बाढ़ प्रभावित राज्यों से बोले रामविलास पासवान- लोगों को राशन की हो ‘डोर स्टेप डिलिवरी’
Patna News in Hindi

बाढ़ प्रभावित राज्यों से बोले रामविलास पासवान- लोगों को राशन की हो ‘डोर स्टेप डिलिवरी’
केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने कहा कि बाढ़ प्रभावित राज्य अपने लोगों को अनाज की डोर स्टेप डिलिवरी कराएं (फाइल फोटो)

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि देश के कई राज्यों में बाढ़ और भारी बारिश के कारण भयावह स्थिति है. इसलिए, उन राज्यों की सरकारें, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कानून (NFSA) और प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (PMGKAY) के तहतराशन की डोर स्टेप डिलिवरी (Door Step Delivery) की करें

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 11, 2020, 7:10 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय खाद्य, आपूर्ति और उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान (Ram Vilas Paswan) ने बाढ़ प्रभावित राज्यों में ठीक से राशन वितरण को लेकर चिंता जताई है. पासवान ने बिहार (Bihar) समेत बाढ़ प्रभावित सभी राज्यों (Flood Affected States) में राशन का वितरण लोगों के घरों तक कराने के लिए प्रदेश सरकारों से आग्रह किया है. केंद्रीय मंत्री ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा है कि देश के कई राज्यों में बाढ़ और भारी बारिश के कारण भयावह स्थिति है. लोग गांव छोड़ कर सुरक्षित आसरे की तलाश में दूसरी जगह शरण ले रहे हैं. उन्होंने कहा है कि बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए राशन की दुकान से अनाज लेना संभव नहीं हो रहा है. इसलिए, उन राज्यों की सरकारें, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कानून (NFSA) और प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (PMGKAY) के तहत, जो राशन दुकान से राशन नहीं ले पा रहे हैं, उन लोगों के लिए राशन की डोर स्टेप डिलिवरी (Door Step Delivery) की करे.



बता दें कि पिछले जुलाई महीने में बिहार में सरकारी दुकानों से अनाज का वितरण 62 प्रतिशत ही रहा था. ऐसे में अब केंद्र सरकार की तरफ से सभी लाभार्थियों तक वितरण की व्यवस्था करने के लिए राज्य सरकारों को कहा जा रहा है. केंद्र सरकार के पास अनाज का पर्याप्त भंडार है, लिहाजा सरकार की तरफ से कई मौकों पर यह कहा जाता रहा है कि राज्य सरकारें चाहें तो अगले छह महीने तक का भी अनाज ले सकती हैं. केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान भी मानते हैं कि बाढ़ प्रभावित लोगों को अगर एक साथ दो-तीन महीने का राशन दे दिया जाए तो उन्हें फायदा होगा. पिछले महीने हुई राशन वितरण में कमी के बाद उनकी तरफ से राज्य सरकारों को निर्देशित भी किया गया है.
embankment destroyed in bihar, Floods in Bihar, disaster management, dam management, dam disaster, Dam failure, nitish kumar, बिहार में टूटा तटबंध, तटबंध से बाढ़, आपदा प्रबंधन, बांध प्रबंधन, बांध से आपदा, बांध की विफलता, नीतीश कुमार, हिमांशु ठक्कर, floods in Assam, असम में बाढ़, नदी, river
असम और बिहार समेत देश के अन्य राज्यों में बाढ़ की स्थिति भयावह है. बाढ़ से अब तक लाखों की आबादी प्रभावित हुई है (फाइल फोटो)




अनाज के भंडारण के लिए रेलवे से हो रही है बात 

उधर, केंद्र सरकार की तरफ से अनाज के भंडारण को लेकर और कई उपायों पर गौर किया जा रहा है. इसी सिलसिले में रेल मंत्री पीयूष गोयल और रेल मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ केंद्रीय खाद्य, आपूर्ति और उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान की वर्चुअल मीटिंग हुई. इस बैठक में खाद्य मंत्रालय के भंडारण संस्थानों द्वारा रेलवे जमीन पर संयुक्त रूप से भंडारण गृह बनाने की योजना पर चर्चा हुई. केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने इस मुद्दे पर ट्वीट कर कहा कि इस योजना के पूरा हो जाने से हमारी भंडारण क्षमता में काफी बढ़ोतरी होगी और अनाज का एक दाना भी बर्बाद नहीं होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज