शाहीन बाग में PFI के दफ्तर पर छापा, CAA और हाथरस केस मामले में यूपी STF की कार्रवाई

यूपी एसटीएफ ने पीएफआई के ठिकानों पर मारा छापा.

यूपी एसटीएफ ने पीएफआई के ठिकानों पर मारा छापा.

UP STF Raid: हाथरस में दंगा भड़काने और CAA-NRC के खिलाफ प्रदर्शन में हिंसा फैलाने के आरोप में रउफ शरीफ से पूछताछ के बाद यूपी STF की टीम ने यह कार्रवाई की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 21, 2021, 2:37 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. सीएए-एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान हिंसा फैलाने और हाथरस में दंगा भड़काने के मामले को लेकर यूपी एसटीएफ की टीम ने आज दिल्ली में पीएफआई के दफ्तर पर छापेमारी की. दिल्ली के शाहीन बाग स्थित PFI के दफ्तर यूपी एसटीएफ ने छापा मारा है. हाथरस में दंगा भड़काने और CAA-NRC के खिलाफ प्रदर्शन में हिंसा फैलाने के आरोप में रउफ शरीफ से पूछताछ के बाद STF ने यह कार्रवाई की है. एसटीएफ की छापेमारी की कार्रवाई पीएफआई के कई ठिकानों पर हो रही है. यूपी STF की टीम PFI स्टूडेंट विंग के रउफ शरीफ को केरला से प्रॉडक्शन वारंट पर लेकर आई है.

शाहीन बाग PFI के दफ्तर पर घंटों तक चली छापेमारी की कार्रवाई कुछ देर पहले ही खत्म हुई है. छापेमारी की कार्रवाई में STF के 20 लोगों की टीम शामिल थी. बता दें कि रउफ शरीफ PFI के स्टूडेंट विंग CFI का जनरल सेक्रेटरी है. वह कोच्चि की जेल में बंद था, जहां से उसे एसटीएफ की टीम ट्रांजिट रिमांड पर लेकर आई है. गौरतलब है कि हाथरस गैंगरेप केस के बाद मथुरा जा रहे 4 लोगों को यूपी पुलिस ने गिरफ्तार किया था. इसको लेकर मथुरा में UAPA के तहत केस दर्ज हुआ था. पुलिस की ओर से कहा गया था कि मथुरा जाते समय गिरफ्तार 4 लोगों से पूछताछ में खुलासा हुआ कि हाथरस में दंगा फैलाने की साजिश थी.

इसी क्रम में केरल की जेल में बंद रउफ शरीफ का नाम सामने आया था. एसटीएफ की टीम रउफ शरीफ से हाथरस में दंगे की साजिश और फंडिंग के बारे में पूछताछ कर रही है. रउफ शरीफ के खिलाफ ED ने भी कुछ दिन पहले चार्जशीट दाखिल की है. यूपी एसटीएफ के मुताबिक रउफ शरीफ के ऊपर उत्तर प्रदेश में नागरिकता संशोधित कानून और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर के खिलाफ प्रदर्शनों में भी फंडिंग करने का आरोप है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज