SSR Death Case: रिया चक्रवर्ती की गिरफ्तारी के बाद अब आरोपियों की संपत्ति हो सकती है अटैच
Delhi-Ncr News in Hindi

SSR Death Case: रिया चक्रवर्ती की गिरफ्तारी के बाद अब आरोपियों की संपत्ति हो सकती है अटैच
सुशांत सिंह राजपूत के मामले में अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती को गिरफ्तार किया गया है. फाइल फोटो.

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) से जुड़े केस में रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty ) समेत 10 आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद अब ईडी नए सिरे से एक और केस दर्ज करने की तैयारी कर रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 10, 2020, 10:14 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) से जुड़े केस में रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty ) समेत 10 आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद भी मामला खत्म नहीं हुआ है. बल्कि पिक्चर अभी और बाकी है. वरिष्ठ सूत्रों के मुताबिक इसी मामले में  केन्द्रीय जांच एजेंसी प्रवर्तन निदेशालय यानी ईडी (Enforcement directorate) अब एक और मामला दर्ज करने वाली है. दरअसल ये जो एक नया मामला दर्ज होने वाला है वो नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की तफ्तीश के बाद जो नई थ्योरी सामने आई है उसी के आधार पर एनडीपीएस (NDPS) से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में दर्ज मामले को टेकओवर करने वाली है, उसके बाद PMLA एक्ट के तहत उस मामले में कार्रवाई की जाएगी.

ईडी के एक वरिष्ट अधिकारी का कहना है की इस मामले में हमलोग कानूनी सलाह ले रहे हैं. जल्द ही इस मामले को अंजाम दिया जा सकता है. उसके बाद नए मामले के तहत कई आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करते उसकी अवैध संपत्तियों को अटैचमेंट किया जा सकता है.

एनसीबी की जांच को बनाया आधार
ईडी (ED) ने पहले जो मामला दर्ज किया था और जिस मामले में तफ्तीश (Investigation ) की जा रही थी, वो मामला सुशांत सिंह के संदिग्ध मौत के मामले से जुड़ा हुआ था. यानी ईडी की तफ्तीश का दायरा इस मसले पर था की कहीं सुशांत सिंह की आत्महत्या या हत्या के पीछे मनी लॉन्ड्रिंग (PMLA) का मामला तो नहीं था, लेकिन इसी मामले की तफ्तीश के दौरान ईडी की जांचकर्ताओं को रिया चक्रवर्ती, शौविक चक्रवर्ती, सैम्युल मिरांडा सहित कई अन्य आरोपियों का ड्रग्स यानी नशे के सौदागरों का बॉलिवुड कनेक्शन सामने आया. ईडी निदेशक के द्वारा इस मामले की जानकारी नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) को दी गई. नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने तत्काल कार्रवाई करते हुए अबतक रिया चक्रवर्ती समेत कुल 10 आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है. इस मामले में ये भी कहा जा सकता है की ईडी की तफ्तीश के बाद नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने मामला दर्ज किया और अब उसी मामले को आधार बनाते हुए ईडी एक और मामला दर्ज करके तफ्तीश शुरू करने जा रही है.
इस बिंदु पर होगी जांच


ईडी की टीम अब ये जांच करेगी की एनडीपीएस (NDPS) के इस मामले में कैसे मनी लॉन्ड्रिंग हुई है. इसके साथ-साथ कौन-कौन से आरोपी कि कितनी भूमिका है की जांच की जाएगी. लिहाजा उसके बाद कई आरोपियों की कई अवैध प्रोपर्टी को अटैचमेंट भी की जा सकती है. ईडी के वरिष्ठ सूत्रों ने हलांकि ये भी बताया की पहले जो मामला हमने दर्ज किया था, उसी मामले में एनडीपीएस से जुड़े मामले को भी जोड़कर तफ्तीश आगे बढ़ा सकते हैं, लेकिन कोर्ट की सुनवाई के दौरान और आरोपी के खिलाफ जांच रिपोर्ट को कोर्ट में रखने के वक्त काफी परेशानियों का सामना जांच एजेंसी को करना पड़ सकता है. लिहाजा इसी मामले की गंभीरता को देखते हुए दोनों अलग-अलग मामले को अलग ही रखना उचित होगा. इस मामले में जांच एजेंसी अपनी लीगल टीम से सलाह ले रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज