लाइव टीवी

दिल्ली में वायु प्रदूषण की गंभीर हुई स्थिति, ईसीपीए कर रही है निगरानी
Delhi-Ncr News in Hindi

भाषा
Updated: December 10, 2018, 10:34 PM IST
दिल्ली में वायु प्रदूषण की गंभीर हुई स्थिति, ईसीपीए कर रही है निगरानी
दिल्ली में वायु प्रदूषण

केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड या सीपीसीबी ने समग्र वायु गुणवत्ता इंडेक्स (एक्यूआई) 412 दर्ज किया है. जो गंभीर श्रेणी में आता है.

  • भाषा
  • Last Updated: December 10, 2018, 10:34 PM IST
  • Share this:
दिल्ली की वायु गुणवत्ता सोमवार को ‘गंभीर’ स्थिति में पहुंच गई. अधिकारियों के अनुसार हवा की स्थिरता से प्रदूषण का फैलाव रूक जाने के कारण आगे यह और खराब होगी. सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण प्राधिकरण (ईपीसीए) के अध्यक्ष भूरेलाल ने बताया कि वह स्थिति की निगरानी कर रहे हैं.

अगर गंभीर स्थिति 48 घंटे तक जारी रहता है. तब कड़ी कार्रवाई की जाएगी और क्रमिक प्रतिक्रिया कार्य योजना लागू की जाएगी. केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड या सीपीसीबी ने समग्र वायु गुणवत्ता इंडेक्स (एक्यूआई) 412 दर्ज किया है. जो गंभीर श्रेणी में आता है. सीपीसीबी के आंकड़े के मुताबिक पड़ोसी गाजियाबाद नोएडा और फरीदाबाद में भी वायु गुणवत्ता गंभीर श्रेणी में आ गई है.

नोएडा की वायु गुणवत्ता सबसे खराब श्रेणी में दर्ज की गयी और यहां का एक्यूआई 452  रहा. 201 और 300  के बीच के एक्यूआई को खराब 301 और 400  के बीच को बहुत खराब , 401 और 500  एक्यूआई को गंभीर माना जाता है. सीपीसीबी के मुताबिक दिल्ली में 19 इलाकों में वायु गुणवत्ता गंभीर श्रेणी में और 10 इलाकों में बहुत खराब श्रेणी में दर्ज की गयी है.



कड़ी कार्रवाई में सम-विषम कार नियंत्रण योजना जैसे आपात उपाय शामिल हैं. अगर लगातार दो दिनों तक पीएम 2.5 स्तर प्रति घन मीटर 300 माइक्रोग्राम रहता है और पीएम 10 स्तर प्रति घन मीटर 500 माइक्रोग्राम से ऊपर रहता है, तो शहर में निर्माण गतिविधियों पर प्रतिबंध लग जाएगा.



गंभीर श्रेणी में स्वस्थ लोगों को भी सांस लेने में मुश्किल होती है और डॉक्टर शारीरिक गतिविधि कम से कम रखने की सलाह देते हैं. अधिकारियों ने बताया कि वे स्थिति पर करीबी नजर रखे हुये हैं. इसमें बताया गया है कि कुल पीएम 2.5 स्तर 257 और पीएम 10 स्तर 445 दर्ज किया गया.

केन्द्र सरकार की तरफ से संचालित वायु गुणवत्ता और मौसम पूर्वानुमान प्रणाली (सफर) ने कहा कि अगले दो दिनों में दिल्ली की कुल वायु गुणवत्ता और खराब होगी. इसमें बताया गया है, ‘कल तक इसी तरह की वायु में इसी तरह की सीमा रहने की संभावना है जो बुधवार से कम होगी। जमीन पर बहने वाली शांत हवा प्रदूषक तत्वों को आगे नहीं ले जा पा रही है.’

सफर ने कहा, ‘हवा शांत है और बिखराब कम है. पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव नमी के साथ और हवा को भारी बनाकर दिल्ली की वायु गुणवत्ता को प्रभावित कर सकता है. तापमान में अपेक्षित गिरावट और मध्यम स्तर की धुंध से आगामी दो दिनों में प्रदूषण बढ़ने की आशंका है. यह बहुत खराब के ऊपरी श्रेणी तक रह सकता है.

सफर ने कहा कि अगर पर्याप्त मात्रा में बारिश होती है तो वायु गुणवत्ता में बुधवार से सुधार हो सकता है. गौरतलब है कि बारिश होने की संभावना व्यक्त की गई है.

ये भी पढ़ें:

प्रयागराज: महाराष्ट्र के श्रद्धालुओं से भरी नाव यमुना में पलटी, 3 की मौत, 5 लापता

प्रयागराज कुंभ: 3500 करोड़ के विकास कार्यों का लोकार्पण करेंगे PM नरेंद्र मोदी

नशेड़ी ने पत्नी को मिट्टी का तेल डालकर जलाया- पत्नी बची, पति की जलकर मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 10, 2018, 10:34 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading