Unlock 1.0: दिल्ली में शॉपिंग मॉल्स और बाजार रात 9 बजे तक खोलने की तैयारी, यहां भी छूट मिलने की संभावना!

दिल्ली के बाजार में सोशल डिस्टेंसिंग की तैयारी
दिल्ली के बाजार में सोशल डिस्टेंसिंग की तैयारी

दिल्ली सरकार केंद्र द्वारा जारी गाइडलाइंस के अनुसार शॉपिंग मॉल्स (Shopping Malls) खोलने और बाजारों (Markets) की टाइमिंग बढ़ाने की तैयारी कर रही है.

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली सरकार केंद्र द्वारा जारी गाइडलाइंस के अनुसार शॉपिंग मॉल्स (Shopping Malls) खोलने और बाजारों (Markets) की टाइमिंग बढ़ाने की तैयारी कर रही है. केजरीवाल सरकार (Kejriwal Government) अनलॉक- 1 को लेकर 1 जून को डिटेल प्लान जारी कर सकती है. केंद्र ने पहले चरण में 8 जून से शॉपिंग मॉल्स, होटल और रेस्टोरेंट खोलने की इजाजत दी है. दिल्ली सरकार के नए दिशा-निर्देश भी 8 जून से ही लागू होंगे, लेकिन दिल्ली में सैलून इससे पहले भी खोलने का आदेश जारी किया जा सकता है. दिल्ली के पड़ोसी राज्य हरियाणा में भी 8 जून से धर्मस्थल, होटल, रेस्टोरेंट, शॉपिंग मॉल्स खोलने की पूरी तैयारी चल रही है. केंद्र की ओर से पहले ही सैलून को लेकर फैसला करने का अधिकार राज्य सरकारों को दिया गया है, लेकिन दिल्ली सरकार ने अब तक सैलून खोलने की इजाजत नहीं दी है. अब संभव है कि सरकार सैलून खोलने की इजाजत दे सकती है.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली सरकार सैलून खोलने की इजाजत तो दे सकती है, लेकिन यह आदेश आने के बाद ही साफ होगा कि बड़े सैलून और सोयासटीज व मोहल्ले में चलने वाली दुकानों को लेकर क्या नियम होंगे? सरकार के एक सीनियर अधिकारी का कहना है कि बडे़ सैलून में तो सोशल डिस्टेंसिंग के नियम को लागू करने में परेशानी नहीं होगी लेकिन छोटी दुकानों को लेकर सरकार यह देख रही है कि वहां पर सोशल डिस्टेंसिंग के नियम को कैसे लागू किया जाए और वहां पर लोगों की सुरक्षा को लेकर क्या नियम बनाए जाएं? अगर सैलून खोलने की इजाजत होती है तो दिल्ली सरकार का आदेश आते ही सैलून खुल सकेंगे. इसके अलावा बाजारों में लागू किए गए ऑड-ईवन सिस्टम को हटाने की व्यापारियों की मांग पर भी सरकार विचार कर रही है.

ऑड-ईवन हटाने पर विचार कर रही है सरकार



व्यापारियों के संगठन सीटीआई ने दिल्ली सरकार से मांग की है कि बाजारों में ऑड-ईवन के आधार पर दुकानें खोलने के नियम को खत्म किया जाए. दिल्ली के 100 से ज्यादा व्यापारिक संगठनों का कहना है कि बाजार में सभी दुकानें खुलनी चाहिए क्योंकि 15 दिन दुकानें खोलने से कोई फायदा नहीं है. बहुत सारी दुकानें किराए पर हैं और किराया देना भी मुश्किल हो रहा है. व्यापारियों का कहना है कि किराया और स्टाफ की सैलरी तो पूरे महीने की देनी पड़ती है. सरकार व्यापारियों की इस मांग पर विचार कर रही है.
ऑटो और टैक्सी में पूरी फैमिली कर सकेगी सफर

दिल्ली सरकार ने लॉकडाउन- 4 की गाइडलाइंस में शहर में पब्लिक ट्रांसपोर्ट शुरू करने की इजाजत दे दी थी लेकिन कुछ शर्तें भी लगाई थीं. जैसे बस में 20 यात्री से ज्यादा सफर नहीं करेंगे, वहीं ऑटो रिक्शा, ई रिक्शा, साइकिल रिक्शा में केवल एक 1 पैसेंजर के जाने का ही नियम था. टैक्सी-कैब में 2 पैसेंजर्स की सवारी करने का नियम तय किया था. सूत्र बता रहे हैं कि बस में तो 20 यात्री का नियम जारी रहेगा, लेकिन ऑटो-टैक्सी को लेकर कुछ बदलाव हो सकते हैं. दरअसल एक फैमिली में अगर तीन लोग हैं तो मौजूदा नियमों के मुताबिक वे एक ऑटो में नहीं जा सकते, जबकि वे एक परिवार के सदस्य है. ऑटो वाले भी यह मांग कर रहे हैं कि अगर एक परिवार में पति-पत्नी को अपने एक बच्चे के साथ जाना है तो क्या वे दो या तीन ऑटो करेंगे? ऐसे में अब नए दिशा- निर्देश में हो सकता है कि ऑटो में एक परिवार के सदस्यों को जाने की इजाजत मिल जाए. इसी तरह टैक्सी में भी एक परिवार के सदस्य जा सकते हैं. दिल्ली सरकार की गाइडलाइंस आने के बाद ही यह तय होगा कि क्या ऑटो-टैक्सी में सवारी ले जाने के नियम में कुछ बदलाव होगा.

8 जून से शॉपिंग मॉल्स भी खुलेंगे

दिल्ली में बाजारों के बाद अब 8 जून से शॉपिंग मॉल्स भी खुल सकेंगे. बाजारों के खुलने की अवधि बढ़ाई जा सकती है. दिल्ली सरकार ने केंद्र के सामने शॉपिंग मॉल्स खोलने और बाजारों को रात 9 बजे तक खोलने की इजाजत देने का प्रस्ताव रखा था और केंद्र ने अपनी गाइडलाइंस में इसे शामिल किया है. शॉपिंग मॉल्स में सभी दुकानें खुलेंगी या फिर कुछ बंदिश होगी, इस पर सरकार अपने आदेश में स्थिति साफ करेगी. केंद्र ने नाइट कर्फ्यू रात 9 से सुबह 5 बजे तक तय किया है. दिल्ली सरकार ने केंद्र से मांग की थी कि सुबह 5 से रात 9 बजे तक लोगों के आने- जाने की इजाजत दी जाए और इस मांग को मान लिया गया है. सुबह 5 से रात 9 बजे तक लॉकडाउन में छूट दे दी गई है. अब बाजार भी देर शाम तक खुल सकते हैं. अब ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट को बसों को देर शाम तक चलाना होगा. रात को भी बस सर्विस बढ़ानी होगी ताकि रात में आने और जाने वालों को आसानी हो.

ये भी पढ़ें: Unlock 1.0 : नोएडा-दिल्ली बॉर्डर रहेगा सील, लेकिन गाजियाबाद में लिमिटेड एंट्री

बड़ी खबर: खुलेगा दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर, बिना पास के आवाजाही हो सकेगी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज