दिल्ली की इस निगम ने 300 जगहों पर कूड़ा घरों व दिवारों पर उकेर डालीं खूबसूरत वॉल पेंटिंग! जानें क्या है इसके पीछे का मकसद?

ने स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 के अंतर्गत मुख्यतः ढलाव घरों और कार्यालय की दीवारों पर सुंदर वॉल पेंटिंग बनवाई हैं.

एनडीएमसी का इन पेंटिंग्स को बनवाने के पीछे मुख्य उद्देश्य क्षेत्र के सौंदर्यकरण के साथ-साथ नागरिकों को स्वच्छता के प्रति जागरूक करना है. वहीं, अच्छी स्वच्छ आदतों को अपनाने के लिए प्रोत्साहित करना भी है. ढलाव घर गिरी नगर, दिल्ली गेट ढलाव घर, J E स्टोर निजामुद्दीन पूर्व, कंपोजिट पिट सुंदर नगर, द्वारका अंडरपास, द्वारका से 23 सामुदायिक भवन, सत गुरु राम सिंह मार्ग मायापुरी, निकट मॉडर्न स्कूल वसंत विहार, प्रेस एनक्लेव मार्ग निकट मैक्स अस्पताल, इत्यादि जगहों पर ये पेंटिंग्स देखी जा सकती हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. साउथ दिल्ली नगर निगम (South MCD) इन दिनों स्वच्छ सर्वेक्षण-2021 (Swachh Survekshan-2021) की तैयारियों में जोर-शोर से जुटी हुई है. आए दिन अनूठी पहल शुरू कर स्वच्छता अभियान के साथ आम लोगों को जोड़ने का काम भी कर रही है.


    सार्वजनिक स्थलों से बैनर, पोस्टर होर्डिंग हटाने और स्पेशल सैनिटेशन ड्राइव शुरू करने के साथ-साथ अब एक और अच्छी पहल शुरू की है. निगम ने अपने डलाव घरों को और दीवारों को खूबसूरत बनाने की कवायद की है.


    साउथ एमसीडी में स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 के अंतर्गत अब सभी चार जोनों में 300 से अधिक जगहों पर सुंदर वॉल पेंटिंग बनवाई हैं. यह सभी पेंटिंग मुख्यतः ढलाव घरों और एसडीएमसी कार्यालय की दीवारों पर बनवाई गई हैं जो बेहद ही खूबसूरत और आकर्षक नजर आती हैं.


    दक्षिणी दिल्ली नगर निगम का इन पेंटिंग्स को बनवाने के पीछे मुख्य उद्देश्य क्षेत्र के सौंदर्यकरण के साथ- साथ नागरिकों को स्वच्छता के प्रति जागरूक करना तथा अच्छी स्वच्छ आदतों को अपनाने के लिए प्रोत्साहित करना है.


    ढलाव घर गिरी नगर, दिल्ली गेट ढलाव घर, J E स्टोर निजामुद्दीन पूर्व, कंपोजिट पिट सुंदर नगर, द्वारका अंडरपास, द्वारका से 23 सामुदायिक भवन, सत गुरु राम सिंह मार्ग मायापुरी, निकट मॉडर्न स्कूल वसंत विहार, प्रेस एनक्लेव मार्ग निकट मैक्स अस्पताल, इत्यादि जगहों पर ये पेंटिंग्स देखी जा सकती हैं.


    स्वच्छ सर्वेक्षण के अंतर्गत जनता को जागरूक किए जाने वाले कार्यों के बारे में बताते हुए दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के कमिश्नर ज्ञानेश भारती ने बताया कि निगम ने जनता को जागरूक करने के लिए कई पहल की हैं.


    इसमें प्लास्टिक के बदले खाना देने के लिए सभी क्षेत्रों में गार्बेज कैफे आरंभ किए गए हैं. इसके अलावा स्वच्छ सर्वेक्षण से जुड़े मुद्दों पर आधारित नुक्कड़ नाटक एवं लघु फिचर फिल्म निर्माण प्रतियोगिता भी शामिल है. वहीं, निगम ने स्वच्छता के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले कर्मचारियों को सम्मानित भी किया है.


    इसी कड़ी में वॉल पेंटिंग्स बनाना भी शामिल है. इसके अंतर्गत विभिन्न स्थानों पर स्वच्छता संदेश देने वाली चित्रकारी उकेरी गई है जैसे गीले एवं सूखे कूड़े को अलग करना, दीवारों पर स्वच्छता संदेश देने वाली पंक्तियां लिखना इत्यादि भी है.


    कमिश्नर भारती ने कहा कि पिछला पूरा वर्ष कोरोना (Corona) महामारी से निपटने में लग गया जिसमें की सीमित संसाधनों में कार्य करते हुए निगम ने उत्कृष्ट कार्य किया है. हमारा उद्देश्य अपने क्षेत्र को स्वच्छ एवं सुंदर बनाना है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.