लाइव टीवी

गिरफ्तार ISIS आतंकियों का खुलासा- हिंदू नेताओं की हत्या का मिला था टारगेट, दीवार पर लगे पोस्टरों से जुटानी थी जानकारी

News18Hindi
Updated: January 11, 2020, 12:51 PM IST

जफर नाम के एक आतंकी ने कहा कि वो शहादत के लिए यहां पर आया था. RSS और हिन्दू नेताओं की हत्या के लिए टारगेट दिया गया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 11, 2020, 12:51 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दो दिन पहले देश की राजधानी दिल्ली (Delhi) में पकड़े गए ISIS के तीन संदिग्ध आतंकियों ने बड़ा खुलासा किया है. पूछताछ के दौरान जफर नाम के एक आतंकी ने खुफिया एजेंसी (Intelligence Agency) को बताया है कि वो शहादत के लिए यहां आया था. उसको यहां पर बड़े और फेमस हिंदू नेताओं की हत्या करने का टारगेट दिया गया था. बड़े नेताओं की जानकारी उसे शहर की दीवारों पर लगे पोस्टरों से जुटानी थी. इसके बाद पूरे प्लानिंग के साथ उनके ऊपर हमला किया जाता. उसने यह भी बताया कि उन्हें सेना और पुलिस के भर्ती कैंप (Recruitment Camp) की रेकी करने की भी जिम्मेदारी दी गई थी. उन्हें उनके आकाओं (हैंडलर) से कहा गया था कि यदि कोई वर्दी पहने हुए बड़ा अधिकारी दिखे तो उसकी हत्या कर दो.

खुफिया एजेंसी के अधिकारियों के मुताबिक, इन तीनों आतंकियों की योजना देश के विभिन्न शहरों में बड़े हमले की थी. इसके अलावा आरएसएस के कई बड़े नेता भी उनके निशाने पर थे. अधिकारियों का कहना है कि पकड़े गए ISIS आतंकवादियों की उत्तर प्रदेश भी में बड़े हमले करने की साजिश थी. ऐसे में उत्तर प्रदेश एटीएस अब दिल्ली एटीएस से संंपर्क में है. वो इन्हें अपने कब्जे में लेकर पूछताछ की तैयारी में है. इस बीच पूछताछ में यह भी खुलासा हुआ है कि आपस में बातचीत करने के लिए ये तीनों आतंकी ऐसे ऐप का इस्तेमाल करते थे कि कम्युनिकेशन खत्म होते ही टेक्स्ट अपने-आप डिलिट हो जाते थे.

9 जनवरी को तीनों आतंकी पकड़े गए थे
बता दें कि नौ जनवरी को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने एनकाउंटर के बाद ISIS के तीन संदिग्धों को पकड़ा था. तब पुलिस अधिकारी पीएस कुशवाहा ने बताया था कि गिरफ्तार तीनों आरोपी तमिलनाडु से फरार थे. इनके तीन और साथी थे जो नेपाल भाग गए. इन तीनों पर आरोप है कि ये दिल्ली और वेस्टर्न उत्तर प्रदेश में टेरर स्ट्राइक करने वाले थे. ये आतंकी संगठन आईएसआईएस माड्यूल से प्रभावित थे. इसके अलावा ये एक नेता की हत्या में भी शामिल थे.

ये भी पढ़ें- 

बाइक चोरी करते पकड़े गए बदमाशों ने की फायरिंग, हमले में मकान मालिक घायल

पंचायत चुनाव 2020: चौथे चरण के चुनाव में हो सकता है बड़ा बदलाव, यह है कारण

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 11, 2020, 12:19 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर