दिल्ली में वृक्षारोपण कार्यों का थर्ड पार्टी ऑडिट, मंत्री ने जल्द रिपोर्ट सौंपने के दिए आदेश

पर्यावरण मंत्री ने वृक्षारोपण से जुड़े कार्यों में पारदर्शिता और निगरानी सुनिश्चित करने के लिए सभी कार्यों की ऑडिट रिपोर्ट देने के निर्देश दिये हैं. (File Photo)

पर्यावरण मंत्री ने वृक्षारोपण से जुड़े कार्यों में पारदर्शिता और निगरानी सुनिश्चित करने के लिए सभी कार्यों की ऑडिट रिपोर्ट देने के निर्देश दिये हैं. (File Photo)

Delhi Plantation Drive: वर्तमान में डीएमआरसी, एनडीएमसी, डीयूएसआईबी, डीडीए, दिल्ली छावनी, डीजेबी, ईडीएमसी, पीडब्ल्यूडी, उत्तरी डीएमसी और दक्षिण डीएमसी सहित अन्य हरित एजेंसियां विभिन्न संगठनों के माध्यम से वृक्षारोपण का स्वतंत्र ऑडिट करा रही हैं.

  • Share this:

नई दिल्ली. दिल्ली सरकार ( Delhi Government) की ओर से चलाए जाने वाले वृक्षारोपण कार्यों का ऑडिट कराया जा रहा है. दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय (Gopal Rai) ने वृक्षारोपण (Plantation) से जुड़े कार्यों में पारदर्शिता और निगरानी सुनिश्चित करने के लिए सभी कार्यों के ऑडिट को जल्द पूरा करके रिपोर्ट देने के निर्देश भी दिये हैं.

पर्यावरण मंत्री के निर्देश पर वन और वन्यजीव विभाग राज्य में वृक्षारोपण कार्यों को बेहतर करने के लिए सभी हरित एजेंसियों के वृक्षारोपण कार्यों का एक थर्ड पार्टी स्वतंत्र ऑडिट करा रहा है. मंत्री राय ने तीसरे पक्ष के जरिए वृक्षारोपण कार्यों के स्वतंत्र ऑडिट पर जोर दिया था.

वन और वन्यजीव विभाग के 2016-17, 2017-18 और 2018-19 के सर्वेक्षण कार्य को वन अनुसंधान संस्थान, देहरादून ने पूरा कर लिया है और जुलाई के अंत तक रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी.

वर्तमान में डीएमआरसी, एनडीएमसी, डीयूएसआईबी, डीडीए, दिल्ली छावनी, डीजेबी, ईडीएमसी, पीडब्ल्यूडी, उत्तरी डीएमसी और दक्षिण डीएमसी सहित अन्य हरित एजेंसियां विभिन्न ऑडिट एजेंसियों के माध्यम से वृक्षारोपण का स्वतंत्र ऑडिट करा रही हैं.
दिल्ली के वृक्षारोपण कार्यों का स्वतंत्र ऑडिट कृषि अनुसंधान संस्थान नई दिल्ली, वन अनुसंधान संस्थान देहरादून और मेसर्स सीईआईएल (सर्टिफिकेशन इंजीनियर्स इंटरनेशनल लिमिटेड) की ओर से किया जा रहा है.

मंत्री गोपाल राय ने कहा कि वन एवं वन्य जीव विभाग राज्य में वृक्षारोपण कार्य करने वाली सभी हरित एजेंसियों के साथ ऑडिट करवा रहा है. कुछ हरित एजेंसियों ने पौधों के जीवित रहने पर थर्ड पार्टी स्वतंत्र सर्वे करवाएं हैं. एनडीएमसी ने 2016-17 और 2017-18 में, डीडीए ने 2018-19 में, पीडब्ल्यूडी ने 2016-17, 2017-18, 2018-19 और वन विभाग ने 2009-10 से 2015-16 तक थर्ड पार्टी सर्वे करवाए हैं.

वर्तमान में डीएमआरसी, एनडीएमसी, डीयूएसआईबी, डीडीए, दिल्ली छावनी, डीजेबी, ईडीएमसी, पीडब्ल्यूडी, उत्तरी डीएमसी और दक्षिण डीएमसी सहित अन्य हरित एजेंसियां विभिन्न संगठनों के माध्यम से वृक्षारोपण का स्वतंत्र ऑडिट करा रही हैं.



दिल्ली के वृक्षारोपण कार्यों का स्वतंत्र ऑडिट कृषि अनुसंधान संस्थान नई दिल्ली, वन अनुसंधान संस्थान देहरादून और मेसर्स सीईआईएल (सर्टिफिकेशन इंजीनियर्स इंटरनेशनल लिमिटेड) की ओर से किया जा रहा है. वन और वन्यजीव विभाग के 2016-17, 2017-18 और 2018-19 के सर्वेक्षण कार्य को वन अनुसंधान संस्थान, देहरादून ने पूरा कर लिया है और जुलाई के अंत रिपोर्ट देगी.

वन और वन्यजीव विभाग दूसरी हरित एजेंसियों शिक्षा विभाग, उत्तर रेलवे, बीएसईएस, सीपीडब्ल्यूडी, डीएसआईआईडीसी, डीटीसी, पर्यावरण विभाग (बागवानी) और एनडीपीएल आदि के साथ वृक्षारोपण का ऑडिट लगातार कर रहा है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज