राहुल गांधी को देखकर मनोज तिवारी को आई 'गजनी' की याद, कहा- बौद्धिकता पर है संदेह

मनोज तिवारी ने कहा कि फिशरी मिनिस्ट्री पर दिए गए बयान को लेकर पूरे देश में राहुल गांधी की फजीहत हुई है. (फाइल फोटो)

मनोज तिवारी ने कहा कि फिशरी मिनिस्ट्री पर दिए गए बयान को लेकर पूरे देश में राहुल गांधी की फजीहत हुई है. (फाइल फोटो)

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के फिशरी मिनिस्ट्री को लेकर दोबारा किए गए ट्वीट पर दिल्ली भाजपा के पूर्व अध्यक्ष व सांसद मनोज तिवारी ने कहा कि कांग्रेस नेता मूर्खता का इतिहास बनाने में लगे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 24, 2021, 1:55 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बीजेपी सांसद मनोज तिवारी (Manoj Tiwari) ने कहा कि राहुल गांधी मूर्खता का इतिहास बनाने में लगे हैं. उन्होंने कहा कि उत्तर भारत हो या दक्षिण भारत, पूरा देश बौद्धिकता से मुद्दों को समझने में परिपूर्ण है. सिर्फ राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के ऊपर डाउट है. तिवारी ने कहा कि पूरे उत्तर भारत में जनता ने वर्षों तक इन लोगों को सांसद और प्रधानमंत्री बनाया. लेकिन जनता ने अब उन लोगों को नकार दिया है. उन्हें अमेठी में हार का सामना करना पड़ा. यही वजह है कि उन्होंने पूरे उत्तर भारत पर सवाल खड़ा किया है. वे भारत को बांटने की कोशिश कर रहे हैं. बीजेपी सांसद ने कहा कि राहुल गांधी मूर्खता का इतिहास बनाएं, लेकिन देश के लोगों को बांटने की कोशिश न करें.

राहुल गांधी के फिशरी मिनिस्ट्री को लेकर दोबारा किए गए ट्वीट पर मनोज तिवारी ने कहा राहुल गांधी का यह ट्वीट देखकर मुझे गजनी फिल्म याद आ गई. राहुल गांधी गजनी बन चुके हैं. जैसे गजनी के कैरेक्टर में वह सब कुछ भूल जाता था, ऐसे ही राहुल गांधी जी को भी कुछ याद नहीं रहता है. वे भी सब कुछ भूल जाते हैं. जिस व्यक्ति को सब कुछ भूल जाने की आदत हो, उसके नेतृत्व में कांग्रेस का यही हाल होगा. बाहर के लोग ही नहीं बल्कि कांग्रेस के लोग भी राहुल की मूर्खता से परेशान हैं. लेकिन राहुल गांधी की टीम है वह भी उन्हें मूर्ख बनाने में लगी हुई है. मनोज तिवारी ने कहा कि फिशरी मिनिस्ट्री पर दिए गए बयान को लेकर पूरे देश में राहुल गांधी की फजीहत हुई है.

कांग्रेस के लिए चिंता का विषय है

उन्होंने कहा कि दिल्ली में जिस तरीके से 5 राज्यों को लेकर अलर्ट जारी किए जाने की खबर आ रही है इसको लेकर ज्यादा जानकारी नहीं है, लेकिन कोविड- से अलर्ट भी जरूरी है. गुजरात में आम आदमी पार्टी जिस तरीके से अपनी जीत को लेकर चल रही है वह कांग्रेस के लिए चिंता का विषय है हमारे लिए नहीं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज