Home /News /delhi-ncr /

बच्चा चुराकर भाग रही थी गैंग की दो महिलाएं, टैक्सी ड्राइवर ने पहुंचा दिया हवालात

बच्चा चुराकर भाग रही थी गैंग की दो महिलाएं, टैक्सी ड्राइवर ने पहुंचा दिया हवालात

गुरुग्राम पुलिस ने बच्चा चोर गैंग का भंडाफोड़ किया है, गैंग के सदस्य राजस्थान और दिल्ली में बच्चों को 3 से 4 लाख रुपये में बेच देते थे.

गुरुग्राम पुलिस ने बच्चा चोर गैंग का भंडाफोड़ किया है, गैंग के सदस्य राजस्थान और दिल्ली में बच्चों को 3 से 4 लाख रुपये में बेच देते थे.

Gurugram Child Kidnapping Gang: गुरुग्राम पुलिस ने नवजात बच्चों की चोरी से जुड़े तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर सनसनीखेज मामले का खुलासा किया है. पुलिस ने दिल्ली की रहने वाली दो महिलाओं सुरेंदर कौर, नेहा और राजस्थान के रहने वाले हरजिंदर नाम के शख्स को गिरफ्तार कर इनके कब्जे से दो नवजात बच्चियों को सकुशल बरामद कर मामले की तफ़्तीश शुरू कर दी है. इस मामले में ACP क्राइम की माने तो पुलिस को शक है कि नवजात बच्चों की चोरी और खरीद-फरोख्त से जुड़ा यह गैंग 2014 सक्रिय है. दर्जनों नवजात बच्चों की चोरी कर राजस्थान और अन्य राज्यों में बेच चुका है.

अधिक पढ़ें ...

गुरुग्राम. हरियाणा के गुरुग्राम में नवजात बच्चों की चोरी के गैंग का पुलिस ने भंडाफोड़ (Gang of Child Kidnappings) किया है. पुलिस ने नवजात बच्चों की चोरी (Newborn Babies) मामले में 2 महिलाओं और एक पुरुष आरोपियों को गिरफ्तार किया है. गुरुग्राम पुलिस (Gurugram Police) ने आरोपियों के कब्जे से 2 नवजात बच्चियों को सकुशल बरामद किया है.

आरोपी दिल्ली से नवजात बच्चों की चोरी कर राजस्थान में 3 से 4 लाख में बेचते थे. पुलिस ने टैक्सी ड्राइवर की सजगता और सहयोग से बच्चा चोर गिरोह से जुड़े सुरेंद्र कौर, नेहा और हरजिंदर सिंह को गिरफ्तार किया है. पुलिस को अंदेशा है कि गिराेह के तार दिल्ली के कई अस्पतालों से जुड़े हो सकते हैं.

बच्चा चोर गैंग का सनसनीखेज खुलासा

गुरुग्राम पुलिस ने नवजात बच्चों की चोरी से जुड़े तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर सनसनीखेज मामले का खुलासा किया है. पुलिस ने दिल्ली की रहने वाली दो महिलाओं सुरेंदर कौर, नेहा और राजस्थान के रहने वाले हरजिंदर नाम के शख्स को गिरफ्तार कर इनके कब्जे से दो नवजात बच्चियों को सकुशल बरामद कर मामले की तफ़्तीश शुरू कर दी है.

वहीं इस मामले में ACP क्राइम की माने तो पुलिस को शक है नवजात बच्चों की चोरी और खरीद-फरोख्त से जुड़ा यह गैंग 2014 सक्रिय है. दर्जनों नवजात बच्चों की चोरी कर राजस्थान और अन्य राज्यों में बेचने के घृणित कार्य करता आ रहा है. बहरहाल गुरुग्राम पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है.

ऐसे पुलिस हत्थे चढ़े आरोपी 

दरअसल गुरुग्राम के नाथुपुर का रहने वाला उमेश टैक्सी चलाने का काम करता है. कल देर शाम जब वो दिल्ली के धौलाकुआं में सवारियों के इंतज़ार में खड़ा था, तभी दो महिलाएं दो नवजात बच्चियों को गोद में उठाये उसके पास आईं और राजस्थान के अलवर जाने के लिए कैब बुक की. पुलिस की माने तो महिलाएं कैब में ही बच्चों की खरीद-फरोख्त की डील करने में लगी थीं. जिसके चलते ड्राइवर को शक हुआ और उसने मौका मिलते ही इसकी जानकारी डीएलएफ फेज 3 के थाना प्रभारी को दे दी.

इसके बाद जैसे-जैसे पुलिस टैक्सी ड्राइवर उमेश को गाइड करती गयी, वैसे-वैसे उमेश करता चला गया. तीनों बच्चा चोर गिरोह को डीएलएफ फेज़ 3 पुलिस स्टेशन में ले आया, जहां गुरुग्राम पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर जांच शुरू की तो प्रारंभिक जांच में जो जानकारी निकलकर आ रही है, उससे गुरुग्राम पुलिस के भी होश फाख्ता हो गए.

क्राइम ब्रांच ने शुरू की छापेमारी

वहीं पुलिस को शक इस बात का भी है कि दिल्ली के कई अस्पतालों से इन बच्चा चोर गिरोह के तार जुड़े हो सकते हैं. लिहाजा इस मामले की तफ़्तीश अब क्राइम ब्रांच ने अपने हाथों में ले दिल्ली, राजस्थान और अन्य राज्यों में छापेमारी शुरू कर दी है.

Tags: Gurugram, Gurugram crime news, Gurugram Police

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर