Home /News /delhi-ncr /

अगले तीन वर्षों में दिल्‍ली से जोड़ने को बनेंगे दो एक्‍सप्रेसवे और एक हाईवे, जानें किन शहरों को होगा फायदा?

अगले तीन वर्षों में दिल्‍ली से जोड़ने को बनेंगे दो एक्‍सप्रेसवे और एक हाईवे, जानें किन शहरों को होगा फायदा?

तीन साल में तीनों सड़कों के बनकर तैयार होने की संभावना.

तीन साल में तीनों सड़कों के बनकर तैयार होने की संभावना.

Ministry of Road Transport: अगले तीन वर्षो में उत्‍तर प्रदेश के कई शहरों से राजधानी दिल्‍ली के लिए आवागमन आसान हो जाएगा. दिल्‍ली को जोड़ने के लिए दो एक्‍सप्रेसवे और एक हाईवे बनाया जा रहा है. इसमें दिल्‍ली-सहारनपुर हाईवे, गंगा एक्‍सप्रसे के अलावा दिल्‍ली- लखनऊ एक्‍सप्रेसवे शामिल है. दिल्‍ली- लखनऊ एक्‍सप्रेसवे की घोषणा एक दिन पूर्व सड़क परिवहन मंत्री नीतिन गडकरी ने की है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्‍ली. अगले तीन वर्षों में राजधानी दिल्‍ली (Capital Delhi) को उत्‍तर प्रदेश के विभिन्‍न शहरों से जोड़ने के लिए दो एक्‍सप्रेसवे (Expressway) और एक हाईवे (highway) का निर्माण होगा. इन तीनों का निर्माण अगले तीन वर्षों में होने की संभावना है. निर्माण के बाद दिल्‍ली से उत्‍तर प्रदेश के कई शहरों की दूरियां घट जाएंगी और आवागमन में लोगों का समय बचेगा. इनमें एक एक्‍सप्रेसवे और हाईवे का निर्माण सड़क परिवहन मंत्रालय (Ministry of Road Transport) कराएगा और एक का निर्माण उत्‍तर प्रदेश सरकार करा रही है.

सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने एक नए ग्रीन एक्‍सप्रेसवे की घोषणा एक दिन पूर्व ही मेरठ में की है. यह ग्रीन एक्‍सप्रेसवे दिल्‍ली से लखनऊ के बीच बनाया जाएगा. अभी दिल्‍ली से लखनऊ जाने के लिए पहले यमुना एक्‍सप्रेसवे और फिर ताज एक्‍सप्रेसवे होकर जाना पड़ता है. इसमें पांच घंटे से अधिक का समय लग जाता है, लेकिन ग्रीन एक्‍सप्रेसवे से दिल्‍ली से लखनऊ की दूरी महज 4 घंटे की होगी. इसका निर्माण कई चरणों में किया जाएगा. पहले चरण का निर्माण लखनऊ से कानपुर के बीच किया जा रहा है. इसका शिलान्‍यास 10 दिनों के अंदर किया जाएगा. इस एक्‍सप्रेसवे का फायदा गाजियाबाद, नोएडा के अलावा मेरठ, हापुड़ के आसपास के शहरों को मिलेगा. गाजियाबाद से कानपुर के बीच के लिए अध्‍ययन जारी है.

गंगा एक्‍सप्रेसवे का हो चुका है शिलान्‍यास
दूसरा गंगा एक्‍सप्रेसवे मेरठ से प्रयागराज तक बनाया जा रहा है. इसका शिलान्‍यास भी हो चुका है. यह देश का सबसे लंबा एक्सप्रेसवे होगा, जो कुल 594 किलोमीटर लंबा होगा. गंगा एक्सप्रेसवे मेरठ, हापुड़, बुलन्दशहर, अमरोहा, सम्भल, बदायूं और शाहजहांपुर जिले से गुजरेगा. हापुड़ और बुलन्दशहर सहित अन्य जिलों के लोगों के आवागमन के लिए गढ़मुक्तेश्वर में एक पुल बनाया जाएगा. वहीं, शाहजहांपुर हरदोई, उन्नाव, रायबरेली, प्रतापगढ़ होते हुए यह एक्‍सप्रेसव प्रयागराज तक जाएगा. इसके बनने के बाद गंगा के किनारे के शहरों में आवागमन आसान हो जाएगा.

तीसरा हाईवे  दिल्‍ली देहरादून यमुनोत्री हाईवे का सहारनपुर तक निर्माण किया जा रहा है, जो 196 किमी लंबा होगा. इसका काम शुरू हो चुका है. इसके बनने के बाद दिल्‍ली से बागपत, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर, हरिद्वार ऋषिकेश के लिए आवागमन आसान हो जाएगा. दो साल में यह बनकर तैयार हो जाएगा.

Tags: Highway, Nitin gadkari, Road and Transport Ministry, Union Minister Nitin Gadkari

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर