चोरी के जेवर खरीदने को खोला था शोरुम, जब पुलिस ने पकड़ा तो जज ने जमानत देने से यह कहकर कर दिया इंकार

चोरी और लूट के जेवर खरीदने वाले ज्वैलर को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया है.
चोरी और लूट के जेवर खरीदने वाले ज्वैलर को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया है.

कोर्ट (Court) में मामले की सुनवाई के दौरान दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने बताया के समय यह पाया गया यह ज्वेलर्स लंबे समय से अपराधियों से सस्ते में गहने खरीद रहा था. उसके खिलाफ पहले से ही कई सारे मुकदमे (Case) अलग-अलग जगहों पर दर्ज हैं.

  • Last Updated: October 19, 2020, 1:27 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) में आए दिन चोरी की वारदात बढ़ रही हैं. ऐसे में चोरी के जेवर खरीदने के आरोपी एक ज्वैलर को दिल्ली की कड़कड़डूमा कोर्ट (karkardooma court) ने जमानत देने से इनकार कर दिया. ज्वैलर को दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया था. जब कोर्ट को पता चला कि आरोपी चोरी के जेवर खरीदता है. यह काम करने के लिए उसने एक शोरुम भी बनाया हुआ है तो कोर्ट ने यह कहकर की ऐसे लोगों की वजह से ही कुछ लोग चोरी और लूट (Loot) का शिकार होते हैं और उनकी जीवनभर की कमाई लुट जाती है जमानत (Bail) देने से इंकार कर दिया.

ज्वैलर चोरी का माल न खरीदें तो कम हो सकती हैं लूट की वारदात

मामले की सुनवाई करते हुए कड़कड़डूमा कोर्ट ने यह कहा कि कुछ लोगों की बुरी नियत के कारण बहुत बड़ी आबादी लूट-झपटमारी और चोरी की वारदातों का शिकार बन रही है. अगर ज्वैलर सस्ते में गहना ना खरीदें तो चोरी-झपटमारी और लूट करने वालों को शह नहीं मिलेगी. लेकिन ऐसे ज्वैलर्स के कारण ही वारदातों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. लिहाजा इस मामले में ज्वैलर्स को किसी भी सूरत में जमानत नहीं मिल सकती है. जांच अधिकारी ने कड़कड़डूमा कोर्ट में मामले की सुनवाई करने वाले जज को बताया कि इससे पहले भी दो बार इस ज्वैलर की जमानत याचिका को नामंcourtजूर किया जा चुका है.



यह भी पढ़ें: नवरात्र स्पेशल: देश में यहां होता है माता रानी की लाल चुनरी और पोशाक का करोड़ों रुपये का कारोबार
चोरी के गहने खरीदने के कई मुकदमे दर्ज हैं ज्वैलर पर

कोर्ट में मामले की सुनवाई के दौरान जांच अधिकारी ने बताया के समय यह पाया गया यह ज्वेलर्स लंबे समय से अपराधियों से सस्ते में गहने खरीद रहा था. उसके खिलाफ पहले से ही कई सारे मुकदमे अलग-अलग जगहों पर दर्ज हैं. हालांकि इस बार चोरी की गई सोने की अंगूठी बरामदगी के मामले में वह पकड़ा गया है. लेकिन छानबीन की गई तो पता चला कि उसका पूरा कारोबार ही चोरी के गहने खरीदने का है उसने उत्तर-पूर्वी दिल्ली में एक शोरुम भी खोल रखा है.

मामले की सुनवाई के दौरान जांच अधिकारी ने कोर्ट को यह भी बताया कि आरोपी ज्वेलर्स ने खुद बताया कि वह चोरी के गहने खरीदकर उन्हें गला देता था लेकिन इस बार अंगूठी गला पाता उससे पहले ही चोर पुलिस के हत्थे चढ़ गया और उसने ज्वेलर्स का पता पुलिस को बता दिया. और उसके बाद एक बड़ा मामला सामने खुलकर आया जिसमें यह पता चला कि ज्वेलर्स का पूरा का पूरा कारोबार ही चोरी के गहने खरीदने का है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज