Home /News /delhi-ncr /

दिल्ली: प्रदूषण नियंत्रण से जुड़े इन 14 नियमों का पालन कर ही अब आप कर सकेंगे कंस्ट्रक्शन का काम

दिल्ली: प्रदूषण नियंत्रण से जुड़े इन 14 नियमों का पालन कर ही अब आप कर सकेंगे कंस्ट्रक्शन का काम

दिल्ली में कंस्ट्रक्शन साइट पर प्रदूषण नियंत्रण से जुड़े 14 नियमों का सख्ती से पालन करना होगा.

दिल्ली में कंस्ट्रक्शन साइट पर प्रदूषण नियंत्रण से जुड़े 14 नियमों का सख्ती से पालन करना होगा.

केजरीवाल सरकार (Kejriwal Government) ने दिल्ली के अंदर कंस्ट्रक्शन-डिमोलिशन (Construction & Demolition) और बाहर से आने वाले ट्रकों (Truck Entry) पर लगी रोक हटा दी है. दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय (Gopal Rai) ने कहा कि दिल्ली में निर्माण कार्यों की अनुमति दी जा रही है, लेकिन कंस्ट्रक्शन साइट पर प्रदूषण (Pollution) नियंत्रण से जुड़े 14 नियमों (14 Rules) का सख्ती से पालन करना होगा. निर्माणाधीन साइट पर अगर 14 नियमों का पालन नहीं होता है तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. केजरीवाल सरकार (Kejriwal Government) ने दिल्ली के अंदर कंस्ट्रक्शन-डिमोलिशन (Construction & Demolition) और बाहर से आने वाले ट्रकों (Truck Entry) पर लगी रोक हटा दी है. दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय (Gopal Rai) ने कहा कि दिल्ली में निर्माण कार्यों की अनुमति दी जा रही है, लेकिन कंस्ट्रक्शन साइट पर प्रदूषण (Pollution) नियंत्रण से जुड़े 14 नियमों (14 Rules) का सख्ती से पालन करना होगा. निर्माणाधीन साइट पर अगर 14 नियमों का पालन नहीं होता है तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. साइट को सील करने के साथ-साथ कानूनी कार्रवाई पहलुओं पर भी विचार किया जा सकता है. दिल्ली में एंटी डस्ट अभियान, एंटी ओपन बर्निंग, पानी का छिड़काव और पीयूसी जांच का अभियान पहले की तरह ही जारी रहेगा.

बता दें कि डीपीसीसी ने कंस्ट्रक्शन साइट्स पर धूल को उड़ने से रोकने के लिए सड़कों की मैकेनिकल स्वीपिंग, पानी का छिड़काव, बीच के हिस्से में हरियाली करने, फुटपाथ के बगल में हरित क्षेत्र विकसित करने जैसे तमाम उपाय अपनाने को भी कहा है. दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने सोमवार को कहा, ‘दिल्ली के अंदर दिवाली के बाद प्रदूषण का स्तर लगातार बढ़ता गया और एक्यूआई का स्तर 500 तक पहुंच गया. दिल्ली का प्रदूषण स्तर लगातार सप्ताह भर तक गंभीर श्रेणी में रहा. प्रदूषण खतरनाक स्थिति तक पहुंच गया था. उसको देखते हुए दिल्ली के अंदर सभी निर्माण और डिमोलिशन की गतिविधियों पर बैन लगा दिया गया था. राष्ट्रीय महत्व की गतिविधि वाले कंस्ट्रक्शन साइट्स को ही निर्माण कार्य की अनुमति दी गई थी. इसके साथ ही दिल्ली के अंदर जितने भी बाहर से ट्रक आ रहे थे, उनके ऊपर बैन लगा दिया गया था. सिर्फ अत्यावश्यक सेवाओं से जुड़े ट्रकों को छूट दी गई थी. दिल्ली के अंदर स्कूल-कॉलेज को बंद कर दिया गया था. अब धीरे-धीरे दिल्ली में प्रदूषण की स्थिति में लगातार सुधार और स्थिरता दिख रही है. पिछले 10 दिनों से किसी भी दिन गंभीर स्थिति में दिल्ली का एक्यूआई स्तर नहीं पहुंचा है.’

दिल्ली में कंस्ट्रक्शन साइट्स पर हटी बैन, दिल्ली में फिर से होंगे काम शुरू, प्रदूषण नियंत्रण, इन 14 नियमों का अब करना होगा सख्ती से पालन, प्रदूषण नियंत्रण, इन 14 नियमों का पालन ऐसे करें, दिल्ली में कस्ट्रक्शन का काम, Permission for construction works in Delhi, Kejriwal government, lifts the ban, construction-demolition activity, trucks entry allows, 14 anti dust norms, Gopal Rai, anti dust norms, Delhi Air Pollution, CAQM, Delhi Truck Entry, Delhi Construction,

दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय लगातार कंस्ट्रक्शन साइट्स पर निरीक्षण कर रहे हैं.

प्रदूषण के स्तर में गिरावट के बाद दिल्ली सरकार दी राहत
राय ने कहा कि दिल्ली में लगाए गए प्रतिबंधों में छूट देने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने कमीशन फॉर एयर क्वालिटी मैनेजमेंट को अधिकृत किया था, ताकि अलग-अलग विभागों से जो आवेदन आ रहे हैं उस पर विचार करके छूट का निर्णय ले. पिछले दिनों शिक्षा विभाग से आवेदन आया था कि दिल्ली के अंदर जो छठवीं कक्षा से ऊपर के छात्रों के लिए स्कूल-कॉलेज को खोला जाए. उसको एयर क्वालिटी मैनेजमेंट कमीशन ने अनुमति दी थी. दिल्ली के अंदर ऐसे सभी स्कूल-कॉलेज खोले जा चुके हैं. कक्षा एक से पांचवीं तक का भी निर्णय आने के बाद उनको खोला जाएगा.’

कंस्ट्रक्शन और डिमोलिशन गतिविधि अब पहले की तरह
गोपाल राय ने कहा कि दिल्ली के अंदर जितने भी कंस्ट्रक्शन और डिमोलिशन की गतिविधि बैन थी, उन सभी को खोला जा रहा है. दिल्ली में आज से इन गतिविधियों को अनुमति दी जा रही है, लेकिन कंस्ट्रक्शन साइट पर प्रदूषण नियंत्रित करने के जो 14 नियम हैं, उनका सभी निजी-सरकारी एजेंसियों को सख्ती से पालन करना पड़ेगा. अगर वह पालन नहीं करती हैं तो उन कंपनियों और कंस्ट्रक्शन साइट के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. इसके अलावा जरूरत पड़ने पर उनको सील भी किया जा सकता है. इसलिए कंस्ट्रक्शन-डिमोलिशन का कार्य करने वाली जिम्मेदार एजेंसियों से निवेदन है कि कंस्ट्रक्शन-डिमोलिशन कार्य को करने की अनुमति मिल रही है इसका कोई नाजायज फायदा ना उठाएं. इसको लेकर किसी तरह की लापरवाही न बरतें. डीपीसीसी, एसडीएम, एमसीडी सहित सभी एजेंसियों की टीमें द्वारा दिल्ली के अंदर निर्माणाधीन साइटों की लगातार निगरानी-निरीक्षण का काम चलता रहेगा.

ये भी पढ़ें: Omicron Attack: तो क्या फिर दिल्ली में लगने जा रहा है Lockdown? जानें क्या करने जा रही केजरीवाल सरकार

दिल्ली के पर्यावरण मंत्री ने कहा कि दिल्ली में ट्रकों के प्रवेश पर बैन था. अब सभी ट्रकों को दिल्ली के अंदर आने की अनुमति दी जा रही है. इसके अलावा दिल्ली में सी एंड डी प्रबंधन के लिए पोर्टल बनाया हुआ है. पांच सौ वर्ग मीटर एवं उस से ज्यादा के क्षेत्र में जो भी लोग निर्माण कर रहे हैं, उन लोगों को निर्देश दिया जा रहा है कि वह अपना रजिस्ट्रेशन उस साइट पर कर लें. दिल्ली में बहुत सारे लोगों ने पंजीकरण किया है, लेकिन कुछ लोगों ने अभी तक नहीं किया है. उन लोगों को भी निर्देश दिया गया है कि उसपर पंजीकरण कर लें, जिससे कि उसकी निगरानी की जा सके.

Tags: Air Pollution AQI Level, Air pollution in Delhi, Arvind Kejriwal led Delhi government, Construction work, Delhi news, Gopal Rai

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर