सुप्रीम कोर्ट पहुंचा दिल्ली हिंसा का मामला, कपिल मिश्रा पर दंगा भड़काने का आरोप, कल होगी सुनवाई

शाहीन बाग मामले के साथ ही होगी दिल्ली हिंसा पर सुनवाई. (फाइल फोटो)

सुप्रीम कोर्ट में बुधवार को होनी है शाहीन बाग मामले की अगली सुनवाई. दिल्ली में CAA के समर्थन और विरोध में हुए प्रदर्शन के दौरान अब तक 7 लोगों की गई जान.

  • Share this:
    नई दिल्ली. नागरिकता संशोधन कानून को लेकर दिल्ली के कई इलाकों में हुई हिंसा का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है. सर्वोच्च अदालत ने दिल्ली में हुई हिंसा के मामले की सुनवाई जल्द करने की अर्जी मान ली है. भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद के आग्रह पर कोर्ट ने शाहीन बाग में प्रदर्शन मामले को लेकर दायर याचिका की सुनवाई के साथ ही दिल्ली हिंसा पर भी सुनवाई करने की बात कही है. कोर्ट ने अपने आदेश में कहा है कि शाहीन बाग मामले के साथ ही दिल्ली हिंसा को भी सूचीबद्ध किया जाए. आपको बता दें कि CAA के खिलाफ शाहीन बाग में पिछले 2 महीनों से ज्यादा समय से चल रहे प्रदर्शन को लेकर सुप्रीम कोर्ट में दर्ज याचिका पर अब अगली सुनवाई 26 फरवरी यानी बुधवार को होनी है.

    दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई की याचिका तीन लोगों ने दायर की है. पूर्व चीफ इंफॉर्मेशन कमिश्नर वाजाहत हबीबुल्लाह, भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद और बहादुर अब्बास नकवी ने अदालत से याचिका पर सुनवाई करने की मांग की है. याचिका में बीजेपी नेता कपिल मिश्रा पर दंगा भड़काने का आरोप लगाया गया है. याचिका में कहा गया है कि कपिल मिश्रा ने लोगों को भड़काया और दंगा फैलाया. इसलिए 23 और 24 फरवरी को जितने भी हमले हुए हैं, उन पर पुलिस FIR दर्ज कर कार्रवाई करे. याचिका में उन सभी महिलाओं को सुरक्षा देने की भी मांग की गई है, जो प्रदर्शन कर रही हैं.

    गृह मंत्री और सीएम केजरीवाल की बैठक
    इधर, दिल्ली के कुछ हिस्‍सों में CAA-NRC के समर्थकों और विरोधी गुटों के बीच मंगलवार को भी झड़प होने की खबरें आई हैं. रविवार को भड़की हिंसा में अब तक दिल्‍ली पुलिस के एक हेड कॉन्स्टेबल समेत 7 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं, हिंसा की वजह से करीब 105 लोग घायल हो गए हैं. इस बीच, खबर है कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह मंगलवार की दोपहर दिल्‍ली के मौजूदा हालात को लेकर सीएम अरविंद केजरीवाल के साथ बैठक करेंगे. जानकारी के मुताबिक गृह मंत्रालय में होने वाली बैठक में दिल्ली के LG अनिल बैजल समेत अन्‍य राजनीतिक पार्टियों के प्रतिनिधि भी मौजूद रहेंगे. गृह मंत्री और दिल्ली के मुख्यमंत्री की यह बैठक दोपहर तकरीबन 12 बजे होने की संभावना है.

    हिंसा की वजह से स्कूल बंद
    इस बीच सोमवार को उत्तर-पूर्वी दिल्ली के कई इलाकों में हुई हिंसा के बाद डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने स्कूलों के बंद रहने की घोषणा कर दी है. डिप्टी सीएम ने कहा कि हिंसा प्रभावित उत्तर-पूर्वी दिल्ली में मंगलवार को स्कूलों में गृह परीक्षाएं नहीं होंगी और सभी सरकारी एवं प्राइवेट स्कूल बंद रहेंगे. उन्होंने इस मामले को लेकर HRD मिनिस्टर रमेश पोखरियाल 'निशंक' से भी बात की और उनसे जिले में बोर्ड परीक्षा स्थगित करने का अनुरोध किया. डिप्टी सीएम ने ट्वीट कर कहा, 'दिल्ली में हिंसा प्रभावित नॉर्थ ईस्ट ज़िले में मंगलवार को स्कूलों में गृह परीक्षाएं नहीं होंगी. सभी सरकारी एवं प्राइवेट स्कूल बंद रहेंगे.'

    ये भी पढ़ें -

    CAA पर मचे बवाल से नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में तनाव, आज सभी स्कूल बंद, परीक्षाएं टली

    Delhi Violence: हिंसा में घायल DCP के सिर की हुई सर्जरी, अभी तक हैं बेहोश

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.