होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /

उत्‍तर प्रदेश सरकार ने दिल्‍ली बॉर्डर पर लांच की सिंगल स्‍टोरी भवनों की योजना

उत्‍तर प्रदेश सरकार ने दिल्‍ली बॉर्डर पर लांच की सिंगल स्‍टोरी भवनों की योजना

मंडोला विहार में पहले ही बन चुके हैं 5000 फ्लैट.

मंडोला विहार में पहले ही बन चुके हैं 5000 फ्लैट.

अगर दिल्‍ली या एनसीआर में रहते हैं और अभी तक आपका अपना घर नहीं हो पाया है, तो आपके पास एक सुनहरा मौका है. उत्‍तर प्रदेश सरकार की आवासीय संस्‍था आवास विकास परिषद ने दिल्‍ली बॉर्डर पर भवनों की योजना लांच की है. खास बात ये भवन सिंगल स्‍टोरी होंगे, यानी भवन के साथ छत भी आपकी होगी.

अधिक पढ़ें ...

गाजियाबाद. अगर आप दिल्‍ली या एनसीआर (Delhi-NCR) में रहते हैं और अभी तक आपका अपना घर नहीं हो पाया है, तो आपके पास एक सुनहरा मौका है. उत्‍तर प्रदेश सरकार की आवासीय संस्‍था आवास विकास परिषद (Avas Vikas Parishad) ने दिल्‍ली बॉर्डर पर भवनों की योजना लांच की है. खास बात ये भवन सिंगल स्‍टोरी (Single Story) होंगे, यानी छत भी आपकी अपनी होगी. भवनों के लिए आवेदन 15 अक्‍तूबर तक किया जा सकते हैं.

आवास विकास परिषद उत्‍तर प्रदेश ने दिल्‍ली बॉर्डर के मंडोला विहार (Mandola Vihar) में 132 भवनों की योजना लांच की है. इसमें चार श्रेणी के भवन होंगे, जिसमें एलआईजी और एमआईजी की दो-दो श्रेणी हैं. योजना के तहत भवन सेक्‍टर 6 यानी दिल्‍ली सहारनपुर हाईवे बनेंगे. भवन सेमीफिनिश्‍ड होंगे. ऑनलाइन आवेदन भी किए जा सकते हैं. भवनों का भौतिक कब्‍जा 31 दिसंबर 2023 तक दिया जाएगा.

दिल्‍ली से महज चार किमी. की दूरी पर

सोनिया विहार बॉर्डर से केवल चार किमी की दूरी में आवास विकास परिषद उत्‍तर प्रदेश की सबसे बड़ी योजना है. यहां पर‍ परिषद के पास करीब 2700 एकड़ जमीन है. इस योजना में करीब 5000 फ्लैट बन चुके हैं. दिल्‍ली सहारनपुर हाइवे (Delhi Saharanpur Highway) पर होने की वजह से परिषद अब इस योजना को प्राथमिकता के आधार पर विकसित कर रहा है. परिषद मुख्‍यालय लखनऊ के अधिकारियों के अनुसार, इस योजना में और भी कई बड़े प्रोजेक्‍ट भविष्‍य में लॉन्‍च किए जाएंगे.

ये भी पढ़ें: गाजियाबाद में सर्किल रेट बढ़ने के बाद इन 10 इलाकों की होगी सबसे महंगी प्रॉपर्टी

मुख्‍य मार्ग पर होगी यह योजना

आवास विकास परिषद की यह योजना मुख्‍य मार्ग से बिल्‍कुल करीब होगी. दिल्‍ली सहारनपुर हाइवे से इनकी दूरी केवल आधा किलोमीटर होगी. यह योजना सेक्‍टर-6 में लॉन्‍च की जा रही है. यानी परिषद कार्यालय के सामने भवन बनेंगे, जिससे लोगों को मुख्‍य मार्ग पहुंचने में परेशानी न हो.

ऑनलाइन आवेदन 

ऑनलाइन आवेदन http://www.upavp.in भी किया जा सकता है. इसके अलावा वेबसाइट पर संपर्क कर अन्‍य जानकारी ली जा सकती है. वहीं जरूरत पड़ने पर 9999234987 पर संपर्क किया जा सकता है.

चार श्रेणी के भवन

एलआईजी 54 और 33 व एमआईजी 28 व 17 भवन बनाए जाएंगे. इनका क्षेत्रफल 60.59 वर्गमीटर, 75 वर्गमीटर, 112.5 वर्गमीटर और 162 वर्गमीटर तथा कवर्ड एरिया 34.94 वर्गमीटर, 35.93 वर्गमीटर, 66.80 वर्गमीटर और 95.53 वर्गमीटर होगा.

अनुमानित कीमत, रुपये लाख में

एलआईजी भवनों की अनुमानित कीमत 22.4 लाख व 25.9 लाख तथा एमआईजी 41.1 लाख व 58.35 लाख रुपये होगी.

Tags: Own flat, Real estate, Uttar pradesh news

अगली ख़बर