• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • Unlock 1.0: छूट मिलते ही दिल्‍ली के मंदिरों में जुटे भक्‍त, लेकिन माननी होगी यह शर्त

Unlock 1.0: छूट मिलते ही दिल्‍ली के मंदिरों में जुटे भक्‍त, लेकिन माननी होगी यह शर्त

सोमवार को दिल्ली स्थित कालकाजी मंदिर (Kalka Ji Temple) में भक्तों ने मातारानी के दर्शन किए.

सोमवार को दिल्ली स्थित कालकाजी मंदिर (Kalka Ji Temple) में भक्तों ने मातारानी के दर्शन किए.

नई गाइडलान्स (New Guidelines) के अनुसार, भक्त मंदिरों में दर्शन तो कर पाएंंगे, लेकिन प्रतिमा का स्पर्श नहीं कर सकेंगे.

  • Share this:
    नई दिल्ली. अनलॉक 1.0 (Unlock 1.0) में छूट मिलते ही मंदिरों में पूजा करने के लिए श्रद्धालुओं का आना शुरू हो गया है. सोमवार को दिल्ली स्थित कालकाजी मंदिर (Kalka Ji Temple) में भक्तों ने मातारानी के दर्शन किए. इस दौरान लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distanceing) का पालन किया. लोग लाइन में दूरी बनाकर खड़े थे. खास बात यह है कि नई गाइडलान्स के अनुसार, भक्त मातारानी के दर्शन तो कर पाए, लेकिन उनकी मूर्ति का स्पर्श नहीं कर सकेंगे.

    वहीं, राष्ट्रीय राजधानी के चांदनी चौक स्थित गौरी शंकर मंदिर में भी आज सुबह से भगवान शंकर के दर्शन करने के लिए भक्तों के आने का सिलसिला जारी है. सुबह होते ही मंदिर के मुख्य द्वार पर पूजा करने के लिए श्रद्धालु पहुंच गए. इस दौरान लोगों के चेहरे पर खुशियां देखने को मिल रही थी, क्योंकि करीब ढ़ाई महीने के बाद लोगों को मंदिर में जाकर अपने आराध्य की पूजा करने का मौका मिला है.



    भक्त भगवान की मूर्ति का स्पर्शन नहीं कर पाए
    खास बात यह है कि गौरी शंकर मंदिर में भी भक्त भगवान की मूर्ति का स्पर्शन नहीं कर पाए, क्योंकि नई गाइडलाइन्स के तहत मंदिर खोलने और उसमें सिर्फ पूजा करने की अनुमति दी गई है. लेकिन नजदीक से प्रतिका का स्पर्श पर प्रतिबंध लगा हुआ है. क्योंकि इससे संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है.



    शॉपिंग मॉल्‍स, रेस्‍टोरेंट भी खुले
    बता दें कि रविवार को मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने घोषणा की थी कि 8 जून से देश की राजधानी दिल्‍ली में शॉपिंग मॉल्‍स, रेस्‍टोरेंट और मंदिर आमलोगों के लिए खोल दिए जाएंगे. लेकिन, होटल और बैंक्‍वेट हॉल पूर्व की तरह ही बंद रहेंगे. उन्‍हें नहीं खोला जाएगा. इसके साथ ही केजरीवाल ने कहा कि दिल्‍ली सरकार के अधीन आने वाले अस्‍पतालों में सभी बेड दिल्‍ली के निवासियों के लिए सुरक्षित रहेंगे, जबकि केंद्र के अंतर्गत आने वाले हॉस्पिटल्‍स दिल्‍ली के बाहर वालों के लिए भी होंगे.

    ये भी पढ़ें- 

    कल से खुलेंगे मॉल-मंदिर और बॉर्डर, यहां जानें आपको कितनी मिलेगी राहत

    फिर बंद हो सकती है शाहीन बाग-कालिंदी कुंज रोड, Delhi Police को लिखा पत्र

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज