Home /News /delhi-ncr /

केन्‍द्रीय मंत्री पहुंचे नेशनल वार मेमोरियल और स्‍टूडेंट्स के लिए दिया खास संदेश

केन्‍द्रीय मंत्री पहुंचे नेशनल वार मेमोरियल और स्‍टूडेंट्स के लिए दिया खास संदेश

केंद्रीय पर्यटन, संस्कृति मंत्री जी. किशन रेड्डी आज नेशनल वार मेमोरियल पहुंचे.

केंद्रीय पर्यटन, संस्कृति मंत्री जी. किशन रेड्डी आज नेशनल वार मेमोरियल पहुंचे.

National War Memorial News: केंद्रीय पर्यटन, संस्कृति मंत्री मंगलवार को नेशनल वार मेमोरियल पहुंचे और वहां रिट्रीट समारोह में भाग लिया. उन्‍होंने राष्ट्र के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले शहीदों को श्रद्धांजलि दी. रेड्डी ने स्मारक में नेक्स्ट ऑफ परिजन समारोह भी देखा. उन्‍होंने ने युवाओं से वार मेमोरियल जाने की अपील भी की.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्‍ली. केंद्रीय पर्यटन, संस्कृति मंत्री (Union Tourism Culture Minister) जी. किशन रेड्डी (G Kishan Reddy) आज नेशनल वार मेमोरियल (National War Memorial) पहुंचे और रिट्रीट समारोह में भाग लिया. इस दौरान उन्‍होंने राष्ट्र के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले शहीदों को श्रद्धांजलि दी. रेड्डी ने स्मारक में नेक्स्ट ऑफ परिजन समारोह भी देखा, जो हर शाम सूर्यास्त से पहले आयोजित किया जाता है. उन्‍होंने ने युवाओं से वार मेमोरियल जाने की अपील भी की.

    केंद्रीय मंत्री ने सभी से विशेष रूप से युवाओं से कर्तव्य के दौरान शहीद हुए वीर जवानों की स्मृति में बने वार मेमोरियल पर जाने की अपील की. रेड्डी ने आग्रह किया कि सभी राज्यों और विश्वविद्यालयों के छात्रों को राष्ट्रीय युद्ध स्मारक का दौरा करना चाहिए, जो हर किसी में देशभक्ति का जोश भरता है. नेशनल वार म्‍यूजियम अपने सशस्त्र बलों के लिए एक राष्ट्र की कृतज्ञता का प्रतिनिधित्व करता है.

    स्मारक हमारे नागरिकों में अपनेपन, उच्च नैतिक मूल्यों, बलिदान और राष्ट्रीय गौरव की भावना को मजबूत करने में मदद करता है. यह स्वतंत्रता के बाद से विभिन्न संघर्षों, संयुक्त राष्ट्र संचालन, मानवीय सहायता और आपदा अभियानों के दौरान हमारे सैनिकों द्वारा किए गए बलिदान का प्रमाण है. 2019 में अपने उद्घाटन के बाद से दिल्ली आने वाले नागरिकों और पर्यटकों के बीच बहुत लोकप्रिय हो गया है.

    वार मेमोरियल पर एक नजर

    इंडिया गेट पर करीब 40 एकड़ में 176 करोड़ की लागत से वॉर मेमोरियल तैयार हुआ है. यहां स्मारकों के साथ संग्रहालय भी बनाया गया है. दोनों के बीच एक सब-वे भी रखा है. इसके अलावा नेशनल वॉर मेमोरियल में दीवारों पर 25,942 शहीदों के नाम भी लिखे गए हैं.

    एप पहुंचाएगा शहीदों के स्‍मारक तक

    नेशनल वॉर मेमोरियल काफी बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है. इसलिए एक सुविधा फोन एप की भी रखी गई है. इस एप के जरिए शहीद का नाम टाइप करने पर उसका स्मारक कहां पर है, उसकी लोकेशन आपके फोन में पता चलेगी. ये सुविधा उन लोगों के लिए खास रहेगी, जिनके गांव या जिले के सैनिक इन युद्धों में शहीद हुए थे. एप में शामिल सुविधाओं में देश भर के आगंतुकों के लिए आसान समझ की सुविधा के लिए 21 क्षेत्रीय भाषाओं में बहुभाषी बातचीत, विशेष रूप से विकलांग व्यक्तियों के लिए सुविधाएं, स्थान और लाइव मोबाइल मैपिंग के लिए 166 ब्लूटूथ शामिल है. वर्चुअल टूर गाइड के साथ, 21 भाषाओं में ऑडियो कमेंट्री, विभिन्न युद्धों / युद्धों, परम वीर चक्र पुरस्कार विजेताओं और स्मारक के भीतर निर्देशित मार्गों के बारे में जानकारी प्रदान की जाएगी.,

    दीवारों पर दिखेगी युद्ध की कलाकृतियां
    मेमोरियल में कुछ दीवारों पर कुछ पुरानी तस्वीरें लगाई गई हैं. वहीं कुछ दीवारों पर युद्ध की कलाकृतियां देखने को मिलेंगी. सियाचिन सहित कारगिल के दौरान टाइगर हिल पर कब्जा इत्यादि लम्हें कैद करने वाली तस्वीरें भी देखने को मिलेंगी.

    Tags: Tourism minister

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर