रीम कोर्ट से जवाब दाखिल करने के लिए 20 अक्टूबर तक का समय मांगा है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) की 12वीं क्लास के मूल्यांकन मानदंड (evaluation criteria) के खिलाफ छात्रों ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में याचिका दाखिल की है. वहीं, CBSE ने सुप्रीम कोर्ट में कहा कि 12वीं क्लास के लिए बनाई गई मूल्यांकन नीति (evaluation policy) की  माननीय कोर्ट समीक्षा न करें, क्योंकि अब ऐसा करने से सभी छात्रों के परिणामों में संशोधन करना होगा. इतना ही नहीं विश्वविद्यालयों ने 12वीं क्लास के परिणामों के आधार पर प्रवेश प्रक्रिया लगभग पूरी कर ली है. CBSE ने यह भी तर्क दिया कि याचिकाकर्ताओं ने मूल्यांकन नीति को गलत तरीके से पढ़ा है.

गौरतलब है कि CBSE ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर किया है. वहीं, इस मामले में सुप्रीम कोर्ट एक हफ्ते बाद सुनवाई करेगा. साथ ही याचिकाकर्ता छात्र CBSE के हलफनामे पर अपना जवाब दाखिल करेंगे. दरअसल, सीबीएसई ने 30-40-30 का फार्मूला दिया गया था. याचिकाकर्ता उम्मीदवार को 86 प्रतिशत अंक प्राप्त करने थे, लेकिन उन्होंने स्कूल के मानक के संबंध में 54% अंक दिए हैं. यह अनुचित है. सुप्रीम कोर्ट में सीबीएसई परिणाम मामले में वकील प्रदीप गुप्ता ने कहा कि हमारे मामले में सीबीएसई ने हलफनामा दाखिल किया है कि स्कूल ने पूरा डाटा नहीं भेजा है. तालमेल बिठाने के लिए और समय चाहिए.

ये भी पढ़ें- लखीमपुर हिंसा: रात 1 बजे तक इंतजार करते रहे.. यूपी सरकार द्वारा हलफनामा में देरी पर SC ने लगाई फटकार

 जवाब दाखिल करने के लिए 20 अक्टूबर तक का समय मांगा है
बता दें क‍ि सुप्रीम कोर्ट ने 8 अक्टूबर को केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड से दो याचिकाओं पर जवाब-तलब किया था. इनमें 12वींं क्लास के छात्रों ने अपने स्कूलों में 30-30-40 फार्मूला न अपनाने की शिकायत की थी. याचिका में आरोप लगाया गया है कि स्कूल की इस विफलता की शिकायत करने पर सीबीएसई ने भी कोई एक्शन नहीं लिया. बोर्ड के वकील रूपेश कुमार ने सुप्रीम कोर्ट से जवाब दाखिल करने के लिए 20 अक्टूबर तक का समय मांगा था.

Tags: Cbse, CBSE 12th Exam, CBSE Board Exam Datesheet, Cbse exam, Supreme Court

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर