अलकायदा का संदिग्ध आतंकी पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद से गिरफ्तार, पेशे से है मदरसा टीचर

गिरफ्तार संदिग्ध आतंकी अब्दुल मोमिन पेशे से एक मदरसा शिक्षक है.
गिरफ्तार संदिग्ध आतंकी अब्दुल मोमिन पेशे से एक मदरसा शिक्षक है.

गिरफ्तार संदिग्ध आतंकी (Suspected Terrorist) अब्दुल मोमिन पेशे से एक मदरसा शिक्षक है. एनआईए (NIA) की टीम ने उसे पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद इलाके से गिरफ्तार किया है.

  • News18India
  • Last Updated: November 3, 2020, 12:15 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय जांच एजेंसी एनआईए (NIA) ने पश्चिम बंगाल में एक बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए आतंकी संगठन अलकायदा (Al-Qaeda) से जुड़े एक संदिग्ध आतंकी को गिरफ्तार किया. गिरफ्तार संदिग्ध आतंकी का नाम है अब्दुल मोमिन मोंडल (Abdul Momin Mondal). मुर्शिदाबाद से लेकर केरल के बीच आतंकियों के बढ़ते नेटवर्क की तफ्तीश के दौरान उसे हिरासत में लिया गया था. रविवार देर रात तक हुई पूछताछ के बाद औपचारिक तौर पर अब्दुल मोमिन को गिरफ्तार कर लिया गया. वह मुर्शिदाबाद के नजराना गांव का रहने वाला है.

केंद्रीय जांच एजेंसी एनआईए ने इसी साल 11 सितंबर को एक मामला दर्ज किया था. उसके बाद भारत विरोधी गतिविधियों में शामिल कई आतंकियों को गिरफ्तार किया गया था. जो भारत के अंदर रहकर भारत के खिलाफ ही पश्चिम बंगाल से लेकर केरल के बीच जेहादी आतंकवाद (Jihadi terrorists ) को बढ़ावा देने के लिए लगातार अपने पांव पसारने की कोशिश में जुटा हुआ था. लेकिन मामले की तफ्तीश के दौरान शुरुआत में ही 10 आतंकी को एनआईए की टीम ने धर दबोचा था.

गिरफ्तार संदिग्ध आतंकी अब्दुल मोमिन पेशे से एक मदरसा शिक्षक है, जो मुर्शिदाबाद इलाके में रायपुर दरूर हुडा इस्लामिक मदरसा में पढ़ाता था. इसी मदरसे में वह अलकायदा के आतंकियों के संपर्क में आया और शिक्षणकार्य के पीछे संदिग्ध बैठकों को अंजाम देना शुरू कर दिया. उसके बाद युवाओं को आतंकी संगठन के लिए नियुक्ति करना भी शुरू किया. साथ ही आतंकी संगठन के लिए फंड जुटाने में भी वह जुट गया.



जांच के दौरान इसके आवास सहित अन्य सम्बंधित लोकेशन से काफी महत्वपूर्ण सबूतें और इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों को भी जब्त किया गया है. अबतक एनआईए की टीम ने इस मामले में 11 संदिग्ध आरोपियों को गिरफ्तार किया है. अब्दुल मोमिन को मुर्शिदाबाद की स्थानीय कोर्ट में सोमवार को पेश करने के बाद ट्रांजिट रिमांड पर उसे दिल्ली स्थित एनआईए मुख्यालय लाया गया. यहां उससे गहन पूछताछ की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज