दिल्‍ली: यहां मिल रहीं सबसे सस्‍ती मूर्तियां, सिर्फ 12 रुपये में खरीदें लक्ष्‍मी-गणेश

दिल्‍ली के उत्‍तम नगर की कुम्‍हार कॉलोनी में महज 12 रुपये में लक्ष्‍मी गणेश की मूर्ति मिल रही है. दिवाली के लिए यहां सबसे सस्‍ती मूर्तियां मिल रही हैं.
दिल्‍ली के उत्‍तम नगर की कुम्‍हार कॉलोनी में महज 12 रुपये में लक्ष्‍मी गणेश की मूर्ति मिल रही है. दिवाली के लिए यहां सबसे सस्‍ती मूर्तियां मिल रही हैं.

राष्‍ट्रपति पुरस्‍कार से सम्‍मानित कुम्‍हार कॉलोनी के प्रजापति हरिकिशन प्रधान ने न्‍यूज18 हिंदी को बताया कि इस मोहल्‍ले में कई सौ घर हैं जो सिर्फ मिट्टी के आयटम बनाने का काम करते हैं. इस बार दिवाली को लेकर खास तैयारियां की गई हैं. साथ ही लोग भी पारंपरिक भारतीय सामान खरीद रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 1, 2020, 3:51 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. दिवाली (Diwali) का त्‍यौहार नजदीक आ गया है. ऐसे में त्‍यौहार की खरीदारी में जुटे लोगों के लिए खुशखबरी है. दिल्‍ली का एक ऐसा इलाका है जहां कोरोना की वजह से बिगड़े बजट में भी आप दिवाली के लिए सुंदर और सजी हुई  लक्ष्‍मी-गणेश की मूर्तियां (Laxmi-Ganesh idols) बेहद कम कीमत पर खरीद सकते हैं. यहां के कारीगरों का दावा है कि दिल्‍ली में यहां सबसे सस्‍ती मिट्टी की बनी लक्ष्‍मी गणेश की प्रतिमा बेची जा रही हैं. यहां छह रुपये में भी मिट्टी की बनी सादा लक्ष्‍मी-गणेश की मूर्ति मिल रही है.

उत्‍तम नगर (Uttam Nagar) के पास बनी कुम्‍हार कॉलोनी (Kumhar Colony), प्रजापति कॉलोनी या कुम्‍हार मोहल्‍ला वही इलाका है जहां सबसे सस्‍ती मूर्तियां बेची जा रही हैं. इसके पास ही स्थित विकास नगर भी है जहां के कुम्‍हार पिछले कई महीनों से दिवाली के लिए मिट्टी के सामान बना रहे हैं. दिवाली के लिए कुम्‍हार कॉलोनी में पूरा बाजार सज चुका है और पूरी दिल्‍ली से लोग आकर यहां मूर्तियां खरीद रहे हैं.

दिल्‍ली उत्‍तम नगर कुम्‍हार कॉलोनी, दिवाली, लक्ष्‍मी गणेश,
मिट्टी की बनी ये लक्ष्‍मी गणेश की प्रतिमाएं न केवल देखने में सुंदर हैं बल्कि इनके दाम देखकर भी आप चौंक जाएंगे.




राष्‍ट्रपति पुरस्‍कार से सम्‍मानित कुम्‍हार कॉलोनी के प्रजापति हरिकिशन प्रधान ने न्‍यूज18 हिंदी को बताया 1कि इस मोहल्‍ले में कई सौ घर हैं जो सिर्फ मिट्टी के आयटम बनाने का काम करते हैं. इस बार दिवाली को लेकर खास तैयारियां की गई हैं. साथ ही लोग भी पारंपरिक भारतीय सामान खरीद रहे हैं. इस बार यहां लक्ष्‍मी गणेश की मूर्तियों के साथ ही दीए, मिट्टी का सजावटी सामान, मिट्टी के बर्तन काफी सस्‍ते दामों पर मिल रहे हैं.
दिवाली, थोक, उत्‍तम नगर, बाजार, कुम्‍हार कॉलोनी, प्रजापति
दिल्‍ली के उत्‍तम नगर की कुम्‍हार कॉलोनी में महज 12 रुपये में लक्ष्‍मी गणेश की ऐसी मूर्ति मिल रही हैंं. दिवाली तक थोक के अलावा यहां से रिटेल में भी खरीदी जा सकती हैं.


12 रुपये में मिल रहा लक्ष्‍मी-गणेश का जोड़ा

इस बार महज 12 रुपये में लक्ष्‍मी गणेश का पॉलिश किया और सजा हुआ जोड़ा मिल रहा है. इसके अलावा 20 रुपये में, 25 रुपये में रंगों से सजा हुआ, 35 रुपये में गोल्‍डन पॉलिश आउटलाइन वाला, 40 और 55 रुपये में छत्र और सिंहासन वाला, 65-120 रुपये में बड़े सिंहासन और छत्र वाला रंगीन जोड़ा मिल रहा है. ये देखने में बहुत सुंदर हैं और मजबूत भी हैं. इन मूर्तियों के साइज भी मंदिर में रखने के लिए बनाए गए हैं. ज्‍यादा बड़ी मूर्तियां भी यहां बाजार से आधे दामों पर मिल रही हैं.

दिल्‍ली के उत्‍तम नगर की कुम्‍हार कॉलोनी में बाजार से आधे दामों में मिट्टी की लक्ष्‍मी गणेश की मूर्तियां मिल रही हैं.
दिल्‍ली के उत्‍तम नगर की कुम्‍हार कॉलोनी में बाजार से आधे दामों में मिट्टी की लक्ष्‍मी गणेश की मूर्तियां मिल रही हैं.


दिवाली पर ही मिलती है यहां से मूर्तियां खरीदने की छूट

हरिकिशन प्रधान बताते हैं कि यहां आम बाजार से आधे से भी कम कीमत में लक्ष्‍मी-गणेश की मूर्तियां मिल जाती हैं. जबकि दिवाली पास आते ही कई बाजारों में यहां से चार गुने से छह गुने दाम वसूले जाते हैं.

वे बताते हैं कि यहां थोक का कारोबार होता है. यहां से पूरी दिल्‍ली ही नहीं बल्कि आसपास के राज्‍यों में रिटेलर सामान ले जाते हैं. इसके साथ ही विदेशों में भी यहां से निर्यात के लिए सामान लिया जाता है. थोक के बावजूद हरकरवाचौथ-दिवाली पर यहां रिटेल में सामान खरीदने की भी सुविधा रहती है. लोग यहां आकर थोक के रेट में रिटेल में सामान ले जाते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज