Home /News /delhi-ncr /

Noida हेलीपोर्ट की तीन रिपोर्ट को मिली मंजूरी, जल्द 36 शहरों की उड़ान भरेंगे Bell-MI हेलीकॉप्टर

Noida हेलीपोर्ट की तीन रिपोर्ट को मिली मंजूरी, जल्द 36 शहरों की उड़ान भरेंगे Bell-MI हेलीकॉप्टर

एक बैठक में नोएडा हेलीपोर्ट से जुड़ी डिटेल्ड प्रोजेक्ट रिपोर्ट, बिड दस्तावेज और कंसेशन एग्रीमेंट रिपोर्ट को मंजूरी मिल गई है. demo pic

एक बैठक में नोएडा हेलीपोर्ट से जुड़ी डिटेल्ड प्रोजेक्ट रिपोर्ट, बिड दस्तावेज और कंसेशन एग्रीमेंट रिपोर्ट को मंजूरी मिल गई है. demo pic

जल्द ही यहां से देश के दो बड़े आईजीआई (IGI Airport) और जेवर एयरपोर्ट और करीब 36 शहरों के लिए हेलीकॉप्टर सर्विस (Helicopter Service) शुरु हो जाएगी.

    नोएडा. जेवर एयरपोर्ट (Jewar Airport) के साथ ही नोएडा को हेलीपोर्ट की सौगात मिलने का रास्ता साफ हो गया है. हाल ही में हुई एक बैठक में नोएडा हेलीपोर्ट (Noida Heliport) से जुड़ी डिटेल्ड प्रोजेक्ट रिपोर्ट, बिड दस्तावेज और कंसेशन एग्रीमेंट रिपोर्ट को मंजूरी मिल गई है. वित्त विभाग को भी सभी रिपोर्ट भेजी जा रही हैं. जिस कंपनी का भी चयन किया जाएगा वो 30 साल तक हेलीपोर्ट का संचलन करेगी. हेलीपोर्ट के लिए जमीन नोएडा अथॉरिटी (Noida Authority) की होगी तो निवेश प्राइवेट कंपनी करेगी. इस कमाई में अथॉरिटी का भी हिस्सा होगा. हेलीकॉप्टर की बड़ी कंपनी पवन हंस भी इसमे दिलचस्पी दिखा रही है. हेलीपोर्ट गोल्फ मैदान (Golf Ground) के पास सेक्टर 151ए में बनाने की तैयारी है. जल्द ही यहां से देश के दो बड़े आईजीआई (IGI Airport) और जेवर एयरपोर्ट और करीब 36 शहरों के लिए हेलीकॉप्टर सर्विस (Helicopter Service) शुरु हो जाएगी. बेल 412 और एमआई 172 डिजाइन के हेलीकॉप्टर नोएडा से उड़ान भरने लगेंगे.

    गौरतलब रहे परि चौक से हेलीपोर्ट की दूरी 12 किमी और महामाया फ्लाईओवर से 20 किमी की होगी. हेलीपोर्ट के लिए 10 एकड़ से ज्यादा जमीन का अधिग्रहण हो चुका है. जबकि गोल्फ का मैदान करीब 90 एकड़ में बनकर तैयार हो रहा है.

    यहां के लिए सीधे उड़ान भरेंगे हेलीकॉप्टर 

    नोएडा अथॉरिटी के जानकारों की मानें तो आईजीआई एयरपोर्ट और जेवर में बनने वाले नए एयरपोर्ट के लिए हेलीकॉप्टर सीधे उड़ान भरेंगे. इसके साथ ही हेलीकॉप्टर मथुरा-आगरा के लिए भी पर्यटकों को लेकर जाएंगे. चर्चा यह भी है कि बड़ी-बड़ी मल्टीनेशनल कंपनियों की मौजूदगी को देखते हुए गुरुग्राम और फरीदाबाद के लिए भी यह सर्विस शुरु की जाएगी.

    Noida से ग्रेटर नोएडा जाना हुआ आसान, FNG को बिसरख पुल से जोड़ने का काम शुरू

    इसके साथ ही नोएडा से 200 से 300 किमी के दायरे में आने वाले मसूरी, यमुनोत्री, पंतनगर, नैनीताल, उत्तरकाशी, सहस्त्रधारा, श्रीनगर, गौचर, अल्मोड़ा, नया टिहरी, शिमला, बद्दी, हरिद्वार, जयपुर, चंडीगढ़ और औली के लिए भी सर्विस शुरु होगी. लेकिन चर्चा ऐसी भी है कि उत्तराखंड के शहरों को हेलीकॉप्टर वाया देहरादून उड़ान भरेंगे. क्योंकि देहरादून में पहले से ही हेलीकॉप्टर की सेवाएं चालू हैं. इसी तरह से वाया वैष्णो देवी (कटरा) के लिए भी हेलीकॉप्टर नोएडा से उड़ेंगे. 300 से 400 किमी के दायरे में आने वाले बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री, धारचूला, जोशीमठ, रामपुर, नाथपा झाकरी, मंडी, अजमेर और 400 से 500 किमी के दायरे में आ रहे मनाली, डलहौजी, बीकानेर, जोधपुर और अयोध्या के लिए भी हेलीकॉप्टर सर्विस शुरु की जाएगी.

    इसलिए कामयाब होगी हेलीकॉप्टर सर्विस

    जानकार बताते हैं कि कई ऐसे बड़े प्रोजेक्ट हैं जो नोएडा और उससे सटे इलाकों में जल्द ही शुरु होने वाले हैं. जैसे जेवर एयरपोर्ट, दिल्ली-मुम्बई रेल कॉरिडोर, गौतमबुद्ध नगर और बुलंदशहर के 80 गांवों में बसने वाला नया नोएडा शहर, यमुना एक्सप्रेस-वे के किनारे राया, टप्पल और आगरा में नया शहर बसाना, टप्पल के पास डिफेंस कॉरिडोर, ग्रेटर नोएडा से सटकर बनने वाला लॉजिस्टिक और वेयर हाउस हब के साथ ही ग्रेटर नोएडा, यमुना सिटी और नोएडा में कई बड़े आईटी-आईटीएमएस और टॉय पार्क जैसे प्रोजेक्ट शुरु होने हैं.

    Tags: Helicopter Shot, Jewar airport, Noida Authority

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर