दिल्ली की इस निगम ने बनाए 191 मॉडल पब्लिक टॉयलेट, महिला सफाई सैनिकों को सौंपी Pink Toilets की जिम्मेदारी!

स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 के मद्देनजर आदर्श सार्वजनिक शौचालय नवनीतम सुविधाओं से युक्त बनाये गये हैं.

स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 के मद्देनजर आदर्श सार्वजनिक शौचालय नवनीतम सुविधाओं से युक्त बनाये गये हैं.

साउथ निगम ने स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 और ओ.डी.एफ++ प्रमाण पत्र प्राप्ति के मद्देनजर सभी चारों जोन में 191 आदर्श सार्वजनिक शौचालय बनाये है. यह सार्वजनिक शौचालय सभी नवनीतम सुविधाओं से युक्त है. दक्षिणी जोन में ऐसे 61 शौचालय, पश्चिमी और मध्य जोन में 50 शौचालय और नजफगढ़ जोन में 30 शौचालय बनाये गये हैं. महिलाओं के लिये बनाये गये पिंक टॉयलेट में अलग से फीड़िंग और चेंजिग स्थान भी उपलब्ध कराया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 10, 2021, 9:23 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. साउथ निगम (South MCD) ने स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 (Swachh Survekshan 2021) और ओ.डी.एफ++ प्रमाण पत्र प्राप्ति के मद्देनजर सभी चारों जोन में 191 आदर्श सार्वजनिक शौचालय बनाये है. यह सार्वजनिक शौचालय सभी नवनीतम सुविधाओं से युक्त है.

दक्षिणी जोन में ऐसे 61 शौचालय, पश्चिमी और मध्य जोन में 50 शौचालय और नजफगढ़ जोन में 30 शौचालय बनाये गये हैं. यह शौचालय पश्चिमी पुरी, मादीपुर, रघुबीर नगर, जनकपुरी, हरिनगर, डिस्टिक पार्क विकासपुरी, बिंदापुर, ग्रीन पार्क, बी ब्लॉक मार्किट वसंत विहार, मोती बाग मार्किट, आर.के.पुरम, मालवीय नगर, लाड़ो सराय कालकाजी, शेख सराय, पालम, द्वारका, महिपालपुर, नवादा, लाजपत नगर, ग्रेटर कैलाश आदि क्षेत्रों में बनाये गये हैं.

SDMC, Model Toilets made by Sdmc
स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 के मद्देनजर आदर्श सार्वजनिक शौचालय नवनीतम सुविधाओं से युक्त बनाये गये हैं.


स्‍वच्‍छ भारत म‍िशन (Swachh Bharat Mission) के नाेडल अधि‍कारी राजीव जैन (Nodal Officer Rajiv Jain) ने बताया कि‍ एसडीएमसी कम‍िश्‍नर ज्ञानेश भारती (Commissioner Gyanesh Bharti) के नि‍र्देशों पर यह सभी अभि‍यान चलाये जा रहे हैं. यह सभी टॉयलेट भी उनके द‍िशा नि‍र्देशों  पर तैयार क‍िये गये हैं.  जैन ने बताया क‍ि इन शौचालयों में नवनीतम सुविधाएं जैसे कि महिलाओं के लिये सैनिटरी नैपकिन वैंडिग मशीन, नेपकिन इंसीनरेटर मशीन, सोप-डिस्पेन्सर, हेंड-ड्रायर, उचित वेन्टीलेशन, 24x7 पानी और बिजली की सुविधा, दिव्यांगो और बच्चों के लिये विशेष कम उंचाई वाली टॉयलेट सीट, डस्टबीन आदि उपलब्ध है.
जैन ने बताया सभी सार्वजनिक शौचालयों (Public Toilets) का रखरखाव दक्षिणी निगम और एन.जी.ओ द्वारा किया जा रहा है और यह सुनिश्चित किया जाता है कि हर समय सफाई व्यवस्था बनी रहे. ये शौचालय सुबह दस बजे से लेकर रात दस बजे तक खुले रहते हैं. निगम अधिकारियों द्वारा लगातार इनका निरीक्षण किया जाता है. सभी शौचालयों पर विज्ञापन लगाने की भी सुविधा उपलब्ध है.

SDMC made Model Toilets
स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 के मद्देनजर आदर्श सार्वजनिक शौचालय नवनीतम सुविधाओं से युक्त बनाये गये हैं.


इसके अतिरिक्त दक्षिणी निगम ने महिलाओं के लिये बनाये गये पिंक टॉयलेट (Pink Toilet) का रखरखाव भी सफलतापूर्वक किया जा रहा है. पिंक टॉयलेट महिलाओं को सुरक्षित, सुलभ जन सुविधा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से बनाये गए है. इनमें अलग से फीड़िंग और चेंजिग स्थान भी उपलब्ध कराया गया है.



निगम ने इन महिला शौचालयों (Women Toilets) में सुरक्षाप्रबंध, बिजली और पानी की आपूर्ति के प्रबंध किये हैं. इन पिंक टॉयलेट का रखरखाव विशेष कर महिला सफाई सैनिकों द्वारा किया जा रहा है और इन टॉयलेट की लोकेशन गूगल मैप पर भी उपलब्ध है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज