Home /News /delhi-ncr /

नोएडा ट्रैफिक पुलिस ने एंबुलेंस के लिए बनाया ग्रीन कॉरिडोर, 14 मिनट में तय हुआ 14KM का सफर, बची शख्‍स की जान

नोएडा ट्रैफिक पुलिस ने एंबुलेंस के लिए बनाया ग्रीन कॉरिडोर, 14 मिनट में तय हुआ 14KM का सफर, बची शख्‍स की जान

नोएडा ट्रैफिक पुलिस की ग्रीन कॉरिडोर बनाने के लिए जमकर तारीफ हो रही है.

नोएडा ट्रैफिक पुलिस की ग्रीन कॉरिडोर बनाने के लिए जमकर तारीफ हो रही है.

Noida Traffic Police: नोएडा ट्रैफिक पुलिस ने ग्रीन कॉरिडोर बनाकर एंबुलेंस को चिल्‍ला बॉर्डर से नोएडा के सेक्‍टर 128 में बने जेपी अस्‍पताल (Jaypee Hospital) तक 14 मिनट में 14 किलोमीटर की दूरी तय करवा कर पहुंचा दिया. इस काम के लिए ट्रैफिक पुलिस की जमकर तारीफ हो रही है.

अधिक पढ़ें ...

नोएडा. दिल्‍ली से सटे यूपी के नोएडा में नोएडा ट्रैफिक पुलिस (Noida Traffic Police) ने एंबुलेंस के लिए ग्रीन कॉरिडोर (Green Corridor) बनाकर 14 मिनट में 14 किलोमीटर की दूरी तय करवा दी. दरअसल एंबुलेंस को चिल्ला बॉर्डर से नोएडा के सेक्टर 128 में बने जेपी अस्पताल (Jaypee Hospital) पहुंचाया, जहां डॉक्‍टरों ने सुरक्षित ऑर्गन ट्रांसप्लांट करके एक व्‍यक्ति की जान बचा ली. वहीं, नोएडा ट्रैफिक पुलिस की ग्रीन कॉरिडोर बनाने के लिए जमकर तारीफ हो रही है.

डीसीपी ट्रैफिक गणेश प्रसाद साहा ने बताया कि लिवर को एंबुलेंस के जरिए दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल से लाया जा रहा था. इसके लिए पहले से ही तैयारियां कर ली गई थीं. जबकि ग्रीन कॉरिडोर बनाने से यह रास्ता एंबुलेंस ने ट्रैफिक पुलिस के साथ 14 मिनट से कम समय में तय किया. जेपी अस्पताल की ओर से ग्रीन कॉरिडोर की मांग की गई थी और सूचना मिलते ही लक्ष्य को पूरा करने के लिए ट्रैफिक पुलिस ने पूरी ताकत लगा दी. यही नहीं, निर्धारित समय में लिवर पहुंचा दिया गया और समय पर ट्रांसप्लांट होने से व्‍यक्ति की जान बच गयी.

ऐसे 14 किलोमीटर का तय किया सफर
बता दें कि दिल्‍ली के सर गंगाराम अस्पताल से ब्रेन डेड 30 साल के डोनर का लिवर लेकर चली एंबुलेंस चिल्ला बॉर्डर पर शाम 4 बजकर 28 मिनट पर पहुंची. जबकि लिवर को सुरक्षित और समय से अस्‍पताल पहुंचाने के लिए सड़क के एक हिस्से को खाली करवा दिया गया. ग्रीन कॉरिडोर और ट्रैफिक पुलिस की निगरानी में एंबुलेंस ने 14 किलोमीटर की दूरी का यह सफर 14 मिनट में पूरा करवा कर 4 बजकर 42 मिनट पर लिवर को अस्पताल पहुंचाया. जबकि लुधियाना के 36 साल के मरीज का लिवर ट्रांस्पालंट किया गया है.

Delhi-NCR के लोगों को लगा महंगाई का एक और झटका, CNG-PNG की बढ़ी कीमत, फटाफट चेक करें नये रेट

इसके अलावा डीसीपी ट्रैफिक गणेश प्रसाद साह के निर्देशों पर ट्रैफिक निरीक्षक आशुतोष सिंह ने ग्रीन कॉरिडोर को तैयार किया और एंबुलेंस को सुरक्षित जेपी अस्पताल पहुंचाया. जबकि एंबुलेंस को तय समय से पहले पहुंचाने पर नोएडा ट्रैफिक पुलिस की जमकर तारीफ हो रही है.

Tags: Green Corridor, Hospital, Noida Expressway, Noida news, Traffic Police

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर