पंजाब सरकार की सुप्रीम कोर्ट से गुहार, ट्रिब्यूनल कोर्ट भेजा जाए SYL मामला
Delhi-Ncr News in Hindi

पंजाब सरकार की सुप्रीम कोर्ट से गुहार, ट्रिब्यूनल कोर्ट भेजा जाए SYL  मामला
हरियाणा और पंजाब के बीच चल रहे सतलुज-यमुना लिंक नहर को लेकर सुप्रीम कोर्ट में बहस के दौरान पंजाब सरकार के वकील राम जेठमलानी के कहा कि अगर सतलुज का पानी हरियाणा को दिया गया, तो पंजाब का किसान इससे प्रभावित होगा.

हरियाणा और पंजाब के बीच चल रहे सतलुज-यमुना लिंक नहर को लेकर सुप्रीम कोर्ट में बहस के दौरान पंजाब सरकार के वकील राम जेठमलानी के कहा कि अगर सतलुज का पानी हरियाणा को दिया गया, तो पंजाब का किसान इससे प्रभावित होगा.

  • Share this:
सतलुज यमुना लिंक नहर मामले पर आज सुप्रीम में सुनवाई हुई. पंजाब ने मामले को ट्रिब्यूनल कोर्ट के पास भेजने की मांग उठाई और कहा पंजाब के पास अतिरिक्त पानी नहीं है.

हरियाणा और पंजाब के बीच चल रहे सतलुज-यमुना लिंक नहर को लेकर सुप्रीम कोर्ट में बहस के दौरान पंजाब सरकार के वकील राम जेठमलानी के कहा कि अगर सतलुज का पानी हरियाणा को दिया गया, तो पंजाब का किसान इससे प्रभावित होगा.

साथ ही पंजाब सरकार ने कहा कि पंजाब को रावी और ब्यास का पानी नहीं मिल रहा है. सुनवाई के दौरान पंजाब ने यही कहा की पंजाब के साथ शुरूआत से ही इंसाफ नहीं हो रहा.



अब सतलुज यमुना लिंक नहर मामले पर अगली सुनवाई सोमवार को होगी और इस दौरान केन्द्र सरकार भी सुप्रीम कोर्ट के सामने अपना पक्ष रखेगा.
हरियाणा में सत्ता परिर्वतन के बाद केंद्र सरकार ने हरियाणा और पंजाब को दोनों राज्यों के लंबित मामले निपटाने के निर्देश जारी किए थे. जिसके लिए केंद्रीय जलसंसाधन मंत्री उमा भारती की अध्यक्षता में दोनों राज्यों के मंत्रियों की दो बार बैठकें भी हुई थी. लेकिन ये बैठकें बेनतीजा निकली. अब दोनों प्रदेशों की निगाहें सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर टिकी हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading