Home /News /delhi-ncr /

Opinion: दिल्ली के प्रगति मैदान में भी दिख रही है उत्तर प्रदेश की विकास यात्रा

Opinion: दिल्ली के प्रगति मैदान में भी दिख रही है उत्तर प्रदेश की विकास यात्रा

दिल्ली के प्रगति मैदान व्यापार मेले में भी दिखेगा यूपी का विकास

दिल्ली के प्रगति मैदान व्यापार मेले में भी दिखेगा यूपी का विकास

International Trade Fair: इस बार अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में उत्तर प्रदेश भी फ़ोकस स्टेट है. यूपी के मंडप में लगभग सभी जिलों के स्टॉल लगाए गए हैं. इसमें हर जिलों के कलाकारों को अपने हुनर प्रदर्शित करने का अवसर दिया गया है. अमरोहा जिले के स्टॉल पर संगीत वाद्ययंत्र दिखा तो औरैया जिले के स्टाल पर देशी घी का स्टॉल लगाया गया है. जबकि वाराणसी के स्टॉल पर सिल्क के प्रोडक्ट उपलब्ध है.

अधिक पढ़ें ...

दिल्ली. उत्तर प्रदेश की विकास यात्रा अब दिल्ली के प्रगति मैदान में भी दिख रही है. इसके लिए संबंधित विभागों ने अच्छी खासी तैयारी की है. दरअसल, प्रदेश में एमएसएमई और कुटीर उद्योगों ने हाल के दिनों में अच्छी खासी तरक्की की है. उत्तर प्रदेश की इस उपलब्धि को इस बार दिल्ली के प्रगति मैदान में चल रहे भारत अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में खास तौर से दिखाया गया है. यूपी तैयारियों को देखते हुए मेले के उद्घाटन के मौके पर केंद्रीय वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने यूपी के काम की तारीफ भी की. उत्तर प्रदेश भी इस बार अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में फ़ोकस स्टेट भी है. यूपी के अतिरिक्त झारखंड को भी फोकस स्टेट में रखा गया है.

नई उड़ान नई पहचान की थीम
उत्तर प्रदेश के मंत्रियों और अधिकारियों बातचीत में बताते हैं कि पिछले लगभग साढ़े 4 साल में मजबूत और कुशल नेतृत्व के कारण प्रदेश का कायाकल्प हो रहा है. उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव आरके तिवारी का मानना है कि पिछले साढ़े 4 साल में प्रदेश के विकास को लेकर के काफी कुछ काम किए गए. राज्य सरकार इसकी थीम नई उड़ान नई पहचान और मिशन रोजगार के नाम पर दी है.

इसके कारण आज उत्तर प्रदेश एमएसएमई इकाईयों की स्थापना की दृष्टि से देश में प्रथम स्थान पर आ गया है. विदित है कि उत्तर प्रदेश में कुल 89.99 लाख इकाईयाँ पंजीकृत हैं, जोकि देश की कुल पंजीकृत इकाईयों का 14.20 प्रतिशत है. उत्तर प्रदेश से निर्यात में उल्लेखनीय वृद्धि दिखाई दी है. 2017-18 में प्रदेश से 88,967.42 करोड़ रुपये का निर्यात हुआ वहीं वर्ष 2019-20 में 1,20,356.34 करोड़ रुपया (35 प्रतिशत वृद्धि) का निर्यात हुआ जबकि वर्ष 2020-21 में 1,21,139.96 करोड़ रुपये का निर्यात किया गया.

यूपी सरकार के मंडप में ये है खास
इस ट्रेड फेयर में सभी राज्यों के मंडप को स्थान दिया गया है. यूपी सरकार के मंडप में लगभग सभी जिलों के स्टॉल लगाए गए हैं. इसमें हर जिलों के कलाकारों को अपने हुनर प्रदर्शित करने का अवसर दिया गया है. अमरोहा जिले के स्टॉल पर संगीत वाद्ययंत्र दिखा तो औरैया जिले के स्टाल पर देशी घी का स्टॉल लगाया गया है. जबकि वाराणसी के स्टॉल पर सिल्क के प्रोडक्ट उपलब्ध है.

धार्मिक और सांस्कृतिक दूरिज्म का योगदान
उत्तर प्रदेश के विकास को लेकर के धार्मिक और सांस्कृतिक टूरिज्म का विशेष योगदान माना जा रहा है. अयोध्या का जिस तरह से एक अंतरराष्ट्रीय केंद्र की तरह विकास किया जा रहा है और इसमें सांस्कृतिक धरोहर की छाप बनाई जा रही है. इसके कारण दावा किया जा रहा है कि आने वाले दिनों में अयोध्या विश्व के मानचित्र में एक बड़ा धार्मिक और सांस्कृतिक केंद्र बंद करके उतरेगा. इसके साथ ही साथ जिस तरह से काशी का विकास किया जा रहा है वह भी प्रदेश में टूरिज्म को और बढ़ावा देगा. उत्तर प्रदेश में रामायण सर्किट के साथ-साथ बुद्ध सर्किट का विकास भी इसी दिशा में उठाया जाने वाला एक पहल है. गौरतलब है कि, शुरुआत के 5 दिन व्यापारियों के लिए यह मेला रखा गया है. जबकि 19 नवंबर से आम लोगों को इसमें प्रवेश मिल सकेगा.

Tags: Bjp government, CM Yogi, Confederation of All India Traders, Delhi news, Piyush goyal, UP news, Yogi government

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर