ट्रैफिक सिपाही ने दिखाई धौंस, बीच सड़क युवक को मारी लात, वीडियो वायरल

गाजियाबाद एसएसपी ने पूरे मामले की जांच के आदेश दिए हैं. (Demo Pic)
गाजियाबाद एसएसपी ने पूरे मामले की जांच के आदेश दिए हैं. (Demo Pic)

अब वीडियो वायरल होने के बाद गाजियाबाद एसएसपी ने पूरे मामले की जांच के आदेश दिए हैं.

  • Share this:
गाजियाबाद. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गाजियाबाद (Ghaziabad) जिले से पुलिस की बर्बरता का एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. वाहन चेकिंग के नाम पर ट्रैफिक सिपाही (Traffic Police) ने एक दोपहिया वाहन चालक की बुरी तरह पिटाई कर दी. पुलिसकर्मी की मारपीट का वीडियो अब सोशल मीडिया में जमकर वायरल (Video Viral) हो रहा है. पूरा मामला गाजियाबाद के हापुड़ रोड का बताया जा रहा है. वीडियो में ट्रैफिक सिपाही एक शख्स को बीच सड़क लात मारता दिख रहा है. मामला यहां शांत नहीं हुआ. थोड़ी देर बाद एक और पुलिसकर्मी मौक पर पहुंचा है और जमीन पर गिरे उस शख्त की पिटाई करने लगता है. कहा जा रहा है कि पुलिस द्वारा की गई मारपीट का ये वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है.

घटना दो-तीन दिन पहले की बताई जा रही है. हापुड़ रोड पर गाड़ी चैकिंग के दौरान मौजूद कुछ राहगीरों ने ये पूरी वारदात का वीडियो बनाया. अब वीडियो वायरल होने के बाद गाजियाबाद एसएसपी ने पूरे मामले की जांच के आदेश दिए हैं. मालूम हो कि यह पहली घटना नहीं है जब पुलिस की बर्बरता का वीडियो सामने आया है. करीब एक हफ्ते पहले गाजियाबाद के एक ट्रैफिक इंस्पेक्टर को एक युवक की पिटाई करते हुए कैमरे में कैद किया जा चुका है. कुछ इसी तरह की एक घटना में आगरा में भी हुई थी जहां दो पुलिसकर्मियों ने एक स्थानीय निवासी की बेरहमी से पिटाई की दी थी. पुलिसकर्मियों ने इस शख्स का पीछे उसके घर तक किया था और लाठियों से पिटाई की थी.

ये भी पढ़ें: कभी करती थीं बॉलीवुड में एक्टिंग आज बन गईं बैतूल की SP



कुछ ऐसा भी कर रही है पुलिस 
मालूम हो कि सेंट्रल दिल्ली के डीसीपी संजय भाटिया ने पुलिसकर्मियों में जनकल्याण की भावना प्रेरित करने के लिए शानदार पहल की है. सेंट्रल दिल्ली जिला इलाके में महीने के आखिरी दिनों में 'पुलिस ऑफ द मंथ' (Police Of The Month) का चुनाव किया जाएगा. इसमें चयनित जवान का पोस्टर शानदार तरीके से प्रदर्शित किया जाएगा, जो एक महीने तक डीसीपी ऑफिस सहित आस-पास के चौक-चौराहे पर देखा जा सकेगा. साथ ही उस पोस्टर पर पुरस्कृत जवान के द्वारा किए गए बेहतर जनकल्याण के कार्यों के बारे में भी लिखा होगा. इसके अलावा उसे प्रमाणपत्र और नकद ईनाम से भी सम्मानित किया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज