Home /News /delhi-ncr /

unitech builder is biggest defaulter of noida authority will take over land if dues are not paid matter reached sc ssp

नोएडा का सबसे बड़ा बकायेदार है यूनिटेक बिल्डर, इस वजह से सुप्रीम कोर्ट पहुंचा विकास प्राधिकरण

नोएडा प्राधिकरण ने यूनिटेक बिल्डर को साल 2006 से 2011 के बीच 5 भूखंड आवंटित किए थे, लेकिन बिल्डर ने उस समय न्यूनतम राशि ही अथॉरिटी में जमा कराई थी.

नोएडा प्राधिकरण ने यूनिटेक बिल्डर को साल 2006 से 2011 के बीच 5 भूखंड आवंटित किए थे, लेकिन बिल्डर ने उस समय न्यूनतम राशि ही अथॉरिटी में जमा कराई थी.

Noida News: नोएडा प्राधिकरण ने यूनिटेक बिल्डर को साल 2006 से 2011 के बीच 5 भूखंड आवंटित किए थे. बिल्डर ने सिर्फ न्यूनतम राशि ही अथॉरिटी में जमा कराई. इसके बाद बिल्डर ने अथॉरिटी में कोई भी किस्त जमा नहीं की है. अब ब्याज समेत हजारों करोड़ रुपये बिल्डर पर बकाया हो गया है. प्राधिकरण अब यूनिटेक बिल्डर के खाली पड़े प्लॉट को टेकओवर करना चाहती है और इसके लिए उसने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा भी दाखिल किया है.

अधिक पढ़ें ...
  • News18.com
  • Last Updated :

नोएडा. नोएडा विकास प्राधिकरण का सबसे बड़ा बकाएदर यूनीटेक बिल्डर है. यूनीटेक बिल्डर का अथॉरिटी पर 9,678 करोड़ रुपये बकाया है. साल 2006 से 2011 के बीच में यूनीटेक बिल्डर को 5 भूखंड आवंटित किए गए थे. बिल्डर ने सिर्फ न्यूनतम राशि ही अथॉरिटी में जमा कराई. इसके बाद बिल्डर ने अथॉरिटी में कोई भी किस्त जमा नहीं की है.

नोएडा प्राधिकरण अब यूनिटेक बिल्डर के खाली पड़े प्लॉट को लेना चाहती है और इसके लिए उसने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा भी दाखिल किया है. आपको बता दें सेक्टर 144 में ग्रुप हाउसिंग के 3-ए और 3-बी प्लॉट खाली पड़े हुए हैं, जिसमें कोई भी निर्माण कार्य अब तक यूनिटेक की तरफ से नहीं किया गया है. अब जल्द ही इस मामले में अगली सुनवाई होनी है. इस प्रस्ताव को नोएडा प्राधिकरण ने अपनी 204वीं बोर्ड बैठक में भी रखा था.

9600 करोड़ से ज्यादा का बकायेदार यूनीटेक

यूनिटेक बिल्डर को प्राधिकरण ने पांच भूखंड आवंटित किए. इसमे सेक्टर-96, 97 और 98 में 14 लाख 7 हजार वर्गमीटर का भूखंड आवंटित किया गया. जिसकी लागत 1622 करोड़ थी. जिसमें से बिल्डर ने 435 करोड़ जमा किए गए. अब ब्याज समेत वर्तमान में 6458 करोड़ रुपए बिल्डर पर बकाया है. इसी तरह सेक्टर-113 में ग्रुप हाउसिंग प्लाट नंबर-1 एक लाख 43 हजार 109 वर्गमीटर आंवटित किया गया. इसकी कीमत 249 करोड़. बिल्डर ने 151 करोड़ रुपए जमा किए और ब्याज समेत अब 1103 करोड़ रुपए बकाया हो गया.

इसी तरह सेक्टर-117 में ग्रुप हाउसिंग दो लाख 61 हजार 612 वर्गमीटर जमीन अलाट की गई. सेक्टर-144 में ग्रुप हाउसिंग 3 ए, 30 हजार 247 और 3 बी अलाॅट किया गया. इन सभी भूखंडों को मिलाकर कुल 9678 करोड़ रुपए बकाया हो गया.

SC पहुंचा विकास प्राधिकरण

प्राधिकरण ने सर्वोच्य न्यायालय में याचिका दायर की है कि सेक्टर-144 में 3-ए और 3-बी भूखंड पर निर्माण नहीं है. ये दोनों ही भूखंड खाली हैं. प्रोजेक्ट सेटेलमेंट पालिसी (PSP) का समय भी पूरा हो गया है. ऐसे में साथ ही ब्याज भी लगातार बढ़ता जा रहा है. दोनों भूखंडो में GH 3-ए के लिए यूनिटक के देय राशि 169 और GH 3-बी की 120 करोड़ रुपए है. इस मामले में 20 अप्रैल को अगली सुनवाई होनी प्रस्तावित हैं.

Tags: Delhi-NCR News, Greater Noida Development Authority, Noida Authority, Noida news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर