लाइव टीवी

अयोध्या फैसला: पुनर्विचार याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई कल, पांच जजों की नई बेंच गठित

News18 Bihar
Updated: December 11, 2019, 6:29 PM IST
अयोध्या फैसला: पुनर्विचार याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई कल, पांच जजों की नई बेंच गठित
अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ 18 पुनर्विचार याचिकाएं लिस्टिड हैं (File Photo)

इस दौरान पुनर्विचार याचिकाओं की मेरिट पर चर्चा की जाएगी. साथ ही फैसला लिया जाएगा कि इन पुनर्विचार याचिकाओं की सुनवाई खुली अदालत में की जाए या नहीं.

  • Share this:
नई दिल्ली. अयोध्या मामले में 9 नवंबर को आए सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के फैसले के खिलाफ दायर पुनर्विचार याचिका को लेकर सुप्रीम कोर्ट गुरुवार को सुनवाई करेगा. सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों की बेंच इस मामले पर गुरुवार दोपहर 1.40 बजे इन चैंबर सुनवाई करते हुए यह निर्णय लेगी कि पुनर्विचार याचिका (review petitions) की सुनवाई ओपन कोर्ट में करे या नहीं. बता दें, सीजेआई गोगोई की जगह जस्टिस संजीव खन्ना ने ले ली है. सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ 18 पुनर्विचार याचिकाएं लगी हैं.

पुनर्विचार याचिका पर सुनवाई करने वाली पांच जजों की बेंच में न्यायमूर्ति एसए बोबडे, न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़, न्यायमूर्ति अशोक भूषण, न्यायमूर्ति अब्दुल नज़ीर, न्यायमूर्ति संजीव खन्ना शामिल हैं.

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ द्वारा 9 नवंबर को दिए गए अयोध्या फैसले पर ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (AIMPLB) के समर्थन से मुस्लिम पक्षकारों द्वारा 4 और पुनर्विचार याचिका (Review Petitioin) दाखिल की गई है. याचिका दाखिल करने वालों में मुस्लिम पक्षकार मिसबाहुद्दीन, हसबुल्ला, हाजी महबूब, रिजवान अहमद के नाम प्रमुख हैं. कहा जा रहा है कि खुली अदालत में सुनवाई हुई तो इनकी पैरवी वरिष्ठ अधिवक्ता राजीव धवन करेंगे.

इससे पहले ही पीस पार्टी (Peace Party) ने पुनर्विचार याचिका दाखिल की. इसमें पीस पार्टी ने सुप्रीम कोर्ट के संविधान पीठ के 9 नवंबर के फैसले पर पुनर्विचार की मांग की है. पीस पार्टी ने अपनी याचिका में कहा है कि 1949 तक विवादित स्थल पर मुस्लिमों का अधिकार था. 1949 तक सेंटल डोम के नीचे नमाज़ अदा की गई थी और कोई भी भगवान की मूर्ति डोम के नीचे तब तक नहीं थी.

ये भी पढ़ें:  NCR लागू होते ही घुसपैठिये होंगे देश से बाहर, शाह ने कही ये खास बातें

देश को शरणार्थी नीति की जरूरत नहीं, भारत में इसके लिए पर्याप्त कानून: अमित शाह

प्रियंका गांधी के निर्देश पर नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ सड़कों पर उतरेगी यूपी कांग्रेस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 11, 2019, 6:04 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर