Assembly Banner 2021

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच पर्यटक कैंसेल कर रहे दिल्ली की बुकिंग, संकट में होटल व्यवसायी

न्यूज़18 कार्टून

न्यूज़18 कार्टून

कोरोना (Corona) संक्रमण के मामले बढ़ने के बाद एक बार फिर पर्यटक को की बुकिंग प्रभावित होने लगी है. दूसरे राज्यों से दिल्ली (Delhi) घूमने आने वाले पर्यटक अपनी बुकिंग रद्द करा रहे हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना (Corona) संक्रमण के मामले बढ़ने के बाद एक बार फिर पर्यटक को की बुकिंग प्रभावित होने लगी है. दूसरे राज्यों से दिल्ली (Delhi) घूमने आने वाले पर्यटक अपनी बुकिंग रद्द करा रहे हैं. होटल की बुकिंग भी प्रभावित हो रही है. नाइट कर्फ्यू की घोषणा के बाद जो लोग होटल में ठहरे हुए थे, उनके परिजनों से संपर्क साध रहे हैं. जिन्होंने होटल बुक कर रखे थे वह भी रद्द कराने के लिए पूछताछ कर रहे हैं. कनॉट प्लेस में बनी दिल्ली के एक रेस्टोरेंट के जीएम रंजीत वर्मा ने बताया कि लंच और डिनर के समय पर जो रेस्टोरेंट भीड़ से भरे होते थे. आज वह खाली पड़े हैं, जिस तरीके से नाइट कर्फ्यू लगाया गया है. उसका असर कोरोना केस करने पर तो नहीं पड़ रहा है लेकिन बिजनेस पर जरूर पड़ रहा है. क्योंकि केस तो लगातार फिर भी बढ़ रहे हैं.

रंजीत वर्मा कहते हैं कि सरकार को यह आर्डर पास करने से पहले होटल इंडस्ट्री और अन्य इंडस्ट्री पर पड़ने वाले असर के बारे में भी सोचना चाहिए था. 2020 में सब कुछ खत्म हो गया उम्मीद थी कि 2021 में चीजें ठीक होंगी, लेकिन इस तरीके के आर्डर आर्थिक व्यवस्था को चरमरा रहे हैं. उन्होंने बताया कि एक रेस्टोरेंट्स से कई सारे लोग जुड़े होते हैं जिनकी नौकरियां होती है. अगर इसी तरीके के हालात रहे तो लोगों की नौकरियां जाएंगी और एक बार फिर से होटल इंडस्ट्री बैकफुट पर आ जाएगी. पहले ही होटल इंडस्ट्री घाटे में चल रही है और अब जिस तरीके से रोज नए ऑर्डर पास किए जाते हैं. उसका असर सीधे बिजनेस पर पड़ता है.

घर से बाहर नहीं निकल रहे लोग
कोविड-19 से लोग डरे हुए हैं. घरों से बाहर नहीं निकल रहे इसी का कारण है कि बुकिंग कैंसिल की जा रही है रेस्टोरेंट्स खाली पड़े हैं. उन्होंने बताया कि हमारे यहां अप्रैल में 8 से 10 बुकिंग थी, लेकिन नाइट कर्फ्यू के चलते वह बुकिंग भी कैंसिल कर दी गई और जिस तरीके से पार्टी फंक्शन में लोगों की संख्या सीमित कर दी गई है. उसका असर भी होटल इंडस्ट्री पर पड़ रहा है. होटल कर्मचारियों के परिजन उन्हें वापस बुला रहे हैं. दिल्ली सरकार ने कहा था कि होटल इंडस्ट्री को वापस अर्थव्यवस्था पर लाने के लिए हम काम करेंगे, लेकिन जिस तरीके से सरकार आर्डर दे रही है उससे तो नहीं लगता कि होटल इंडस्ट्री फिर से उठ पाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज