Home /News /delhi-ncr /

अगर गाजियाबाद में प्‍लॉट है और निर्माण नहीं कराया है तो GDA ले सकता है एक्‍शन, पढ़ें पूरी खबर

अगर गाजियाबाद में प्‍लॉट है और निर्माण नहीं कराया है तो GDA ले सकता है एक्‍शन, पढ़ें पूरी खबर

निरस्‍त  हो सकता है प्‍लाट  का आवंटन

निरस्‍त हो सकता है प्‍लाट का आवंटन

Delhi-NCR News: अगर गाजियाबाद में खरीदे प्‍लॉट पर 10 साल बाद भी निर्माण नहीं कराया है तो जीडीए इसका आवंटन निरस्‍त कर सकता है. अथॉरिटी ने इसको लेकर सर्वे भी कराया है.

    गाजियाबाद. अगर आपका एनसीआर के गाजियाबाद में प्‍लॉट (Plot) है और अभी तक निर्माण नहीं कराया है तो यह आपके लिए बड़े काम की खबर है. अगर प्‍लॉट के आवंटित हुए 10 साल से ज्‍यादा हो गए हैं तो गाजियाबाद विकास प्राधिकरण (Ghaziabad Development Authority) कार्रवाई करने की तैयारी कर रहा है. इसके लिए जीडीए (GDA) सर्वे कराकर प्‍लॉटों को चिह्नित कर रहा है. जीडीए के अधिकारियों के अनुसार ऐसे मामलों में आवंटन तक निरस्‍त (Canceled) किया जा सकता है.

    गाजियाबाद विकास प्राधिकरण (Ghaziabad Development Authority) की विभिन्‍न योजनाओं में तमाम भूखंड आवंटित किए गए गए हैं. इनमें से बहुत सारे ऐसे हैं, जो 15 साल या इससे पहले आवंटित किए गए हैं, लेकिन अभी तक इनमें निर्माण नहीं हुआ है. ऐसे भूखंडों को चिन्हित करने के बाद जीडीए ने पिछले दिनों सर्वे शुरू कराया है. सर्वे की शुरुआती रिपोर्ट के अनुसार नेहरूनगर, कविनगर, गांधीनगर, शास्‍त्रीनगर और इंदिरापुरम में ऐसे 60 भूखंड चिन्हित किए गए हैं.

    इन भूखंड के मूल आवंटी को नोटिस भेजकर मामले की जांच कराई गई तो पता चला कि 60 आवंटियों में से 45 ने भूखंड को फ्री होल्ड करा लिया था, जबकि 15 ने फ्री होल्ड नहीं कराया है. जीडीए सभी भूखंड स्‍वामियों को अंतिम नोटिस जारी करेगा. जवाब से संतुष्‍ट न होने पर आवंटन निरस्त किया जा सकता है.

    ये भी पढ़े: उत्‍तर प्रदेश की पहली आवासीय लैंडपूलिंग योजना दिल्‍ली बार्डर पर जल्‍द आएगी

    मालूम हो कि जीडीए से आवंटित भूखंड पर आवंटन की तिथि से 5 साल तक अनिर्माण शुल्क की छूट है. इसके बाद कुछ शुल्क लेकर यह अवधि 5 साल बढ़ाई जा सकती है, लेकिन इसके बाद भी कोई निर्माण नहीं करता है तो आवंटन निरस्तीकरण का प्रावधान है.

    Tags: Delhi-ncr, Ghaziabad News

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर