होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /दिल्‍ली: चोरी करने गए शख्‍स की बेरहमी से पिटाई, अस्‍पताल में तोड़ा दम, CCTV में कैद हुआ पूरा मामला

दिल्‍ली: चोरी करने गए शख्‍स की बेरहमी से पिटाई, अस्‍पताल में तोड़ा दम, CCTV में कैद हुआ पूरा मामला

पुलिस ने आईपीसी 304 का मामला दर्ज किया है.

पुलिस ने आईपीसी 304 का मामला दर्ज किया है.

दिल्ली के पांडव नगर (Pandav Nagar) इलाके में चोरी के प्रयास के दौरान स्‍थानीय लोगों ने उस शख्‍स की जमकर पिटाई कर दी. इल ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. पूर्वी दिल्ली (East Delhi) के पांडव नगर इलाके (Pandav Nagar Area) में चोरी करने गए एक शख्‍स की जमकर पिटाई हुई थी. उसके बाद इलाज के दौरान हॉस्पिटल में उसकी मौत हो गई. पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज (CCTV Footage) के आधार पर इस मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है. सीसीटीवी फुटेज में चोरी के आरोपी शख्‍स की जमकर पिटाई करने का वाकया देखा गया. पिटाई की पूरी वारदात सीसीटीवी कैमरे में क़ैद हो गई. पुलिस इस आरोपी चोर को लेकर गई थी. उसके बाद 9 जून को इलाज के दौरान इस चोर की मौत हो गई थी. इस मामले में पुलिस ने आईपीसी 304 का मामला दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

जानकारी मिली है कि पांडव नगर में 9 जून को करीब सुबह चार बजे चोरी करने आए 2 युवक गली के एक मकान के अंदर जाने की कोशिश करने लगे. इस दौरान इसकी भनक लगने पर आसपास के कुछ लोगों ने एक शख्‍स को लाठी-डंडे से पीट पीटकर अधमरा कर दिया. जबकि उसका एक साथी मौके से भाग गया.

चोरी का प्रयास करने वाले शख्‍स को पकड़ने के बाद लोगों ने पुलिस को कॉल किया और उसे मंडावली थाना पुलिस के हवाले कर दिया. जिसके बाद सलमान नामक शख्‍स की लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गयी. इलाके के लोगों ने जिस तरह से कानून हाथ मे लिया था उसके बाद पुलिस ने आईपीसी 304 का मामला दर्ज किया और इसमें एक आरोपी राजू नाम के शख्स को सीसीटीवी फुटेज के आधार पर गिरफ्तार कर लिया है, जबकि मामले में अभी जांच की जा रही है. बता दें कि इस इलाके में पहले भी चोरी की घटनाएं हुई थीं. इससे यहां के स्‍थानीय लोग पहले ही सचेत हो गए थे. कुछ महीनों पहले पांडव नगर में चोरों ने एक मकान में हाथ साफ किया था.



ये भी पढ़ें:  सरकारी अस्‍पतालों में 70% बेड खाली तो मरीजों को क्‍यों नहीं मिल रही जगह?

Tags: CCTV camera footage, Death, Delhi, Delhi news, Delhi police, Thief

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें