दिल्ली के इस अस्पताल में बन रहा है 1500 बेड वाला देश का सबसे ऊंचा ब्लॉक, 450 करोड़ रुपये आएगी लागत

दिल्ली के एलएनजेपी अस्पताल परिसर में यह ब्लॉक बन रहा है.
दिल्ली के एलएनजेपी अस्पताल परिसर में यह ब्लॉक बन रहा है.

LNJP अस्पताल का नया ब्‍लॉक ढाई साल की जगह 2 साल में ही बनकर तैयार होगा. दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (CM Arvind kejriwal) ने दावा किया कि उनकी सरकार में समय से पहले कम खर्च में प्रोजेक्ट पूरा होता है. 

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 23, 2020, 3:53 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश की राजधानी दिल्ली और उसके आसपास के राज्यों में रहने वालों के लिए बड़ी खुशखबरी है. अब दिल्ली में इलाज के दौरान बेड के लिए न तो इंतज़ार करना होगा और न ही इधर से उधर भटकना होगा. आने वाले कुछ वक्त में एलएनजेपी अस्पताल (LNJP Hospital) परिसर में ही 1500 बेड की क्षमता वाला एक ब्लॉक बनकर तैयार हो जाएगा. इस ब्लॉक की लागत करीब 450 करोड़ रुपये आएगी. दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (CM Arvind kejriwal) का दावा है कि कम एरिया में यह देश का सबसे ऊंचा ब्लॉक होगा. 23 अक्टूबर को सीएम अरविंद केजरीवाल ने इस ब्लॉक का शिलान्यास किया.

शुक्रवार को पूजा-पाठ और हवन, आरती के बाद सीएम अरविंद केजरीवाल ने एलएनजेपी अस्पताल के नए बिल्डिंग ब्लॉक का शिलान्यास किया. इस बिल्डिंग के तैयार होने के बाद एलएनजेपी अस्पताल 3500 बेड का हो जाएगा. सीएम ने दावा किया कि कम क्षेत्रफल में बनने वाला देश का यह सबसे ऊंचा अस्पताल होगा. कुल 25 मंजिला इमारत में तीन मंजिला बेसमेंट और 22 मंजिल की ऊंचाई होगी.

LNJP hospital, Delhi, bed in hospital, CM arvind kejriwal, hospital in delhi, एलएनजेपी अस्पताल, दिल्ली, अस्पताल में बिस्तर, सीएम अरविंद केजरीवाल, दिल्ली में अस्पताल
नए ब्लॉक का शिलान्यास करते दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल.




यह भी पढ़ें- ड्यूटी पर तैनात दिल्ली पुलिस के जवान को किया किडनैप, पिस्‍टल छीनकर बस से फेंका
1.5 करोड़ नहीं 30 लाख रुपये प्रति बेड आएगा खर्च
सीएम केजरीवाल ने इस मौके पर कहा कि दूसरे राज्यों में एक बेड बनाने का खर्चा करीब एक से डेढ़ करोड़ रुपये आता है, जबकि इस ब्‍लॉक में सिर्फ 30 लाख रुपये प्रति बेड की दर से तैयार होगा. अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अस्पताल आधुनिक सुविधाओं से लैस तो होगा ही.

कम क्षेत्रफल में ऊंची इमारत देखने लायक भी होगी. जबकि इसी सरकार में बुराड़ी और अम्बेडकर नगर अस्पताल करीब 3 साल की देरी से तैयार हुआ. फिलहाल अब इंतजार इस नई इमारत के समय से तैयार होने का है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज